शंकर महादेवन का जीवन परिचय | Shankar Mahadevan Biography in Hindi

संगीतकार और गायक शंकर महादेवन की जीवनी | Shankar Mahadevan Biography(Birth, Family, career) and Awards in Hindi

शंकर महादेवन भारत की संगीत दुनिया के बड़े ही मशहूर और जाने-माने कलाकार हैं. शंकर महादेवन अपनी गायकी के हुनर के लिए जाने जाते हैं. उन्होंने कई सारे बड़े बड़े कलाकरों के बीच रहकर अपनी काबिलियत को और निखारा हैं.

क्र. म. बिंदु(Points) जानकारी (Information)
1. नाम(Name) शंकर महादेवन
2. पत्नी (Wife Name) संगीता महादेवन
3. जन्म तारीख (Date of Birth) 3 मार्च 1967
4. जन्म स्थान (Birth Place) चेंबूर, मुंबई
5. गृहनगर (Home Town) पलक्कड़, केरल
6. जाति(Caste) हिन्दू
7. पहली एल्बम (First Album) ब्रेथलेस
8. बच्चे (Childrens) शिवम् महादेवन और सिद्धार्थ महादेवन

Shankar Mahadevan Biography in Hindi

शंकर महादेवन का जन्म और परिवार(Shankar Mahadevan Birth and Family)

शंकर महादेवन का जन्म 3 मार्च 1967 को महाराष्ट्र के मुंबई में हुआ था. शंकर महादेवन एक तमिल परिवार से ताल्लुक रखते हैं.

उनके पिता के बारे में तो कोई जानकारी नहीं हैं लेकिन उनकी माता का नाम सीथा नारायण हैं. शंकर महादेवन ने साल 1992 में संगीता से शादी की जिससे इनके दो बच्चे शिवम् और सिद्धार्थ हुए.

शंकर महादेवन की पढाई (Shankar Mahadevan Education)

शंकर महादेवन ने अपनी प्रारम्भिक शिक्षा Our Lady of Perpetual Succour High School (OLPS) और SIES college of Arts, Commerce and Science से की.
जिसके बाद इंजीनियरिंग करने की चाह में इन्होने रामराव आदिक इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी में दाखिला लिया.

शंकर महादेवन का बचपन (Shankar Mahadevan Childhood)

तमिल फैमिली से ताल्लुक रखने के कारण शंकर महादेवन को संगीत की शिक्षा बचपन से ही मिलना शुरू हो गयी थी. उन्होंने मात्र 5 साल की उम्र में ही वीणा बजाना सीख लिया था. जिसके बाद इन्होने पंडित श्रीनिवास खाले से अपनी संगीत की शिक्षा ली.

Shankar Mahadevan Biography in Hindi

शंकर महादेवन और संगीत (Shankar Mahadevan and Music)

इंजीनियरिंग की डिग्री ले लेने के बाद शंकर ने काफी समय तक एक सॉफ्टवेयर कंपनी एज सिस्टम(अब ट्रिगन टेक्नोलॉजीज) में काम किया. संगीता के साथ शादी करने के बाद शंकर ने नौकरी छोड़ संगीत की दुनिया में नाम कमाने के बारे में सोचा.

शंकर के इस निर्णय में उनके परिवार ने भी उनका साथ दिया. जिसके बाद साल 1998 शंकर महादेवन ने पहली बार अपने एल्बम ब्रेथलेस से सभी लोगों का ध्यान अपनी और आकर्षित किया. इस गाने में शंकर ने एक ही साँस में लगभग 3 मिनिट का अंतरा गाकर सभी को अपना दीवाना बना दिया.

ब्रेथलेस के बाद शंकर महादेवन ने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा. जिसके बाद उन्होंने एहसान और लॉय के साथ मिलकर शूल, दिल्लगी, मिशन कश्मीर से लगातार अपने काबिलेतारीफ संगीत से मन मोह लिया.

शंकर महादेवन ने केवल हिंदी ही नहीं बल्कि कन्नड़, तमिल, मराठी और तेलगू संगीत में भी अपना योगदान दिया हैं.

अवार्ड(Shankar Mahadevan Awards)

शंकर महादेवन को फिल्म दुनिया का संगीत गुरु कहा जाता हैं. उन्होंने अपने हुनर से इस क्षेत्र के सभी बड़े बड़े अवार्ड को अपने नाम किया हैं जो कि कुछ इस प्रकार हैं.

  1. नेशनल अवार्ड (4 बार)
  2. स्टेट फिल्म अवार्ड (2 बार)
  3. फिल्मफेयर अवार्ड (6 बार)
  4. फिल्मफेयर साउथ (1 बार)
  5. स्टार स्क्रीन अवार्ड (4 बार)

इसे भी पढ़े : कवि गोपालदास नीरज का जीवन परिचय

इसे भी पढ़े : सोनाली बेंद्रे का जीवन परिचय

Loading...

Leave a Comment