किरण बेदी का जीवन परिचय | Kiran Bedi Biography in Hindi

किरण बेदी (पहली महिला आईपीएस अफसर) की जीवनी, परिवार, शिक्षा, करियर और पुरुस्कार | Kiran Bedi Biography, Family, Education, Career and Awards in Hindi

किरण बेदी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से संबंधित एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं. वह वर्तमान में पुडुचेरी के केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल हैं. 2007 में भारतीय पुलिस सेवा (IPS) से सेवानिवृत्त होने के बाद किरण बेदी ने राजनीति में कदम रखा. वह 1972 में IPS के अधिकारी रैंक में शामिल होने वाली पहली भारतीय महिला थीं. आईपीएस में अपने कार्यकाल के दौरान, किरण बेदी ने महानिदेशक के पद पर कार्य किया था. पुलिस अनुसंधान और विकास ब्यूरो बेदी को एक सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में उनकी भूमिका के लिए भी जाना जाता है.

1994 में मैग्सेसे पुरस्कार के विजेता, किरण बेदी अन्ना हजारे के नेतृत्व वाले नागरिक समाज के सक्रिय सदस्यों में से एक हैं, जिन्होंने एक मजबूत भ्रष्टाचार विरोधी कानून, जन लोकपाल विधेयक के अधिनियमित करने के लिए एक आंदोलन शुरू किया. वह औपचारिक रूप से 15 जनवरी, 2015 को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गईं और उन्हें 2015 के दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में चुना गया.

बिंदु (Points)जानकारी (Information)
नाम (Name)किरण बेदी
मूल नाम (Born Name)किरण पेशवारिया
जन्म (Date of Birth)9 जून 1949
जन्म स्थान (Birth Place)अमृतसर
पद (Profession)पूर्व आईपीएस अफसर
राज्यपाल (पुदुच्चेरी)
समाजसेवी
पिता का नाम (Father Name)प्रकाश पेशवारिया
माता का नाम (Mother Name)प्रेम पेशवारिया
पति का नाम (Husband Name)बृज बेदी (वि. 1972-2016; मृत्यु तक)
बेटी का नाम (Daughter Name)साइना बेदी (जन्म नाम सुकृति)
शिक्षा (Education)बी.ए (Hons) इंग्लिश, 1968
एम. ए (पोलिटिकल साइंस), 1988
पीएचडी, 1993
राजनीतिक पार्टी (Political Party) भारतीय जनता पार्टी

किरण बेदी का प्रारंभिक जीवन (Kiran Bedi Early Life)

किरण बेदी का जन्म 9 जून, 1949 को अमृतसर, पंजाब में प्रकाश लाल पेशावरिया और प्रेम लता पेशावरिया के यहाँ हुआ था. उन्होंने 1968 में अमृतसर के गवर्नमेंट कॉलेज फॉर वीमेन से अंग्रेजी में अपनी बैचलर ऑफ आर्ट्स (ऑनर्स) प्राप्त की. उन्होंने 1970 में राजनीति विज्ञान में अपना स्नातक पूरा किया और अपनी कक्षा में टॉपर रहीं. 1972 में किरण बेदी ने बृज बेदी से शादी की और उनके साथ एक बेटी है.

उन्होंने 1998 में दिल्ली विश्वविद्यालय के विधि संकाय से कानून की डिग्री हासिल की, जबकि पुलिस महानिदेशक के रूप में सेवा की. इसके बाद उन्होंने 1993 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) दिल्ली में सामाजिक विज्ञान विभाग से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की.

Kiran Bedi Biography in Hindi
Kiran Bedi

किरण बेदी का प्रोफेशनल करियर (Kiran Bedi Profession Career)

किरण बेदी ने अपने करियर की शुरुआत एक पुलिस अफसर के रूप में नहीं की, बल्कि 1970 में अमृतसर के खालसा कॉलेज फॉर वूमेन में राजनीति विज्ञान की व्याख्याता के रूप में की. अपने शिक्षण करियर के दो साल बाद, उन्होंने सिविल सेवा की परीक्षा पास की और IPS अधिकारी बन गईं. इसने उन्हें सेवाओं में शामिल होने वाली भारत की पहली महिला बना दिया.

भारतीय पुलिस सेवा में अपने करियर के दौरान, उन्होंने नई दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के प्रमुख, मिजोरम में पुलिस के डीआईजी, चंडीगढ़ के उपराज्यपाल के सलाहकार, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के महानिदेशक और संयुक्त राष्ट्र के शांति अभियान के लिए नागरिक पुलिस सलाहकार के रूप में कार्य किया. उन्हें उनके काम के लिए संयुक्त राष्ट्र पदक से सम्मानित किया गया था.

किरण बेदी ने दिल्ली के तिहाड़ जेल के प्रबंधन में कई सुधार किए, जब वह 1993-1995 के दौरान जेल के महानिरीक्षक थे. इस मिशन के तहत उनके द्वारा शुरू किए गए विभिन्न कार्यक्रमों में कैदियों के जीवन में सकारात्मक बदलाव देखे गए. उसके इस छोटे कार्यकाल को जेल के इतिहास में एक सुनहरे दौर के रूप में याद किया जाता है और उसे 1994 के लिए रेमन मैग्सेसे पुरस्कार और जवाहर लाल नेहरू फैलोशिप जीता. किरण बेदी ने IPS में जो अंतिम स्थान हासिल किया, वह भारत के ब्यूरो ऑफ पुलिस रिसर्च एंड डेवलपमेंट के महानिदेशक का था.

मई 2005 में उसे “जेल सुधारों और पुलिसिंग के लिए मानवीय दृष्टिकोण” की पावती में डॉक्टर ऑफ लॉ की मानद उपाधि से सम्मानित किया गया था. दो साल बाद, किरण बेदी ने स्वेच्छा से पुलिस सेवाओं से सेवानिवृत्त होने का फैसला किया और भारत सरकार ने उन्हें अनुमति दी. 25 दिसंबर, 2007 को, वह सामाजिक मुद्दों के लिए खुद को समर्पित करने के लिए सेवानिवृत्त हुई.

किरण बेदी द्वारा किया गया सोशल वर्क एक्टिविटीज (Social Work By Kiran Bedi)

1987 में किरण बेदी ने नवज्योति इंडिया फाउंडेशन (NIF) नाम से एक NGO लॉन्च किया. यह एनजीओ नशा मुक्ति और नशामुक्ति के उद्देश्य को लेकर अशिक्षा और महिला सशक्तीकरण जैसे अन्य सामाजिक मुद्दों तक फैल गया है. उन्होंने 1994 में इंडिया विजन फाउंडेशन भी शुरू किया जो पुलिस सुधारों, जेल सुधारों, महिला सशक्तीकरण और ग्रामीण और सामुदायिक विकास के लिए काम कर रहा है. वह टीवी कार्यक्रम ‘आप की कचहरी’ की होस्ट भी थीं, जिसका उद्देश्य नागरिकों के पारिवारिक विवादों को सुलझाना था.

अगस्त 2011 में, किरण बेदी सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के नेतृत्व में इंडिया अगेंस्ट करप्शन आंदोलन में शामिल हुईं. वह अरविंद केजरीवाल के साथ आंदोलन का एक प्रमुख चेहरा थी लेकिन बाद में जब अरविन्द केजरीवाल ने नई पार्टी बनाने का ऐलान किया तो वह उनसे अलग हो गई.

Kiran Bedi Biography in Hindi

राजनीतिक सफ़र (Political Life)

2014 के आम चुनावों से पहले, बेदी ने अपनी पसंद नरेंद्र मोदी के पीछे पसंदीदा प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में रखी. 15 जनवरी 2015 को, भाजपा ने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की उपस्थिति में किरण बेदी को पार्टी में शामिल किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के एक दिन बाद बेदी पार्टी में शामिल हुईं.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में किरण बेदी (Kiran Bedi in Delhi Election)

दिल्लीवासियों के बीच किरण बेदी की लोकप्रियता और दिल्ली के ‘सुपर कॉप’ के रूप में उनके पिछले रिकॉर्ड को भुनाने के लिए, भाजपा ने उन्हें दिल्ली विधानसभा चुनाव 2015 के लिए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में नामित किया. उन्हें कृष्णा नगर निर्वाचन क्षेत्र से चुना गया था. दिल्ली में मतदान 7 फरवरी को हुआ था और तीन दिन बाद परिणाम घोषित किए गए थे. इस चुनाव के नतीजे त्रिशंकु थे. किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था. परन्तु आम आदमी पार्टी ने कांग्रेस के साथ गठबंधन करके सरकार बनाई. यह साथ ज्यादा समय नहीं चला कुछ समय बाद ही सरकार गिर गई. जिसके बाद फिर एक बार विधानसभा चुनाव हुए. चुनावों के नतीजे में आम आदमी पार्टी (आप) को स्पष्ट बहुमत मिला. 70 विधानसभा सीटों में से आम आदमी पार्टी ने 67 सीट जीती. इस चुनाव में किरण बेदी हार गई थी.

किरण बेदी के पुरस्कार (Kiran Bedi Awards)

  1. 1979 में भारत के राष्ट्रपति द्वारा राष्ट्रपति वीरता पुरस्कार
  2. 1981 में वूमन ऑफ द ईयर अवार्ड नेशनल सॉलिडैरिटी वीकली, इंडिया द्वारा दिया गया
  3. 1991 में ड्रग प्रिवेंशन एंड कंट्रोल फॉर इंटरनेशनल ऑर्गनाइजेशन ऑफ गुड टेम्पलर (IOGT), नॉर्वे द्वारा एशिया रीजन अवार्ड
  4. 1992 में अंतर्राष्ट्रीय महिला पुरस्कार
  5. 1994 में रेमन मैग्सेसे पुरस्कार फाउंडेशन द्वारा मैगसेसे पुरस्कार
  6. 1995 में डॉन बोस्को श्राइन ऑफिस, बॉम्बे-इंडिया द्वारा महिला शिरोमणि अवार्ड, फादर माकिस्मो ह्यूमैनिटेरियन अवार्ड और लायन ऑफ द ईयर
  7. 1999 में प्राइड ऑफ इंडिया अवार्ड अमेरिकन फेडरेशन ऑफ मुस्लिम ऑफ इंडियन ओरिजिन (AFMI) ने दिया
  8. 2002 में वुमन ऑफ द ईयर अवार्ड, ब्लू ड्रॉप ग्रुप मैनेजमेंट, कल्चरल एंड आर्टिस्टिक एसोसिएशन, इटली द्वारा
  9. 2004 में संयुक्त राष्ट्र द्वारा संयुक्त राष्ट्र पदक
  10. 2005 में हार्मनी फाउंडेशन द्वारा सामाजिक न्याय के लिए मदर टेरेसा पुरस्कार
  11. सूर्यदत्त ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूट्स द्वारा सूर्यदत्त राष्ट्रीय पुरस्कार 2007 में
  12. 2009 में आजतक द्वारा महिला एक्सेलेंस अवार्ड्स
  13. तरुण क्रांति पुरस्कार – 2010 में
  14. 2011-तरुण पुरस्कार परिषद द्वारा महिला सशक्तिकरण श्रेणी में
  15. 2011 में भारतीय योजना और प्रबंधन संस्थान द्वारा भारतीय मानव विकास पुरस्कार
  16. 2013 में राय विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टर ऑफ पब्लिक सर्विस की मानद उपाधि

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment