सरफ़राज़ खान का जीवन परिचय | Sarfaraz Khan Biography in Hindi

क्रिकेटर सरफ़राज़ खान की जीवनी, जन्म, परिवार |
Sarfaraz Khan  Biography, Age, Career, Family, Education, Net Worth , Caste, Parents in Hindi

सरफ़राज़ खान भारतीय क्रिकेट के प्रथम शैणी के खिलाड़ी है. वह अपनी घरेलू टीम मुंबई क्रिकेट टीम की लिए खेलते है. वह  दाएं हाथ से बल्लेबाजी और दाएं हाथ से लेग ब्रेक  गेंदबाजी करते है. सरफ़राज़ क्रिकेट खेलने में इतना खो गए थे, कि उन्होंने  4 साल तक स्कूल में पढाई नहीं करके प्राइवेट कोचिंग से पढाई की. वह लोगों की नज़र में तब आए जब उन्होंने 45 साल पुराना रिकॉर्ड जो कि सचिन तेंदुलकर द्वारा बनाया गया था, उस रिकॉर्ड को तोड़ा, उन्होंने यह रिकॉर्ड 2009 में हैरिस शील्‍ड टूर्नामेंट में तोड़ा जब उन्होंने 421 बोल में 439 रन बनाए. सरफ़राज़ 2016 अंडर-19 वर्ल्ड कप के दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी बने थे.

जन्म और परिचय

सरफ़राज़ का जन्म 22 अक्टूबर 1997 को महाराष्ट्र के मुंबई में हुआ था. उनके पिता नौशाद खान भी अपने समय में क्रिकेट खेलते थे. उनका सपना था कि वह भारत टीम के लिए  खेले, उन्होंने मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी में प्रदार्पण किया.  सरफ़राज़ के दो भाई मुशीर खान और मोईन खान है, वह दोनों भाई भी सरफ़राज़ की तरह क्रिकेट खेलने में माहिर है. मुशीर मुंबई के अंडर-16 टीम के कप्तान रह चुके है. उनकी माँ तबस्सुम खान है. वह पढाई से ज्यादा समय क्रिकेट में दिया करते थे, अगर उनके जीवन में सबसे पहले कुछ आता है तो वह क्रिकेट है.

पूरा नामसरफ़राज़ नौशाद खान
उपनामसरफ़राज़
जन्म22 अक्टूबर 1997
जन्म स्थानमुंबई, महाराष्ट्र, भारत
उम्र (2022में) 25 साल
बल्लेबाजी की शैलीदाएं हाथ से
गेंदबाजी की शेलीदाएं हाथ से लेग ब्रेक 
पिता का नामनौशाद खान
माँ का नामतबस्सुम खान
भाई का नाममुशीर खान
मोईन खान
कोच का नामनौशाद खान (पिता)
घरेलू टीममुंबई क्रिकेट टीम
अंतरराष्ट्रीय डेब्यूभारतीय अंडर-19 टीम
आईपीएल टीमदिल्ली कैपिटल्स
किंग्स XI पंजाब
रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर
विवाह2022 तक नहीं हुआ
ऊंचाई5’ 5” फीट
वजन69 किलो
आँखों का रंगकाला
बालो का रंगकाला

क्रिकेट करियर

सरफ़राज़ बचपन से क्रिकेट से जुड़े हुए है. उनके पिता भी क्रिकेटर रह चुके है, लेकिन उन्होंने कभी भारत के लिए नहीं खेला. इस वजह से उनके पिता चाहते थे कि सरफ़राज़ भारतीय टीम के लिए खेले. उनको हमेशा उनके कोच जो कि उनके पिता है, का हमेशा समर्थन मिलता रहा है. सरफ़राज़ का सपना था कि वह अपने पिता का सपना पूरा करे और भारतीय क्रिकेट टीम में शामिल हो. उन्होंने अपना सबसे ज्यादा समय आजाद मैदान पर क्रिकेट के अभ्यास में बिताते है. सरफ़राज़ के जीवन में खुशियाँ तब आई जब उन्होंने 2014 अंदर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में अपने बल्ले से धुँआधार पारी खेली थी.

सरफ़राज़ ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 22 मैच खेले है जिसमे उन्होंने 6 शतक और 6 अर्ध शतक के साथ 2,099 रन बनाए है, लेकिन गेंदबाजी में उनको 150 गेंद फेकने का मौका मिला पर वह एक भी विकेट अपने नाम नहीं कर सके. उन्होंने लिस्ट–ए में 21 मैच खेलने का मौका मिला है, जिसमे उन्होंने 1 शतक के साथ 325 रन बनाए है और गेंदबाजी में एक भी विकेट नहीं ले सके. उन्होंने टी-20 में 73 मैच में 3 अर्ध शतक के साथ 862 रन बनाए है.

आईपीएल करियर

सरफ़राज़ के आईपीएल करियर  की शुरुआत 2015 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ की थी, वह 17 साल की उम्र के एक युवा खिलाड़ी थे. उनको 2015 से 2017 तक आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने 50 लाख पर अपनी टीम में शामिल रखा था, 2017 के आईपीएल के दौरान उनको चोट लगी थी, जिस वजह से वह मैच नहीं खेल सके थे. उनको 2018 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को सरफ़राज़ को अपनी टीम में शामिल करने के लिए 3 करोड़ देने पड़े थे. आईपीएल 2019 से 2021 तक उनको किंग्स XI पंजाब ने 2.5 लाख रूपए पर अपनी टीम में शामिल किया था.  सरफ़राज़ of 2022 के आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स ने 20 लाख के बेस प्राइस पर अपनी टीम के साथ जोड़ा है.

सालमैचरनविकेट
2015131110
20165660
20187510
201981080
20205330
202120

Leave a Comment