चटनी खाने के फायदे | Chatni Khane ke Fayde in Hindi

कड़ी पत्ता, हरा धनिया और अदरक की चटनी के फायदे  | Chatni Khane ke Fayde | Benefits of Eating Chatni (Sauce) in Hindi

कड़ी पत्ता

कड़ी पत्ता का इस्तेमाल कई चीजों में किया जाता है क्योकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन- सी होता है. विटामिन के साथ इसमें जिंक, कॉपर, केल्शियम और मिनरल भी पाए जाते है. कड़ी पत्ते में ऐसे एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो शरीर में मुक्त कणों को नुकसान पहुंचाने वाले सेल से लड़ते हैं और शरीर को कई बीमारी से बचाते हैं.

यदि आपको फोड़े, खुजली या सूजन जैसी समस्या है, तो कडी पत्ते से बना पेस्ट एक एंटीसेप्टिक के रूप में काम कर सकता है और यह उपाय बहुत लाभदायक होता है. इसके बाद यह वजन कम करने में भी मदद करता है, करी पत्ते को शरीर की चर्बी कम करने के गुण पाए जाते है. इसके अलावा यह बालों की सुन्दरता, रुसी दूर करने, बालो को चमकदार बनाने और बाल टूटने से बचने में भी मदद करता है, कडी पत्ता आपकी याददाश्त को तेज करने और स्मृतिलोप या स्मृति की हानि जैसी स्थितियों के प्रभाव को कम करने में भी मदद करते है.

कई लोग यह दावा करते हैं कि यह आपकी दृष्टि के लिए अच्छा होता है कड़ी पत्ता खाने से आँखों की बीमारियाँ नहीं होती है और आँखों की रोशनी अच्छी रहती है. इसके अलावा यह पाचन तंत्र को सही रखता है और स्वाद के रूप में भी अच्छा योगदान देता है.

हरा धनिया

हरे धन‍िया में पोटेश‍ियम, कैल्‍श्यिम, विटामिन सी और मैग्‍नीजियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है और ये सभी तत्‍व कई बीमारियों को दूर रखने में मदद करते हैं. सबसे पहले यह वजन कम करने में असरदार होता है, अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो धनिये के बीजो का इस्‍तेमाल करने से आपको फायदा होगा. आप तीन बड़े चम्‍मच धनिये के बीज एक गिलास पानी में उबालें और तब तक उबाले जब तक की यह  पानी आधे से कम हो जाए और फिर इसे  छान लीजिए. इस पानी को रोजाना दो बार पीने से वजन घटने लगता है.

अगर आपको पेट से संबंधित कोई बीमारी है तो इसके लिए दो कप पानी में धनिये के बीज, जीरा, चाय पत्ती और शक्कर डालकर अच्छे से मिला ले. इस पानी में ऐसे गुण होते है जो एसिडिटी में लाभकारी होते है. पेट दर्द जैसी समस्याओ में भी धनिया राहत प्रदान करता है.

धनिया में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो शरीर से कॉलेस्ट्रॉल कम करने में मादा करते है. हमे यह पता चला है की किसी को हाई कॉलेस्ट्रॉल की श‍िकायत है तो उसे धनिया के बीज उबालकर पीना चाहिए.

अदरक

अदरक स्वास्थ्यप्रद (यानि सबसे स्वादिष्ट) मसालों में से है. यह पोषक तत्वों और बायोएक्टिव यौगिकों से भरा हुआ होता है जो आपके शरीर और मस्तिष्क के लिए लाभकारी होता है. अदरक में शक्तिशाली औषधीय गुणों वाला एक पदार्थ होता है जिसे जिन्जेरॉल कहा जाता है. इसका उपयोग पाचन में मदद करने सर्दी- खांसी और फ्लू जैसी कई बीमारियों में किया जाता है. अदरक में ऐसी अनोखी खुशबू और स्वाद होता है जो कई व्यंजनों में इस्तेमाल किया जाता है. चिकित्सा पद्धति के अनुसार अदरक को आयुर्वेद में महाऔषधि कहा जाता है. इसका वानस्पतिक नाम जिंजिबर ऑफिसिनेल है. ताजी अदरक में 81% जल, 2.5% प्रोटीन, 1% वसा और 13% कार्बोहायड्रेट पाया जाता है.

यह भूख बढाने में भी सहायक होता है इसके नियमित सेवन से भूख न लगने की समस्‍या से छुटकारा पाया जा सकता है. यदि आपको भूख कम लगती हैं तो अदरक के बारीक टुकड़े काटकर और थोड़ा सा नमक मिलाकर दिन में एक बार खाए. इससे पेट साफ होगा और भूख भी ज्यादा लगेगी.

अदरक का सेवन करने से गठिया रोग, गर्दन और रीढ की हड्डियों के रोग के इलाज में मदद मिलती है. इसके अलावा अदरक महिलाओं में मासिक धर्म की अनियमितता को दूर करने में भी सहायक होता है.

कड़ी पत्ता, अदरक और हरे धनिया की चटनी के फायदे

कड़ी पत्ता, अदरक और हरे धनिया की चटनी खाने में स्वाद बढ़ने के साथ शरीर को कई लाभ प्रदान करती है. इससे हमारा शरीर स्वस्थ रहता है और कड़ी पत्ते से ताजगी भी रहती है. ये तीनो बहुत उपयोगी तत्व है. हर एक का अपना अपना महत्व होता है. आपने देखा होगा साऊथ के अधिकतर व्यंजनों में कड़ी पत्ते का इस्तेमाल होता है. अदरक भी एक औषधि के रूप में कई समस्या के निवारण में उपयोगी होता है. यदि आप इनका इस्तेमाल नही जानते है तो इसकी चटनी बना के खाए.

Loading...

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment