गणेश जी सभी देवी देवताओ में सर्वप्रथम पूज्यनीय माने जाते है. गणेश जी की स्थापना सभी जगह होती है घर, दुकान या ऑफिस इनकी मूर्ति सभी जगह स्थापित की जाती है. माना जाता है की गणेश जी वास्तु विनाशक है यदि इनकी मूर्ति की स्थापना करते समय कुछ बातो को ध्यान रखे तो सभी वास्तु दोष ख़त्म हो जाते है.
चक्र वास्तु गणेश अवतार
चक्र वास्तु गणेश अवतार

आइये जाने गणेश स्थापना सम्बंधित कुछ रोचक जानकारी :-

स्थान के अनुसार मूर्ति स्थापना

मूर्ति स्थापना करते समय घर में बैठे हुए गणेश जी तथा दुकान या ऑफिस में खड़े गणेश जी की मूर्ति लगाना ही शुभ माना जाता है.

मूर्ति स्थापना करने का तरीका

गणेश जी की मूर्ति घर या ऑफिस में स्थापित करते समय उनके पैर जमीन से स्पर्श करने चाहिए इससे कामो में स्थिरता तथा सफलता आती है अर्थात काम में रुकावट नही आती है.

सिंदूरी रंग की प्रतिमा का महत्व

सिंदूरी रंग के गणपति सर्व मंगल कामना को पूर्ण करने वाले होते है इनकी आराधना करने से सभी मनोकामनाए जल्दी पूरी होती है.

मुंह दक्षिण दिशा में न हो

श्री गणेश जी की स्थापना करते समय उनका मुख दक्षिण दिशा में नही होना चाहिए यदि ऐसा होता है तो इससे घर, दुकान या ऑफिस पर बुरा प्रभाव पड़ता है अत: गणेश जी मुह दक्षिण दिशा में नही हो.

गणेश जी सूंड

ऐसे गणपति की स्थापना करनी चाहिए जिनकी सूंड बाए ओर घूमी हुई हो मान्यता के अनुसार दाए ओर घूमी हुई सूंड वाले गणेश जी हठी होते है.

घर में यहाँ स्थापित करे गणेश जी

घर में गणेश जी की स्थापना घर के ब्रह्म स्थान यानि घर के केंद्र में और पूर्व दिशा में करनी चाहिए यह बहुत ही मंगलकारी होता है. और शुभ होता है.

गणेश जी के साथ आवश्यक है ये

गणेश जी की मूर्ति की स्थापना में उनकी मूर्ति के साथ मूषक अर्थात चूहा तथा मोदक अति आवश्यक माने जाते है इनके होने से घर और ऑफिस में बरकत रहती है.

गणेश जी की सफ़ेद प्रतिमा

गणेश जी की सफ़ेद रंग की मूर्ति सुख-शांति और समृधि की धोतक होती है अतः सुख-शांति के लिए सफ़ेद रंग की मूर्ति स्थापित करनी चाहिए.
http://dilsedeshi.com/wp-content/uploads/2016/09/shreeganesh-sthapna-important-information-1024x600.jpghttp://dilsedeshi.com/wp-content/uploads/2016/09/shreeganesh-sthapna-important-information-150x150.jpgदिल से देशीताज़ा अपडेटगणेश जी सभी देवी देवताओ में सर्वप्रथम पूज्यनीय माने जाते है. गणेश जी की स्थापना सभी जगह होती है घर, दुकान या ऑफिस इनकी मूर्ति सभी जगह स्थापित की जाती है. माना जाता है की गणेश जी वास्तु विनाशक है यदि इनकी मूर्ति की स्थापना करते समय कुछ बातो...राष्ट्र सर्वोपरि