एक ऐसा अनोखा मंदिर जहाँ दिखाया जाता है मृत्यु के बाद का सच

मंदिर एक ऐसी जगह है, जहां पहुंचते ही मन को शांति मिलती सुकून मिलता है. साथ ही मंदिरों में हम अपने देवी-देवताओं के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लेते है. वैसे तो दुनियां में कई ऐसे मंदिर है जिनकी अपनी कोई खास विशेषता है कई लोगो की मनोकामना पूरी होती है तो कई लोगो के बिगड़े काम बन जाते है.लेकिन आज हम जिस मंदिर की बात कर रहे है वह नर्क मंदिर कहलाता है, यह मंदिर दक्षिण-पूर्वी एशिया के थाईलैंड की राजधानी बैंकाक से लगभग 700 किलोमीटर दूर चियांग माइ शहर में स्थित है. इस मंदिर को वैट मे कैट नोई टेम्पल भी कहा जाता है. वैसे तो लोग मंदिर में देवी-देवताओं के दर्शन के लिए आते है लेकिन इस मंदिर में लोग नरक देखने आते है.
temple in thailand
जी हां, आपने ठीक पढ़ा, इस मंदिर को नरक मंदिर कहा जाता है, इस मंदिर में मूर्तियाँ है किन्तु देवी देवताओं की नहीं अपितु यह मूर्तियाँ मृत्यु के बाद आत्मा द्वारा पापों के लिए मिलने वाली पीडाओं का दृश्य दिखाती है. यह मंदिर सनातन धर्म और बौद्ध धर्म के लोगों के लिए बना है, यहां सभ्यता और संस्कृति का काफी प्रभाव देखने को मिलता है. चियांग माइ शहर में लगभग 300 मंदिर हैं, जिनमें से यह नर्क मंदिर सिर्फ एक है ओर अनोखा है.
temple in thailand


बौद्ध भिक्षु द्वारा इस मंदिर को बनाने के मकसद लोगों को यह बताना कि पाप करने या किसी को दुख पहुंचाने का परिणाम काफी खतरनाक होता है, यहां पर बनी मूर्तियां हमे नर्क का अहसास करवाती है. साथ ही यहां बताया जाता है कि मरने के बाद आत्मा को किस तरह नर्क में कष्ट भोगने पड़ते है.
temple in thailand

यहां लोग अपने पापों का प्रायश्चित करने के लिए आते है. लोगों का मानना है कि जो यहां आकर दर्शन कर लेता है, वह अपने सभी पापों का प्रायश्चित कर लेता हैं.
error: Content is protected !!