भारतीय मुद्रा के कुछ अज्ञात पहलू | Unknown Fact of Indian Currency

भारतीय मुद्रा के कुछ अज्ञात पहलू (Unknown Fact of Indian Currency)

  1. हमेशा से एक सवाल रहा है कि भारतीय मुद्रा पर महात्मा गाँधी का फोटो कहाँ से लिया गया है? यह तस्वीर महात्मा गाँधी की लार्ड पेथिक लॉरेंस के साथ मीटिंग के समय ली गयी थी.
  2. what-sinteresting-things-do-most-indians-not-know2

  3. बीस रुपये के पीछे की और लगी तस्वीर भी एक वास्तविक जगह की है. यह तस्वीर अंदमान निकोबार के रोज आइलैंड की है.
  4. what-sinteresting-things-do-most-indians-not-know1

  5. पांच सौ रुपये के नोट पर लगी तस्वीर भी एक वास्तविक चित्र द्वारा ली गयी है. यह चित्र दक्षिण दिल्ली में मदर टेरेसा क्रिसेंट क्षेत्र का है.
  6. what-sinteresting-things-do-most-indians-not-know

  7. सुरक्षा कारणों की वजह से आपको नोट के सीरियल नंबर में I, J, O, X, Y, Z अक्षर नही मिलेंगे.
  8. 100 पैसे से 1 रूपया होता है, ये बात सन् 1957 में लागू की गई थी. पहले इसे 16 आने में बाँटा जाता था.
  9. वर्ष 2011 में भारत सरकार ने आधिकारिक रुप से 25 पैसे को रद्द कर दिया.
  10. आज जो आप रूपए का साइन देखते हो इसे बनाने वाले का नाम है उदय कुमार. 15 जुलाई 2010 में उनके इस चित्र को भारतीय मुद्रा के साइन के तौर पे मानता मिल गई.
  11. हिंदी, बंगाली समेत भारतीय नोट पर उसकी कीमत 15 भाषाओं में लिखी जाती है.
  12. हर सिक्के के नीचे एक छोटा सा निशान बना होता है और यह निशान तीन तरह के होते हैं डॉट, हिरा और सितारा. इस निशान से आप यह पता कर सकते हैं कि वह सिक्का भारत के किस शहर में बनाया गया था.

    मुंबई – हीरा [◆]
    नोएडा – डाॅट [.]
    हैदराबाद – सितारा [★]

    और जिसके के नीचे कोई भी निशान नहीं होता है वो सिक्का कोलकाता में बनाया जाता है

  13. आजादी के बाद भारत में सिक्के तांबे और एलुमिनियम के बनते थे। फिर संन 1988 से सिक्के स्टेनलेस स्टील के बनने शुरू हुए.
error: Content is protected !!