वरुण चक्रवर्ति की जीवनी | Varun Chakravarthy Biography in Hindi

वरुण चक्रवर्ति की जीवनी
Varun Chakravarthy Biography in Hindi

वरुण चक्रवर्ति, एक ऐसे खिलाड़ी है जिन्होंने अपने क्रिकेटिंग करियर छोड़ने के बाद एक आर्किटेक की नौकरी करते हुए भारतीय क्रिकेट में एक धमाकेदार वापसी की. ये वो खिलाड़ी है जिन्हें आईपीएल 2019 में किंग्स इलेवन पंजाब ने सबसे ज्यादा बोली लगाकर ख़रीदा था. चलिए जानते है इनकी दिलचस्प कहानी शुरुआत से….

वरुण चक्रवर्ति का जन्म | Varun Chakravarthy Birth, Age, Career

वरुण चक्रवर्ति एक भारतीय क्रिकेटर है जो तमिलनाडु की टीम से खेलते है. वरुण चरवार्ति का जन्म 29 अगस्त 1991 में में हुआ था. वरुण एक मध्मवर्गीय परिवार से आते है, इन्होने अपने स्कूल के समय से ही क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था.

वरुण बताते है कि वे 13 साल की उम्र से एक विकेट कीपर बल्लेबाज़ की तरह क्रिकेट खेला करते थे और इसी तरह 17 साल की उम्र तक इसी तरह क्रिकेट खेला पर कहते है न किस्मत से ज्यादा और वक्त से पहले कभी किसी को कुछ नही मिलता, कुछ ऐसा ही हुआ वरुण के साथ. उन्हें एज ग्रुप क्रिकेट में कई बार रिजेक्शन का सामना करना पड़ा.

जब वरुण के घरवालो को क्रिकेट में कुछ सफलता देखने को नही मिली तो वरुण पर अपनी पढ़ाई पूरी करने का दबाव बनाने लगे. पढ़ाई को पूरी करने के चलते वरुण को अपना क्रिकेट करियर छोड़ना पड़ा. क्रिकेट छोड़ वरुण ने चक्रवर्ति ने चेन्नई के SRM यूनिवर्सिटी से अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की.

पूरा नाम वरुण चक्रवर्ति
पिता का नाम ज्ञात नहीं
माता का नाम ज्ञात नहीं
जन्म दिनांक 29-08-1991
स्कूल / विश्वविद्यालय SRM यूनिवर्सिटी, चेन्नई
शैक्षणिक योग्यतावास्तुकला में स्नातक
पेशाक्रिकेटर
खेल का प्रकार स्पिन बोलिंग / आल राउंडर
धर्महिन्दू
जातिज्ञात नहीं

वरुण चक्रवर्ति का शुरुआती करियर | Varun Chakravarthy Starting Career

पढ़ाई पूरी करने के बाद वरुण फ्रीलांस में आर्किटेक का काम करने लगे, फिर उन्होंने 2 साल तक नौकरी भी की. बचपन से लेकर जवानी तक वरुण के लिए क्रिकेट ही पैशन था, इसलिए उन्होंने फिर वीकेंड में क्रिकेट खेलना शुरू किया. वरुण चक्रवर्ती उस वक्त शोकिया तोर पर क्रिकेट खेलते थे.

25 वर्ष की उम्र में नौकरी छोड़ क्रिकेट को चुना

क्रिकेट में इस तरह फिर वापसी से वरुण काफी खुश थे और धीरे धीरे फिर क्रिकेट में पूरी तरह शामिल होने लगे और आखिरकार नौकरी पर पैशन भारी पड़ा और वरुण ने अपनी नौकरी छोड़ क्रोमबेस्ट क्रिकेट अकादमी को जॉइन कर लिया.

वरुण चक्रवर्ति ने क्रिकेट अकादमी में फ़ास्ट बॉलर-आलराउंडर की तरह क्रिकेट खेलना शुरू किया पर यहाँ भी किस्मत ने साथ नही दिया. वरुण को दुसरे ही मैच में चौट लग गयी. घुटने में चौट के चलते वरुण को काफी दिनों तक क्रिकेट खेलने का मौका नही मिला, तो उन्होंने फिर स्पिन गेंदबाजी करना शुरू किया. वरुण को टेनिस बॉल में 18 गज की पिच पर बोलिंग करनी होती थी और ऐसे में वरुण ने अपनी स्पिन गेंदबाज़ी में ढेर सारी वेरिएशन सिख ली. और यही वजह रही कि वरुण को लोग मिस्ट्री स्पिनर के नाम से जानने लगे.

क्रिकेट में वापसी के बाद उन्होंने चेन्नई लीग के चौथे सीजन में जुबली क्रिकेट क्लब को जॉइन किया। इस टूर्नामेंट (2017-18) में उन्होंने घातक बोलिंग की जिसमे उन्होंने सिर्फ 7 मैचों में 31 विकेट (एवरेज 8.26, इकॉनमी रेट 3.06) लेकर तहलका मचा दिया.

वरुण चक्रवर्ति | Varun Chakravarthy Mystery Spinner

वरुण चक्रवर्ति लेगब्रेक, ऑफब्रेक, गुगली, कैरमबॉल, फ्लिपर, स्लाइडर और टॉपस्पिन जेसी खतरनाक गेंदबाज़ी करना जानते है. इसी हुनर की बदोलत 27 वर्ष के वरुण को तमिलनाडु प्रीमियर लीग में शिचम मधुरई पैंथर टीम से खेलने का मौका मिला. इस टूर्नामेंट में वरुण ने अपनी टीम से घातक गेंदबाज़ी की और इसी की बदोलत उनकी टीम उस साल के टूर्नामेंट को जीत गई. टूर्नामेंट के फाइनल मैच में वरुण ने 16 रन देकर 3 विकेट झटके. इस प्रदर्शन को देख मैच में कमेंट्री कर रहे ऑस्ट्रेलिया के महान बल्लेबाज़ माइक हस्सी ने कहा कि वरुण चक्रवर्ति एक अलग तरह का बेहतरीन टेलेंट है.

वरुण को चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाईट राइडर्स के नेट्स में बतोर नेट्स बॉलर के तोर पर बुलाया गया. जहां उन्होंने खूब बोलिंग की और खेल के गुर समझे.

वरुण चक्रवर्ति का घरेलु क्रिकेट करियर | Varun Chakravarthy First Class Cricket Career

इस सफलता के बाद 2018 में वरुण को विजय हजारे ट्राफी के लिए लिस्ट-A क्रिकेट में 50 ओवर वाली तमिलनाडू की टीम में शामली कर लिया जहाँ इस मिस्ट्री स्पिनर ने 4.2 की इकॉनोमी से 9 मैच में 22 विकेट झटके और वहीं से वरुण के लिए रणजी ट्राफी के लिए भी दरवाजे खुल गये. नवम्बर 2019 में उन्होंने अपने रणजी करियर की शुरुआत की.

वरुण चक्रवर्ति का आईपीएल करियर | Varun Chakravarthy IPL Career

2020 आईपीएल का आगाज होते ही एक खिलाड़ी की किस्मत मानो आसमान छू गयी, आईपीएल 2019 में सबसे महंगे बिकने वाले खिलाड़ी  जिन्हें किस्मत से एक ओवर ख़राब होने के चलते किंग्स इलेवन पंजाब की टीम से एक ही मैच खेलने को मिला. लेकिन आईपीएल 2020 में कोलकाता नाईट राइडर्स ने इन पर विश्वास जताया है और भारतीय अनकेप खिलाडियों में सबसे महँगी बोली लगाकर ख़रीदा है .

वरुण चक्रवर्ती की कुछ अनसुनी बातें | Unknown Facts Of Varun Chakravarthy

  • वरुण चक्रवर्ति अपनी बोलिंग में 7 तरह के वेरिएशन जानते है. यही बात उन्हें खास बनती है.
  • पहले वरुण फ़ास्ट बोलिंग करते थे और अब लेग ब्रेक स्पिन गेंदबाज़ है.
  • वरुण ने क्रिकेट छोड़ पढ़ाई पूरी की और फिर नौकरी छोड़ क्रिकेट की दुनिया में वापसी की.
  • आईपीएल 2019 में सबसे महंगे अनकेप खिलाड़ी बने, 8.4 करोड़ में किंग्स इलेवन पंजाब ने ख़रीदा.
  • आईपीएल 2020 के लिए भी कोलकाता ने 4 करोड़ में ख़रीदा, जबकि बेस प्राइस 20 लाख थी.
  • कई बार रिजेक्ट होने के बाद फिर अपने प्रदर्शन से वापसी की.
  • विपरीत परिस्थितियों में द्रण संकल्प के साथ धमाकेदार वापसी.

एक फ़ैल क्रिकेटर से सबसे महंगे क्रिकेटर बनने का सफ़र वरुण के द्रणनिश्चय का ही नतीजा है और हम उम्मीद करते है वे आगे भी कुछ ऐसा ही प्रदर्शन करेंगे और अपना और अपने देश का नाम ऊँचा करेंगे.

Loading...

Leave a Comment