गेब्रिएला बर्नल की आवाज़ में पहली बार संस्कृत में रैप गीत और योग के 8 अंग

संस्कृत को बढ़ावा देने का यह आधुनिक तरीका भी कारगर साबित हो सकता है.
योग की महिमा पुरे विश्व पर छा चुकी है, अब विश्व में कोई ऐसा देश नहीं है जो योग को ना जानता हो. लन्दन की रहने वाली गेब्रिएला बर्नल शिक्षक, गायिका और संस्कृत प्रेमी है. उनकी इस प्रतिभा से जुड़े दोनों विडियो अवश्य देखे..

योग के 8 अंग
Yama: restraints
Niyama: observances
Āsana: posture
Prāṇāyāma: breath control
Pratyāhāra: withdrawal of senses
Dhāraṇā: concentration
Dhyāna: meditation
Samādhi: union

The Yamas (restraints):
Ahiṃsā (अहिंसा): Nonviolence, non-harming other living beings
Satya (सत्य): truthfulness, non-falsehood
Asteya (अस्तेय): non-stealing
Brahmacārya (ब्रह्मचर्य): chastity
Aparigraha (अपरिग्रहः): non-possessiveness

The Niyamas (observances):
Śauca: purity, clearness of mind, speech and body
Santoṣa: contentment, acceptance of others
Tapas: persistence, perseverance, austerity
Svādhyāya: study of Vedas
Īśvarapraṇidhāna: contemplation of unchanging reality

दिल से देशी

राष्ट्र सर्वोपरि