मोरधन खाने के फायदे और महत्व | Mordhan Khane Ke Fayade aur Mahatva

मोरधन खाने से शरीर को होने वालेे फायदे, नुकसान और ऋषि पंचमी के दिन मोरधन का महत्व | Mordhan Khane Ke Fayade aur Mahatva in Hindi

मोरधन एक प्रकार का चावल है जिसको समा का चावल भी कहा जाता है. इसके और भी कई नाम हैं जैसे: समो, मोरियो, कोदरी, समवत, सामक चावल, भगर, वरी, श्याम या श्यामा चावल, एवं जंगली चावल. मोरधन दिखने में बहुत छोटे गोल आकार का होता है, वैसे यह एक प्रकार की जंगली घास है, एवं समां के चावल को इन घास के बीज के रूप में भी जाना जाता है. इसको बढ़ने के लिए नमी वाले स्थान की आवश्यकता होती है इसलिए यह चावल के धान की नमी में बढ़ता है. इसे उपवास वाले चावल भी कहा जाता है क्योंकि यह उपवास में खाया जाता है.

मोरधन के उपयोग (Mordhan Ke Upyog)

मोरधन को आध्यात्मिक एवं आयुर्वेदिक दोनों प्रकार से उपयोगी माना गया है. मोरधन का उपयोग उपवास में किया जाता है क्योंकि यह बहुत ही आसानी से पच जाता है एवं स्वादिष्ट भी होता है. उपवास में लोग अनाज नहीं खाते तो अनाज के स्थान पर समा के चावल अथवा मोरधन खाया जा सकता है. इसमें पोषक तत्व पाए जाते हैं. अब तो मोरधन से भी कई प्रकार के व्यंजन बनाये जाते हैं जो बहुत ही स्वादिष्ट होते है, जैसे – मोरधन की खिचड़ी, उपमा, खीर, पूरी, चकली, पुलाव, डोसा इत्यादि. समां के चावल से इस तरीके से कई व्यंजन बनाये जाते हैं.

मोरधन का विशेष उपयोग उपवास में किया जाता है, नवरात्रि या किसी भी उपवास में आप मोरधन के व्यंजन का सेवन कर सकते हैं क्योंकि यह स्वास्थ्य के लिए भी लाभप्रद है.

मोरधन के व्यंजन (Mordhan se banane wali Cheeze)

मोरधन के बहुत प्रकार के मीठे एवं नमकीन स्वादिष्ट व्यंजन बनाये जाते हैं जो इस प्रकार हैं:

  • मोरधन की खिचड़ी
  • मोरधन की पूरी
  • खीर
  • उपमा
  • ढोकले
  • डोसा
  • कटलेट
  • मोरधन के बड़े
  • पुलाव
  • कचोरी
  • चकली
  • मोरधन का चीला
  • इडली इत्यादि.

ये व्यंजन खाने में तो स्वादिष्ट होते ही हैं एवं शरीर और सेहत के लिए भी लाभदायक हैं.

स्वास्थ्य के लिए लाभदायक (Mordhan Khane Ke Fayade)

मोरधन स्वास्थ्य के लिए भी बहुत लाभदायक है क्योंकि इसके अन्दर कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए, सी, ई और प्रोटीन की भरपूर मात्रा पाई जाती है. इसके अलावा मोरधन में खनिज की मात्रा भी पर्याप्त होती है. इसमें ग्लूटेन नहीं पाया जाता जिससे केलोरी और शर्करा की मात्रा कम होती है. जो लोग अपने वजन को लेकर परेशान हैं उनके लिए यह बहुत ही अच्छा आहार है, जो आपके वजन को कम करने में आपका सहयोग करेगा. कुछ अन्य लाभ:

  • पाचन तंत्र सुधारना.
  • वजन कम करना.
  • ताकत और स्फूर्ति बढ़ाना.
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना.
  • शरीर को फाइबर प्रदान करता है.
  • प्रोटीन प्रदान करना.

