गुड़ के फायदे और गुड़ के उपयोग | Benefits And Uses Of Jaggery For Making Food In Hindi

गुड़ के फायदे और गुड़ के उपयोग
Benefits And Uses Of Jaggery For Making Food In Hindi

गुड़ को सेहत का खजाना कहा जाता है. यह सेहत के लिये बहुत लाभकारी होता है. चिकित्सक भी चीनी के स्थान पर गुड़ खाने की सलाह देते है. गुड़ ना सिर्फ स्वादिष्ट होता हैं बल्कि कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है. आमतौर पर लोग सर्दियों के मौसम में इसका ज्यादा उपयोग करते है लेकिन इसे पूरे साल भी खाया जा सकता है. गुड़ में शरीर के लिए जरूरी कई तरह के विटामिन और मिनरल्स भी मौजूद होते हैं, जो शरीर को स्वस्थ और सेहतमंद बनाए रखते है. इसलिए इसे अपनी प्रतिदिन की डाइट में जरूर शामिल करें. चलिए गुड़ के फायदे जानते है.

गुड़ खाने के फायदे (Benefits Of Jaggery)

  • पेट के लिए उपयोगी:-

प्रतिदिन भोजन के बाद गुड़ खाने से पाचन शक्ति मजबूत होती है और इससे भूख भी लगती है. यह पेट मे कब्ज, एसिडिटी या गैस की समस्या को दूर करता है. खट्टी डकार आने पर गुड़ को सेंधा नमक और काले नमक के साथ मिलाकर खाने से आराम मिलता है.

  • सर्दी जुकाम में उपयोगी:-

सर्दी-जुकाम में गुड़ बहुत असरदार होता है. गुड़ को काली मिर्ची और अदरक के साथ मिलाकर खाने से सर्दी-जुकाम में आराम मिलता है. यदि खांसी और गले मे खराश हो तो गुड़ को अदरक के साथ गर्म कर खाने से बहुत लाभ होता है.

  • ब्लड प्रेशर में उपयोगी:-

गुड़ शरीर के ब्लड प्रेशर को सामान्य करने में लाभदायक होता है. हाई ब्लड प्रेशर की समस्या वाले लोगो को डॉक्टर गुड़ खाने की सलाह देते है. इससे ब्लड प्रेशर सामान्य रखता है.

  • त्वचा के लिए उपयोगी:-

गुड़ त्वचा के लिये अत्यंत महत्वपूर्ण होता है. गुड़ रक्त से हानिकारक टॉक्सिन्स को बाहर कर त्वचा की सफाई में मदद करता है और रक्त संचार भी बेहतर करता है. प्रतिदिन गुड़ खाने से मुंहासों की समस्या नहीं होती और त्वचा में चमक(ग्लो) आती है. प्रतिदिन इसका सेवन त्वचा की समस्याओं को आंतरिक रूप से ठीक करने में मदद करता है.  

  • आँखों के लिए उपयोगी:-

गुड़ का सेवन आँखों के लिये अत्यंत उपयोगी है. इसके सेवन से आँखों की दृष्टि (रोशनी) बढ़ती है तथा आँखों मे किसी प्रकार की कमजोरी या अन्य समस्याओं में लाभ मिलता है.

  • दिमाग के लिए उपयोगी:-

गुड़ दिमाग को स्वस्थ एवं मूड को अच्छा रखने में मददगार होता है. इसके साथ ही माईग्रेन के रोगियों को प्रतिदिन गुड़ खाने से बहुत फायदा होता है. इससे याददाश्त भी अच्छी रहती हैं.

  • शरीर में ऊर्जा एवं स्फूर्ति बढ़ाने के लिए उपयोगी

गुड़ से शरीर को ऊर्जा एवं स्फूर्ति मिलती है. अधिक थकान या शरीर मे कमजोरी होने पर गुड़ खाने से शरीर मे ऊर्जा का संचार होता है तथा यह ऊर्जा के स्तर को बढ़ा देता है जिससे थकान महसूस नही होती है.

