राकेश झुनझुनवाला की प्रेरणादाई कहानी | Rakesh Jhunjhunwala Story in hindi

शेयर बाजार के बादशाह राकेश झुनझुनवाला की जीवनी और सफलता की कहानी | Rakesh Jhunjhunwala Biography, Inspiring Successfull Life Story in Hindi

आपको बहुत सी शेयर मार्केटिंग कंपनियों के फ़ोन आते होंगे और वे आपसे शेयर मार्केट निवेश की बात करते होंगे. भारत में बहुत से लोग यह समझते हैं शेयर मार्केट में निवेश करने वाले बर्बाद हो जाते हैं. शेयर बाजार में निवेश कर पैसा कमाना मुश्किल हैं पर नामुमकिन नहीं हैं. भारत में एक ऐसा व्यक्ति हैं, जिसने सिर्फ 5000 रू निवेश करके 15000 करोड का मुनाफा कमाया हैं.

राकेश झुनझुनवाला भारतीय शेयर बाजार के बादशाह के रूप में जाने हैं, जिन्हें भारत का “वारेन बफेट” कहा जाता हैं. शेयर मार्केट के क्षेत्र में इनका नाम बड़े ही सम्मान लिया जाता हैं. इस क्षेत्र में कार्य कर रहे बहुत से लोग उन्हें अपना आदर्श और निवेशक गुरु मानते हैं.

राकेश झुनझुनवाला का जन्म 5 जुलाई 1960 को मुंबई के एक मारवाडी परिवार में हुआ था. इनके पिताजी भारत सरकार के आयकर विभाग में ऑफिसर थे और वे शेयर मार्किट में निवेश करते थे. वे अपने दोस्तों से मार्केट के विषय पर चर्चा करते रहते थे. राकेश ये सारी बातें सुनते थे और एक दिन उन्होंने अपने पिताजी से पूछा कि शेयर बाजार में भाव किस प्रकार ऊपर-नीचे होते हैं. तब उनके पिताजी ने उन्हें अखबार पड़ने की सलाह दी. यह शेयर बाजार के बारे में उनका पहला पाठ था.

rakesh jhunjhunwala story

उन्होंने सिडेनहैंम कॉलेज मुंबई से कॉमर्स विषय में स्नातक किया. उसके बाद 1985 में इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टेड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया से सीए पूर्ण किया. सीए पूरा करने के बाद उन्होंने शेयर बाजार में जाने की इच्छा अपने पिताजी को बताई. उनके पिताजी ने उनसे कहा मै तुम्हें इस काम के लिए पैसे नहीं दूंगा और तुम अपने दोस्तों से भी कोई पैसे नहीं लोगे. तुम स्वयं कमाकार अपने पैसे से व्यापार करो.

राकेश ने 1985 में शेयर बाजार में व्यवसाय शुरू किया. सबसे पहले उन्होंने पांच हजार का निवेश किया और 1986 में अपना पहला मुनाफा कमाया. उन्होंने टाटा कंपनी के 5000 शेयर 43 रू प्रति शेयर के हिसाब से खरीदे थे और उनको तीन महीने बाद 143 रू के प्रति शेयर के भाव से बेंच दिए. राकेश ने सन् 1986 से 1989 के बीच 2 से 2.5 करोड़ रू का मुनाफा कमाया.

इसके बाद इन्होने सेसा स्टारलिट कंपनी के एक करोड़ रू के चार लाख शेयर खरीदे. इसमें से ढाई लाख के शेयर 60 से 65 रू के रेट पर और एक लाख अन्य शेयर 150-175 रू के रेट पर बेचे. इस निवेश में भी उन्होंने ज्यादा मुनाफा कमाया. वर्ष 2003 में राकेश जी ने टाइटन कंपनी में निवेश किया. जिसमे उन्होंने 6 करोड़ शेयर 3 रू के भाव से खरीदे. आज 2018 में एक शेयर का भाव 876 रू है. 2014 में कंपनी में उनका निवेश 2100 करोड था और वे हर दिन 35 लाख रू प्रति घंटा कमा रहे थे.

आज राकेश एप्टेक लिमिटेड व हंगामा डिजिटल मीडिया एंटरटेनमेंट के चेयरमैन है और साथ ही 11 कंपनियों के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर का हिस्सा हैं. राकेश कहना है कि जब वे 60 साल के हो जाएँगे तब अपनी सम्पति का 25 फीसदी हिस्सा दान करेंगे. राकेश 5 जुलाई 2020 को 60 साल के होंगे. राकेश की पत्नी का नाम रेखा झुनझुनवाला है, जिनसे उनके तीन बच्चे हैं.

इसे भी पढ़े : फूटे घड़े की प्रेरणादायी कहानी

इसे भी पढ़े : शिवखेड़ा जी की प्रेरणादायक कहानियाँ

Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के कंटेंट हेड और SEO एक्सपर्ट हैं और कभी कभी इतिहास से जुडी जानकारी पर लिखना पसंद करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *