इशान पोरेल का जीवन परिचय | Ishan Porel Biography in Hindi

इशान पोरेल की जीवनी, जन्म, परिवार
Ishan Porel Biography, Age, Career, Family, Education, Net Worth, Caste, Parents In Hindi

इशान पोरेल  भारतीय अंडर-19 टीम के खिलाड़ी है और घरेलू मैच में बंगाल के लिए खेलते है. वह दाएं हाथ से बल्लेबाजी और दाएं हाथ से मध्यम तेज गेंदबाजी करते है. वे एक हरफनमौला खिलाड़ी है, जो अपनी तेज रफ्तार गेंदबाजी फेकने में श्रेष्ठ जाने जाते है. उन्होंने अपना अंतर्राष्ट्रीय डेब्यू 12 अगस्त 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ अंडर-19 मैच में किया एवं उस साल वे दूसरे सबसे ज्यादा (अंडर-19 चैलेंजर ट्रॉफी) विकेट लेने वाली भारतीय खिलाड़ी बने थे. वह आईपीएल 2020 के सीजन से अब तक पंजाब किंग्स के साथ जुड़े हुए है.

जन्म और परिचय

इशान पोरेल का जन्म 5 सितम्बर 1998 को बंगाल के हुगली जिला में हुआ था.  उनके पिता चन्द्रनाथ पोरेल राष्ट्रीय स्तर पर कबड्डी खेल चुके है एवं रेलवे में नौकरी करते है और उनकी 2 बहन भी है. उनके दादा सुबोध चंद्र पोरेल, अपने समय के एक प्रसिद्ध कबड्डी खिलाड़ी थे, जो भारत के लिए खेले है. इशान भारतीय अंडर-19 टीम में 55 अंक की जर्सी पहनते थे.

पूरा नामइशान चन्द्रनाथ पोरेल
जन्म5 सितम्बर 1998
जन्म स्थानहुगली, बंगाल,भारत
उम्र (2022 में)24 साल
बल्लेबाजी की शैलीदाएं हाथ से
गेंदबाजी की शैलीदाएं हाथ से मध्यम तेज
पिता का नामचन्द्रनाथ पोरेल
माँ का नामज्ञात नहीं
कोच का नामबिभास दास
घरेलू टीमबंगाल क्रिकेट टीम
अंतर्राष्ट्रीय टीमभारतीय अंडर-19 टीम
आईपीएल टीमपंजाब किंग्स(2020 से 2022)
आईपीएल प्राइस20 लाख (2020 से 2021) 25 लाख (2022)
कद6’ 3” फीट
वजन75 किलो
आँखों का रंगगहरा भूरा
बालो का रंगकाला

क्रिकेट करियर

इशान का परिवार खेलो से जुड़ा हुआ है. उनके परिवार को कोई आपत्ति नहीं थी कि वो कौन सा खेल चुनते है, उन्होंने टेबल टेनिस से शुरुआत की मगर वे खेलों का आनंद नहीं ले रहे थे फिर जब उन्होंने खुले मैदान पर जाकर क्रिकेट खेलना शुरू किया तब उनको क्रिकेट खेलने में आनंद आता था उस दौरान उनके माता-पिता ने उनको चेतावनी देते हुए कहा “अगर तुम एक खेल को छोड़कर दूसरा खेल खेलोगे तो, यह तुम्हारे लिए अच्छा नहीं होगा”. उसके बाद इशान ने क्रिकेटर बनने का फैसला कर लिया और अपने गृहनगर में नेशनल स्पोर्टिंग क्लब से अपनी क्रिकेट की यात्रा शुरू की. इशान सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली को अपना आदर्श मानते हुए बल्लेबाजी करते है.

इशान 2012 में एक क्रिकेट क्लिनिक के लिए कोलकाता आए और बल्लेबाजी के लिए ऑडिशन दिया मगर उनका यह ऑडिशन कुछ खास नहीं रहा तब उनके कोच ने उनके बढ़ते कद को देखते हुए इशान को गेंदबाजी करने का सुझाव दिया जिसके बाद उन्होंने बल्लेबाजी के साथ-साथ तेज गेंदबाजी करना शुरू किया.

इशान ने 2016-17 में विदर्भ के खिलाफ विजय हजारे ट्रॉफी में बंगाल के लिए अपनी लिस्ट-ए की शुरुआत की और हरियाणा के खिलाफ 2017-18 रणजी ट्रॉफी में राज्य की ओर से प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया. उन्होंने कूच बिहार ट्रॉफी के फाइनल में दिल्ली पर बंगाल की जीत में भाग लिया और घर में इंग्लैंड के खिलाफ युवा एक दिवसीय मैचों के लिए कॉल-अप अर्जित किया और जुलाई 2018 में, उन्हें 2018-19 दिलीप ट्रॉफी के लिए इंडिया रेड के लिए टीम में नामित किया गया था. इशान को अगस्त 2019 में, 2019-20 दिलीप ट्रॉफी के लिए इंडिया ग्रीन टीम के दस्ते में नामित किया गया था. दो महीने बाद, उन्हें 2019-20 देवधर ट्रॉफी के लिए भारत-सी टीम में नामित किया गया और जनवरी और फरवरी 2020 में न्यूजीलैंड के भारत-ए दौरे के लिए चुना गया था.

फॉर्मेटमैचविकेटरन
लिस्ट-ए304724
फर्स्ट क्लास288158
टी-2022302
Ishan Porel with Sourav Ganguly

आईपीएल करियर

इशान को आईपीएल 2020 की नीलामी में किंग्स इलेवन पंजाब ने पहले ही बोली में खरीदा था एवं उनको उस सीजन में आईपीएल डेब्यू करने को नहीं मिला. उनको अगले साल फिर से पंजाब किंग्स ने अपने साथ शामिल किया और 2021 के आईपीएल सीजन में 32 वें मैच में, पोरेल ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अपना आईपीएल डेब्यू किया, उस मैच में उन्होंने चार ओवर फेंके एवं 39 रन देकर एक विकेट हासिल किया. उनको आईपीएल 2022 में पंजाब किंग्स द्वारा 25 लाख रूपए में खरीदा गया था.

अंतर्राष्ट्रीय करियर

इशान को दिसंबर 2017 में अंडर-19 विश्व कप टीम में शामिल किया गया था. दिसंबर 2017 एवं 2018 अंडर -19 क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत की टीम में नामित किया गया और विश्व कप टूर्नामेंट के पहले ही मैच में घायल हो गए और बाकी लीग के मैचों से बाहर हो गए. उन्होंने टूर्नामेंट का अपना पहला मैच क्वार्टरफाइनल में बांग्लादेश के खिलाफ खेला था. इशान 2018 के अंडर-19 वर्ल्ड कप में मात्र 3 मैच में 13 विकेट लेकर अपना नाम भारत के तेज गेंदबाजों में शामिल किया.

इशान को 26 अक्टूबर 2020 को ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारत क्रिकेट टीम के साथ यात्रा करने वाले चार अतिरिक्त गेंदबाजों में से एक के रूप में नामित किया गया था और अगले साल जून 2021 में, उन्हें भारत के श्रीलंका दौरे के लिए पांच नेट गेंदबाजों में से एक के रूप में नामित किया गया था. भारतीय टीम में कोरोनावायरस के सकारात्मक मामले के बाद, इशान को अपने अंतिम दो टी-20 अंतर्राष्ट्रीय (टी 20 आई) मैचों के लिए भारत के मुख्य टीम में शामिल किया गया था, और उनको कुछ मैचों में खेलने का मौका नहीं दिया गया था.

अगर आपके पास इशान पोरेल से जुड़ी हुई और कोई जानकारी है,तो हमे कमेंट जरुर करे.

Leave a Comment

error: Content is protected !!