  • अस्थमा रोगियों के लिए उपयोगी:-

अस्थमा के इलाज में गुड़ बहुत उपयोगी होता है. अस्थमा के रोगियों को गुड़ और काले तिल के लड्डू बनाकर खाने से सर्दी में अस्थमा की समस्या नहीं होती और शरीर में आवश्यक गर्मी भी बनी रहती है. इसके अलावा सांस संबंधी रोगों के लिए भी लाभदायक होता है. पांच ग्राम गुड़ को समान मात्रा में सरसों के तेल में मिलाकर खाने से सांस संबंधी समस्याओं से छुटकारा मिलता है.

गुड़ के क्या- क्या उत्पाद बनाये जा सकते है | Uses Of Jaggery For Making Food In Hindi

1. गुड़ आटे की बर्फी:-

आवश्यक सामग्री– 1/2 कप घी 1 कप गेहूं का आटा, 1/4 टीस्पून इलायची पाउडर, 1/2 कप गुड़ (कद्दूकस किया हुआ)

विधि-  गुड़ आटे की बर्फी बनाने के लिए सबसे पहले मीडियम आंच पर एक कढ़ाई में घी गर्म करें.  इसमें आटा डालें और चलाते हुए हल्का सुनहरा होने तक भून लें. अब कढ़ाई को उतार लें और 1 मिनट तक ठंडा करें. गर्म आटे में इलायची पाउडर और गुड़ मिलाएं. इसे तब तक अच्छे से मिलाएं जब तक गुड़ पिघल कर अच्छी तरह से मिल न जाए. अब एक प्लेट में घी लगाकर इसमें मिश्रण को फैलातें हुए सेट करें. चाकू की मदद से चौकोर टुकड़ों में काटे और 3 से 4 घंटों के लिए छोड़ दें. इसके बाद गुड़ बर्फी बनकर तैयार है.

2. गुड़ और काजू के लड्डू

आवश्यक सामग्री– 500 ग्राम गुड, 300 ग्राम काजू, 3 बडे चम्मच घी, 200 ग्राम मखाना, 4 चम्मच सोठ, 50 ग्राम चिरौंजी, 100 ग्राम किशमिश, 4 चम्मच खसखस

विधिगुड के टुकडे कर ले. एक कढाही मे 2 चम्मच घी डाल कर काजू और मखाने को हलका सा भुन ले. अब मखाना को पिस ले और काजू के 4 टुकडे कर ले. उसी कढाई मे 1 चम्मच घी डाले और गुड डाले तथा 3 चम्मच पानी डाल कर गुड को पका ले. गुड पक गया की नही इसका पता लगाने के लिए अपने पास एक कटोरी में पानी रखे और कुछ बूंँद गुड के इसमे डाले जब इसकी गोली बनने लगे समझे गुड़ पक गया है. जब गुड पक जाए तो इसमे सभी मेवे, सोठ मिला लें. और एक थाली में फैला ले. इसे ठंडा होने के लिए रख दे. हल्का ठंडा होने पर इसकी गोल गोल आकार के लड्डू बना ले.

3. गुड़ की पूरियां:-

आवश्यक सामग्री–  दो कप गेहूं का आटा, एक बड़ा चम्मच घी, एक कप गुड़ का घोल, चुटकीभर नमक, एक चौथाई छोटा चम्मच सौंफ और घी.

विधि-  सबसे पहले एक बर्तन में गेहूं के आटे में नमक, घी और सौंफ डालकर अच्छी तरह से मिला लें. अब गुड़ के घोल से सख्त आटा गूंदें और इसे कुछ देर तक अलग रख दें. तय समय के बाद गूंदे हुए आटे की लोइयां तोड़कर पूरियां बेल लें. मीडियम आंच में एक कढ़ाई में घी गरम करने के लिए रखें. इस घी के गरम होते ही कढ़ाई में पूरियां डालकर दोनों तरफ से सुनहरी होने तक तल लें. इसप्रकार तैयार है गुड़ की मीठी पूरियां.

इसके अलावा भी गुड़ के उपयोग से अनेक स्वादिष्ट एवं स्वास्थवर्धक उत्पाद बनाये जा सकते है.

Loading...

Leave a Comment