ऑस्कर वाइल्ड का जीवन परिचय | Oscar Wilde Biography in Hindi

ऑस्कर वाइल्ड का जीवन परिचय | Irish poet Oscar Wilde Biography, Quote, Family, Wife, Children and Famous Work (Hindi)

ऑस्कर वाइल्ड एक महान उपन्यासकार, कवि और नाटककार थे. जो रचनाकार के साथ साथ एक संवेदनशील मानव के रूप में भी जाने जाते है. इन्होने अपनी अनमोल लेखनकला से जीवन के सूक्ष्म पहलुओं को दर्शाया. ऑस्कर वाइल्ड विलक्षण बुद्धि, विराट कल्पनाशीलता और प्रखर विचारों के स्वामी थे. अँग्रेजी साहित्य में शेक्सपीयर के बाद उन्हीं का नाम प्राथमिकता से लिया जाता है.

प्रारम्भिक जीवन (Early Life)

ऑस्कर वाइल्ड, जिनका वास्तविक नाम ‘ऑस्कर फिंगाल ओ लाहर्टी विल्स वाइल्ड’ है, का जन्म 16 अक्टूबर 1858 को आयरलैंड की राजधानी डबलिन में हुआ. उनके पिता सर्जन थे तथा माता लेखिका एवं साहित्यकार थीं. उन्होंने अपनी शिक्षा डबलिन के ट्रिनिटी कॉलेज और ऑक्सफ़ोर्ड से पूर्ण की, जिसके बाद वे लंदन शिफ्ट हो गए.

लेखन में करियर बनाना, लंदन जाने का मूल हेतु रहा. वर्ष 1881 में उनका पहला कविता-संग्रह प्रकाशित हुआ. उन्होंने कई कविताएँ, कथाएँ तथा नाटकों की रचना की थी. उनके ‘लेडी विडरमीयर्स फेन (1892), ‘एन आइडियल हसबैंड’ (1895) और ‘द इंपोर्टेंस ऑफ बीइंग अर्नेस्ट’, (1895), यह नाटक रचनाएँ काफ़ी लोकप्रिय साबित हुई.

एक सज्जन व्यक्ति वह है जो अनजाने में किसी की भावनाओ को ठेस ना पहुंचाए “.

– Oscar Wilde

निजी जीवन (Personal Life)

वर्ष 1884 में वाइल्ड ने कोंस्टेंस लॉयड से विवाह कर लिया. उन्हें दो पुत्र की प्राप्ति हुई. लेकिन वर्ष 1819 में समलैंगिकता के ‘अपराध’ में वे पकड़े गये और उन्हें दो साल की जेल हो गयी. सामाजिक दबाव और बदनामी से बचने के लिए वे अपनी पत्नी और बच्चों को लेकर स्विट्जरलैंड चले गए और अपना नाम बदलकर हॉलैंड रख लिया.

जेल से छूटने के बाद ऑस्कर बीमार रहने लगे. उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुँची थी. इसके चलते वे लंदन से पेरिस चले गए और साधारण जिंदगी जीने लगे थे. यही उन्होंने अपनी आखिरी रचना ‘बालेड ऑफ रीडिंग गाओल’ रची, जो 1890 में प्रकाशित हुई. इस ही अवस्था में उन्होंने पेरिस में ही 30 नवंबर 1900 को अपनी आखरी साँस ली. इस समय वे महज 46 साल के थे.

रचनात्मक विशेषताएँ (Literature characteristics)

ऑस्कर वाइल्ड का कहना है कि, ‘पुस्तकें नैतिक या अनैतिक नहीं होतीं. वे या तो अच्छी लिखी गई होती हैं या बुरी’. उनके लेखन में उनकी पीड़ा, अपमान का दर्द आप महसूस कर सकते है. बावजूद इसके उनकी रचनाएँ सर्वश्रेष्ठ मानी जाती है. विश्व की कई भाषाओं में उनकी कृतियाँ अनुवादित हो चुकी हैं. ‘द बैलेड ऑफ रीडिंग गोल’ और ‘डी प्रोफनडिस’, उनकी सुप्रसिद्ध कृतियाँ हैं. लेडी विंडरम’र्स फेन और द इम्पोर्टेंस ऑफ बीइंग अर्नेस्ट जैसे नाटक भी काफ़ी प्रसिद्ध हुए थे. उनकी लिखी परिकथाएँ भी विशेष रूप से पसंद की गईं.

रचनाएँ (Literature Work)

कहानियाँ (हिंदी में अनुवादित)

  • युवा नरेश
  • आदर्श करोड़पति
  • सुखी राजकुमार
  • विशिष्ठ रॉकेट
  • बुलबुल और गुलाब
  • स्वार्थी राक्षस

कविताएँ (हिंदी में अनुवादित)

  • अन्ततः
  • नया जीवन
  • मृत बहन के लिए प्रार्थना-गीत
  • छायाएँ
  • चन्द्रमा का पलायन

प्रसिद्ध पुस्तके

  • The Picture of Dorian Gray
  • The Importance of Being Earnest
  • The Picture of Dorian Gray and Three Stories
  • Collected Works
  • The Importance of Being Earnest and Other Plays

Leave a Comment

error: Content is protected !!