स्त्री व पुरुष के पेट और नाभि बताते है स्वभाव से जुडी यह सटीक और खास बातें

भारतीयों के लिए ज्योतिष एक महत्वपूर्ण हिस्सा है हर भारतीय ज्योतिष को मानता है. ज्योतिष के अंतर्गत शरीर के विभिन्न अंगो और लक्षणों को देखकर किसी का भविष्य बताने की विधि को सामुद्रिक शास्त्र कहा जाता है. ये ज्योतिष कला का अति मह्त्वपूर्ण अंग है. सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति के शरीर का सिर से लेकर पैर तक हर अंग एक विशेष प्रकार के लक्षण प्रदर्शित करता है. प्रत्येक व्यक्ति के रंग, आकर और शरीर के अंगो की बनावट से उसके व्यक्तित्व के रहस्य पता चलते है और इनके द्वारा व्यक्ति के भविष्य की जानकारी मिलती है. किसी स्त्री या पुरुष का पेट देखकर भी आसानी से पता लगाया जा सकता है की उनका व्यवहार, आचार-विचार और कार्यक्षेत्र में कैसा है.

पेट के आधार पर किसी स्त्री या पुरुष के स्वभाव की जानकारी कैसे ज्ञात करें :-

• जिन स्त्रियों का पेट अधिक ऊँचा दिखाई देता है वे जल्दी ही किसी पुरुष की ओर आकर्षित हो जाती है ये हमेशा सुन्दर दिखने का प्रयास करती है अधिकतर ऐसे पेट वाली स्त्रिया अपने पति से संतुष्ट नही होती है.

• ऐसे स्त्री या पुरुष जिनके पेट पर एक वलि(रेखा) होती है उन्हें शास्त्रों का ज्ञाता माना जाता है इस प्रकार के स्त्री-पुरुष उनके घर-परिवार और समाज में अपनी अलग पहचान बनाने में सक्षम होते है.

• स्त्रियों के पेट के बारे में कहा जाता है जिनका पेट बहुत सुन्दर दिखाई देता है, वे भाग्यशाली होती है. चिकना, पतला और सुन्दर आकार का पेट शुभ माना जाता है इन स्त्रियों को जीवन में अनेक उपलब्धिया हासिल होती है.

• ऐसी स्त्री जिनका पेट, कमर के बराबर मोटा होता है वे स्त्रिया किसी भी परिस्थिति में हार नही मानती है. ऐसी स्त्रिया कभी धन के मामले में भी समझोता नही करती है और यहाँ तक माना जाता है की ऐसी स्त्रिया अपने पति के लिए बहुत ही भाग्यशाली होती है.

• ऐसी स्त्रिया जिनके पेट का आकार ठीक नही होता है अर्थात बेडोल और सुन्दर दिखाई देता है, उन स्त्रियों को अपने जीवन में अधिकतर संघर्ष करना पड़ता है.

• ऐसा पुरुष जिसके पेट पर दो वलि(रेखा) दिखाई देती है तो ऐसा व्यक्ति स्त्री का उपभोग करने वाला होता है.

• ऐसे लोग जिनके पेट पर तीन वलि(रेखा) दिखाई पड़ती है वे लोग बहुत उच्च श्रेणी के होते है, ये विद्वान होते है तथा आचार्य पद को प्राप्त करने वाले होते है और अपने सम्पूर्ण जीवन में विशेष उपलब्धिया हासिल करते है.

• ऐसे स्त्री या पुरुष जिनके पेट पर चार वलि(रेख) दिखाई देती है इवे लोग अपने दाम्पत्य जीवन में अधिक पुत्र सन्तान की प्राप्ति होती है.

• ऐसे व्यक्ति जिनके पेट पर एक भी रेखा नही होती है वे बहुत ही खुशनसीब होते है क्योकि इनको अपने जीवन राजा के समान सुख की प्राप्ति होती है ऐसे लोग शाही अंदाज में अपना जीवन जीते है इनके पास धन वैभव की कमी नही होती है.

नाभि बताती है ये महत्वपूर्ण बातें

• नाभि का मुह के द्वारा पता लगाया जाता है की आपका भाग्य कैसा होगा. वे लोग अत्यंत भाग्यशाली होते हैं जिनकी नाभि का मुह दक्षिणावर्त यानी सीधे हाथ की ओर होता है. तथा जिनकी नाभि वामवर्त यानी बाएं हाथ की ओर मुंह वाली नाभि अशुभ मानी जाती है।

• ऐसे लोग जीवन में सभी सुख-सुविधा प्राप्त करते है जिनकी नाभि गहरी होती है अर्थात नाभि अंदर की और होती है.

• ऐसे व्यक्ति जिनकी नाभि में उभार होता है अर्थात नाभि ऊँची होती है, वे लोग अपने माता पिता के दुःख कारण बनते है. उनके कारण उनके माता-पिता को दुखो का सामना करना पड़ता है.

पेट पर तिल हो तो वे क्या दर्शाते है!!!

• ऐसे लोग जिनके पेट पर तिल होता है उन्हें स्वादिष्ट और लजीज खाना पसंद होता है वे हमेशा अलग-अलग प्रकार का खाना पसंद करते है. इनके जीवन का मुख्य उद्देश्य ही हमेशा अच्छा भोजन करना होता है.

• ऐसे व्यक्ति जिनके पेट के बिलकुल मध्य में तिल होता है वो समस्या से जल्दी घबराने वाले होते है ये डरपोक प्रवृति के हो सकते है.

• किसी व्यक्ति की पसली पर तिल होना उसके डरपोक स्वभाव की ओर इशारा करता है।

• इस बात का विशेष ध्यान रखें जब स्त्री के शरीर पर बाए ओर तिल होना शुभ माना जाता है इसी प्रकार पुरुष के शरीर पर दाए ओर तिल होना शुभ माना जाता है.

error: Content is protected !!