हर प्रकार से मोरधन बहुत लाभदायक है इसलिए इसे उपवास के अलावा भी खाया जा सकता है, इसके कोई नुकसान नहीं है यह पोष्टिक भोजन के रूप में उपयोग किया जाता है. और बुर्जुर्गों और बच्चों के लिए तो यह आहार बहुत ही अच्छा माना जाता है. आप बच्चों को मोरधन की खीर बना कर खिला सकते हैं क्योंकि यह बहुत ही स्वादिष्ट होती है और बच्चे बड़े चाव से इसे खाते हैं. वही बुर्जुर्गों को मोरधन की पतली खिचड़ी बना कर दे सकते हैं जो आसानी से पाचक है. इस प्रकार अपने हिसाब से इसके व्यंजन बना सकते हैं, क्योंकि इसके लाभ हैं और शरीर के लिए जो लाभदायक ही हैं.

मोरधन कहाँ से उपलब्ध होगा और कुछ सावधानियां

मोरधन किसी भी किराने की दुकान पर मिल जायेगा एवं इसको ऑनलाइन भी आप खरीद सकते हैं. इसके अलावा अगर आप मोरधन को किसी एयर टाइड कंटेनर में नमी वाले स्थान से दूर रखते हैं तो यह वर्ष भर भी उपयोग करने योग्य रहेगा. बस ध्यान रखें कि इसमें नमी न आयें, अगर इसमें नमी आएगी तो यह ख़राब हो जायेगा.

एक बात का ध्यान अवश्य रखें, यदि आप खुला हुआ मोरधन खरीदते हैं तो ध्यान से देखें कि मोरधन ख़राब तो नहीं हो गया है या उसमें नमी तो नहीं आ गयी है. ऐसे ही अगर पैकेट का मोरधन आप खरीदते हैं तो उसकी पैकिंग की दिनांक एवं समाप्ति की दिनांक भी अवश्य देखें. इसके बाद ही मोरधन खरीदें क्योंकि अगर मोरधन में थोड़ी सी भी नमी आ जाती है तो यह ख़राब हो जाता है.

ऋषि पंचमी के दिन मोरधन का महत्व (Rishi Panchami Mordhan Ka Mahatva)

ऋषि पंचमी के दिन मोरधन का विशेष महत्व है, इस दिन मोरधन या दूब पर महिलाएं सफ़ेद कपडा लपेटकर उसके सप्तऋषि बनाती हैं एवं इसके बाद मोरधन, फल, दूध, पंचाम्रत, दही से पूजन करती हैं इसके बाद घर के बुजुर्गों से आशीर्वाद लेती हैं. मोरधन की खीर बनाई जाती है और महिलाएं व्रत रखती हैं. यह व्रत पितृ दोष के निवारण एवं भाई की लम्बी आयु के लिए बहने करती हैं. इस व्रत का विशेष महत्व है, एवं इसमें मोरधन का ही सेवन किया जाता है.

मोरधन के फायदे और नुकसान (Mordhan Khane ke Fayade anr Nuksan)

वैसे तो मोरधन के फायदे ही हैं लेकिन कुछ लोगो के अनुसार इसके कई नुकसान भी हैं. वैसे सभी खाद्य पदार्थों के फायदे और नुकसान दोनों होते हैं इसलिए हर चीज़ को एक सीमा के अंतर्गत ही खाना चाहिए. वैसे ही कहा जाता है कि मोरधन जहाँ लाभदायक है वही नुकसानदायक भी है. मोरधन को आसानी से पचने वाला भोजन कहा जाता है और कहा जाता है कि इस भोजन से वजन भी कम किया जा सकता है, लेकिन कुछ लोग इस बात से बिलकुल सहमत नहीं है, उनका कहना है ऐसा नहीं होता. यह बात आपके शरीर और अपने हार्मोन्स पर भी आधारित है. जरुरी नहीं है कि किसी चीज़ से अगर 90% लोगो को फायदा है तो बाकि 10% लोगो को भी फायदा हो. ऐसे ही कुछ लोगो को यह भोजन हल्का भोजन लगता है लेकिन कुछ लोग मोरधन खाने में हिचकते हैं क्योंकि उनको यह भोजन नहीं पचता. ऐसी ही कई लाभ और हानियाँ मोरधन के साथ हैं. अगर आपको लगता है कि मोरधन आपके लिए उपयुक्त आहार नहीं हैं तो आप अपनी सेहत के प्रति सजग रहें और इसका सेवन न करें.

इसे भी पढ़े :

Loading...

Leave a Comment