गीता पर अभिनेता ह्यू जैकमैन के विचार | Statement of Hugh Jackman in Geeta in Hindi

ह्यू जैकमैन के जीवन में गीता से आये बदलाव और विचार की जानकारी | Statement of Hugh Jackman in Geeta in Hindi

प्रसिद्ध एक्शन सीरीज x-मैन हॉलीवुड स्टार ह्यू जैकमैन इन दिनों हिन्दू धर्म और संस्कृत भाषा का अनुसरण कर रहे है. स्वयं धर्म से ईसाई होने के बावजूद वे गीता और उपनिषद में शांति के मार्ग की खोज कर रहे है.


एक अंग्रेजी अख़बार को दिए साक्षात्कार में उन्होंने कहा –

मेरे दिमाग में उठे सवालों के उत्तर के लिए मुझे चर्च ले जाया गया परन्तु वहां मुझे कुछ ही जवाब मिले, लेकिन जब मैंने वैदिक विचार और ग्रंथो को पढना शुरू किया तो मुझे मेरे सारे जवाब मिल गए और मैं पूरी तरह संतुष्ट हो गया.

सनातन धर्म से प्रभावित ह्यू जैकमैन का यहाँ तक कहना है कि –

मुझे मेरे सवालों के जवाब चर्च नहीं गीता, उपनिषदों में मिले

जैकमैन के अनुसार वो हिन्दू आदि गुरु शन्कराचार्य व महर्षि (महेश योगी) से काफी प्रभावित हैं वे बताते हैं कि जब से उन्होंने इन दोनों को पढना शुरू किया, उन्हें सनातन धर्म ग्रन्थों से लगाव होता चला गया.

Hugh Jackman Statement on Gita in Hindi

इसके बाद उन्होंने भगवद्गीता और उपनिषद को पढना शुरू किया, जिनके लिए वो कहते हैं कि उन्हें इन दोनों में अपने जीवन के सभी प्रश्नों के जवाब मिल गये.

ह्यू जैकमैन ने अपनी पत्नी के लिए सगाई की अंगूठी स्वयं डिजाइन की और उस अंगूठी में संस्कृत में “ॐ परमार मैनामर” लिखा. जिसका अर्थ है “हम अपने संबंध को महान स्रोत को समर्पित करते हैं”.

Loading...

इसे भी पढ़े :

Item added to cart.
0 items - 0.00