एक लड़की जो 500 साल पहले मर चुकी थी, अब मरे को जिंदा करने की क्षमता

[nextpage title=”nextpage”]हमारी दुनिया में रहस्यों की कमी नहीं है. कुछ रहस्य ऐसे हैं जिनके राज खोले जा चुके हैं लेकिन आज भी बहुत सारे रहस्य ऐसे हैं जिनके राज़ से अभी भी पर्दा फाश नहीं हो पाया है. एक ऐसा ही रहस्य है साल 1999 में मिले एक लड़की के शव का. एक अंग्रेजी वेबसाइट ने अपनी एक खबर से जो खुलासा किया है वो बेहद चौकाने वाला है. अर्जेटीना के एक ज्वालामुखी के ढेर से वैज्ञानिकों को 15 वर्षीय लडकी का शव मिला था. उस लड़की के शव पर कई सारे टेस्ट करने के बाद वैज्ञानिकों ने बताया कि यह शव लगभग 500 साल पुराना है.Girl who die 500 year before now save children life (4)

लगभग 500 साल से दफ़न उस लड़की की बॉडी को देखकर वैज्ञानिकों को यह यकीन नहीं हुआ था कि वो लड़की सैकड़ों सालों से दफ़न थी. दरअसल वैज्ञानिकों ने जब उसकी बॉडी वहाँ से निकाली तब उसकी हालात ऐसी थी कि जैसे उसकी मौत को कुछ दिन ही हुए हों. तापमान कम होने के कारण उस वक़्त तक लड़की का शरीर, बाल और त्वचा सब वैसे ही थे. साथ ही उस लड़की की बॉडी के साथ सोने-चांदी के अलावा कई कीमती कपड़े और चीज़ें भी मिली थीं.Girl who die 500 year before now save children life (4)[/nextpage]

[nextpage title=”nextpage”]शोधकर्ताओं को सबसे ज्यादा हैरानी उस वक्त हुई, जब जांच के दौरान शरीर के अंदर से खून मिला था. साथ ही साथ उसके खून में से टीबी के वैक्टीरिया भी पाए गए थे. अब इस बात की जांच चल रही है कि आखिर 500 साल बाद भी खून में टीवी के बैक्टीरिया जिंदा कैसे रह गए?Girl who die 500 year before now save children life (4)

शोधकर्ताओं का मानना है कि किसी भी ममी में इस तरह के बैक्टीरिया नहीं पाए गए थे. यह बॉडी सालों बाद भी इतनी अच्छी स्थिति में थी कि उसके बालों में अभी तक जूएं मौजूद थीं. शोधकर्ता मान रहे हैं कि यह ममी कई राज खोल सकती है.Girl who die 500 year before now save children life (4)

उसके खून के सैम्पल पर जांच की जा रही है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि वह बैक्टीरिया आज भी कैसे मौजूद है. ऐसी कई बीमारियां जिनका कोई इलाज नहीं है, शायद इसके खून में मौजूद बैक्टीरिया उसका इलाज ढूंढने में मदद कर सके.[/nextpage]