चाणक्य नीति: आचार्य के अनुसार इन्हें नींद से उठाने से पहले एक बार सोच लेना चाहिए

[nextpage title=”nextpage”]नींद हर व्यक्ति व जानवर की दिनचर्या का एक मुख्य अंग है. आचार्य चाणक्य ने नींद की हर परिस्थिति के लिए अलग-अलग नीतियां बताई हैं. यदि हमारे आसपास कोई व्यक्ति सो रहा है तो उसे जगाने से पहले चाणक्य की इस नीति का ध्यान एक बार कर लेंगे तो आप कई समस्याओं से बच सकते हैं.

आचार्य चाणक्य ने 7 प्राणी ऐसे बताए हैं, जिन्हें नींद से जगाना नहीं चाहिए अन्यथा आपका बड़ा नुकसान हो सकता है…

1. सांप
chanakya niti about slumber


यदि कहीं कोई सांप सो रहा हो तो उसे किसी परिस्थिति में छेड़ना नहीं चाहिए. सभी जानते हैं कि सांप को छेड़ने पर मृत्यु का संकट उत्पन्न हो सकता है. अत: सोते हुए सांप को बिना छेड़े ही वहां से निकल जाना चाहिए.

2. राजा या मालिक
chanakya niti about slumber
यदि कोई राजा या बड़ा अधिकारी, मंत्री या कोई वरिष्ठ सो रहा हो तो उसे जगाने का प्रयास नहीं करना चाहिए. ऐसे लोगों को जगाने पर वे नाराज हो सकते हैं. पुराने समय में तो राजा को अकारण जगाना भयंकर अपराध माना जाता था, इस अपराध का दंड बहुत भयानक होता था.

3. मूर्ख व्यक्ति
chanakya niti about slumber
यदि कोई मूर्ख व्यक्ति सो रहा है तो उसे सोने देना चाहिए. उसे जगाने का प्रयास भी नहीं करना चाहिए. यदि मूर्ख व्यक्ति जाग जाएगा तो हमारे लिए परेशानियां बढ़ सकती हैं. बुद्धिहीन व्यक्ति बेकार की बातों से हमारा समय नष्ट करता है और वे कभी-कभी बिना विचारे ही ऐसे काम कर बैठते हैं, जिनसे हमें किसी बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. जब तक ये सोते रहेंगे, तब तक हम सुखी रहेंगे.

4. कोई हिंसक पशु
chanakya niti about slumber
यदि किसी स्थान पर कोई हिंसक पशु सो रहा है तो उसे भी छेड़ने का प्रयास नहीं करना चाहिए. हिंसक पशु कभी भी इंसान पर हमला कर सकता है, जिसे संभाल पाना बहुत मुश्किल होता है.

5. छोटा बच्चा
chanakya niti about slumber
यदि कोई छोटा बच्चा सो रहा हो तो उसे भी जगाना नहीं चाहिए. छोटे बच्चे जागने के तुरंत बाद रोते हैं, जिन्हें चुप कराना सिर्फ उनकी मां के लिए ही संभव है. अन्य कोई व्यक्ति रोते हुए बच्चे को आसानी से शांत नहीं करवा सकता है. छोटे बच्चे के लिए सोना बहुत जरूरी होता है, अत: उसके स्वास्थ्य की दृष्टि से भी उसे जगाना नहीं चाहिए.

6. शेर
chanakya niti about slumber
यदि कहीं सोता हुआ शेर दिखाई दे तो उसे भी छेड़ने का प्रयास नहीं करना चाहिए. शेर इंसानों को देखते ही झपट पड़ते हैं. अत: सोते हुए शेर को जगाए बिना ही वहां से निकल जाना चाहिए.

7. पराया कुत्ता
chanakya niti about slumber
यदि हम किसी व्यक्ति के घर गए हैं और वहां कोई कुत्ता है तो उसे छेड़ना नहीं चाहिए. यदि वह सो रहा है तो उसे सोने ही दें, क्योंकि कुत्ते अजनबी लोगों को देखकर काटने का प्रयास करते हैं.

इन 6 लोगों को नींद से तुरंत उठा देना चाहिए, पढने के लिए Next पर क्लिक करें

[/nextpage]

[nextpage title=”nextpage”]
इन 6 लोगों को नींद से तुरंत जगा देना चाहिए, इन्हें जगाना बहुत जरुरी होता है…
chanakya niti about slumber
1. भूखा व्यक्ति

यदि कोई व्यक्ति भूखा है तो उसे जगा देना चाहिए और उसे भोजन देना चाहिए. भूखा व्यक्ति सोता रहेगा तो उसे शारीरिक कष्ट झेलना पड़ सकते हैं, वह बीमार हो सकता है.

2. चौकीदार

किसी भण्डार गृह का रक्षक या कोई चौकीदार अपने कर्तव्य के समय सोते दिखे तो इन्हें भी तुरंत जगा देना चाहिए. भण्डार गृह का रक्षक या चौकीदार के सोने पर चोरी होने का भय बना रहता है. साथ ही, जन हानि होने की भी संभावनाएं रहती हैं.

3. डरा हुआ व्यक्ति

यदि कोई व्यक्ति नींद में डर रहा है तो उसे भी तुरंत उठा देना चाहिए ताकि उसका भयानक सपना टूट जाए और उसे शांति मिले.

4. राहगीर

यदि कोई राहगीर या यात्री रास्ते में सोता दिखाई दे तो उसे भी उठा देना चाहिए, अन्यथा उसका सामान चोरी होने का भय रहता है. यात्री को सोता देख कोई चोर उसके धन को चुरा सकता है या अन्य कोई हानि पहुंचा सकता है. यात्री सोता रहेगा तो वह अपनी यात्रा पूर्ण नहीं कर सकेगा.

5. नौकर

चाणक्य के अनुसार यदि कोई नौकर काम के समय सो रहा हो तो उसे तुरंत जगा देना चाहिए, अन्यथा कार्य पूर्ण नहीं हो सकेगा.

6. विद्यार्थी

आचार्य चाणक्य ने बताया है कि किसी भी व्यक्ति के जीवन में शिक्षा का बहुत अधिक महत्व है. इसी वजह से शिक्षा ग्रहण करते समय अधिक से अधिक समय अभ्यास ही करना चाहिए. अत: यदि कोई विद्यार्थी परीक्षा के समय सो रहा है तो उसे तुरंत उठा देना चाहिए ताकि वह अभ्यास ठीक से कर सके. विद्यार्थी सोता रहेगा तो वह परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हो सकता है.[/nextpage]

Loading...
Item added to cart.
0 items - 0.00