अलका याग्निक का जीवन परिचय | Alka Yagnik Biography in Hindi

हिंदी फिल्मों की पार्श्वगायिका अलका याग्निक की जीवनी और उनका करियर | Indian Playback Singer Alka Yagnik Biography(Birth, Family, Career) and Awards in Hindi

अलका याग्निक जानी-मानी एक भारतीय पार्श्वगायिका हैं. अलका याग्निक ने अपने तीन दशक पुराने करियर में एक से बढकर एक गीत में अपनी काबिलियत का लोहा मनवाया हैं.

लता मंगेशकर ओर आशा भोसले के बाद किसी गायिका का नाम लिया जाता हैं तो वह अलका याग्निक ही हैं. अलका याग्निक के इसी हुनर के कारण उन्हें कई बार नेशनल अवार्ड और फिल्मफेयर से सम्मानित किया जा चुका हैं.

क्र. म. बिंदु(Points) जानकारी (Information)
1. नाम(Name) अलका याग्निक
2. पति का नाम (Husband Name) नीरज कपूर
3. जन्म तारीख (Date of Birth) 20 मार्च 1966
4. जन्म स्थान (Birth Place) कलकत्ता
5. बच्चे (चाइल्ड) सयेशा कपूर
6. धर्मं(Religion) गुजराती हिन्दू
7. पहला गाना (First Song) थिरकत अंग लचकी झुकी(फिल्म पायल की झंकार)

अलका याग्निक का जन्म और परिवार(Alka Yagnik Birth and Family)

अलका याग्निक का जन्म 20 मार्च 1966 को पश्चिम बंगाल के कलकत्ता(अब कोलकता) शहर में हुआ था. वह एक गुजराती हिन्दू परिवार से आती हैं. अलका याग्निक की माता शुभा याग्निक एक क्लासिकल सिंगर थी.

उन्होंने फ़रवरी 1989 में शिल्लोंग के मशहूर बिज़नसमैन नीरज कपूर के साथ शादी की. उसी साल उन्हें अपनी एकलौती लड़की सयेशा हुई.

Alka Yagnik Biography in Hindi
Alka Yagnik With His Husband Neeraj Kapoor

अलका याग्निक का बचपन (Alka Yagnik Childhood)

अलका याग्निक की माता एक क्लासिकल गायिका थी तो अलका को गायिकी की शिक्षा बहुत ही कम उम्र में मिल गयी थी. उन्होंने मात्र 6 साल की उम्र में पहली बार कलकत्ता आकाशवाणी रेडियो में काम किया था.

10 साल की उम्र तक अलका संगीत में परायण हो चुकी थी इसीलिए उनकी माता उन्हें कलकत्ता से बॉम्बे (अब मुंबई) ले आई.

अलका की माँ ने उनका करियर बनाने के लिए कई प्रयास किये आखिरकार उन्होंने एक पत्र के माध्यम से राज कपूर से संपर्क किया. राज कपूर ने जब अलका की आवाज सुनी तब वह उनसे काफी प्रभावित हुए और पत्र को लेकर प्यारेलाल के पास पहुंचे.

उनकी आवाज सुनकर प्यारेलाल भी उनसे प्रभावित हो गए उन्होंने अलका को दो ऑफर दिए. उन्होंने बताया कि वह चाहे तो अभी से एक डबिंग आर्टिस्ट के तौर पर काम करे. या फिर आवाज परिपक्व होने तक का इंतज़ार करे. तब अलका की माँ ने इंतज़ार करने का फैसला किया.

अलका याग्निक का संगीत करियर (Alka Yagnik Music Career)

14 साल की उम्र में अलका याग्निक ने पहली बार फिल्म “पायल की झंकार” के गाने “थिरकत अंग लचक झुकी” में अपनी आवाज दी.

यह हैं अलका याग्निक का पहला गाना

जिसके बाद 1981 में आई फिल्म लावारिस के गाने “मेरे अंगने में” ने उन्हें शोहरत की बुलंदियों तक पहुँचा दिया. जिसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में अपनी गायकी से लोगों का ध्यान अपनी ओर खिंचा.

साल 1988 में आये गाने “एक दो तीन” के लिए इन्हें पहली बार फिल्मफेयर का अवार्ड मिला.

उन्होंने अपने तीन दशक पुराने करियर में हिंदी के अलावा उर्दू, गुजराती, अवधी, भोजपुरी, तमिल, तेलगू और मलयालम भाषा में गाने गाए हैं. अलका याग्निक आज उन गायिकाओं में से एक हैं जिन्होंने बॉलीवुड इंडस्ट्री के सभी बड़े संगीतकरों के साथ काम किया हैं.

Alka Yagnik Biography in Hindi

अलका याग्निक के अवार्ड (Alka Yagnik Awards)

अलका याग्निक को संगीत से जुड़े हुए लगभग सभी अवार्ड से नवाजा जा चुका हैं. जिसकी सूची कुछ इस प्रकार हैं.

  1. नेशनल अवार्ड
  2. फिल्मफेयर अवार्ड
  3. लता मंगेशकर अवार्ड
  4. आईफा अवार्ड
  5. स्टार स्क्रीन अवार्ड
  6. जी सिने अवार्ड

इसे भी पढ़े : गोपालदास नीरज का जीवन परिचय

इसे भी पढ़े : सोनाली बेंद्रे का जीवन परिचय

Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के कंटेंट हेड और SEO एक्सपर्ट हैं और कभी कभी इतिहास से जुडी जानकारी पर लिखना पसंद करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *