लौकी का रस पीने के क्या है फायदे | Benefits Of Lauki (Gourd) Juice in Hindi

लौकी का रस पीने के क्या है फायदे
Benefits Of Lauki (Gourd) Juice in Hindi

सब्जियों में लौकी को सबसे पौष्टिक सब्जी माना गया है. इसमे कई तरह के पौष्टिक तत्व पाए जाते है. इसमे एंटीऑक्सीडेंट होते है जो शरीर के टॉक्सिन को बाहर निकालते है एवं शरीर को स्वस्थ रखते है. लौकी की सब्जी जितनी लाभदायक होती है उससे कई गुना ज्यादा लौकी का रस (जूस) लाभदायक होता है. यह शरीर मे ब्लड शुगर लेवल संतुलित (कंट्रोल) रहता है तथा शरीर को कई बीमारियों से बचाता है. लौकी का रस शरीर को तरोताजा बनाए रखने का काम करता है. लौकी में पाया जाने वाला फाइबर कब्ज और बवासीर की समस्या को दूर करने में मददगार होता है. कई शोध के अनुसार लौकी का रस अनिद्रा और मिर्गी के इलाज में भी फायदेमंद होता है. इसलिए लौकी के रस (जूस) को सेहत के अत्यंत लाभदायक माना जाता हैं.

अब हम जानने का प्रयास करते है कि गुणकारी लौकी का रस स्वास्थ्य के लिये किस प्रकार से फायदेमंद है.

लौकी का रस पीने के क्या है फायदे | Bottle Gourd (Lauki) Juice Benefits

1. उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) के नियंत्रण में उपयोगी :-

लौकी का रस उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने सहायक होता है. अगर नियमित रूप से एक गिलास लौकी का रस पीया जाए तो काफ़ी हद तक हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम किया जा सकता हैं. लौकी में पोटेशियम पाया जाता है जो छोटी रक्त वाहिकाओं को बड़ा करने का काम करता है. यह हमारे रक्त वाहिकाओं को शिथिल कर रक्त परिसंचरण में सुधार करता है और इस प्रकार उच्च रक्तचाप (हाई ब्लड प्रेशर) को नियंत्रित करने में सहायता करता है.

2. हृदय संबंधी समस्याओं में उपयोगी :-

वर्तमान समय मे 70 प्रतिशत लोगो को हृदय रोग का खतरा रहता है. ऐसे में अपने हृदय को स्वस्थ रखने के लिये लौकी का रस बहुत उपयोगी हैं. लौकी में पानी, विटामिन सी, विटामिन K और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में होते है. जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम कर दिल को स्वस्थ बनाये रखने में लाभकारी होते है. लौकी में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा ज़ीरो होती है तथा यह विटामिन सी और एंटी-ऑक्सीडेंट से परिपूर्ण होती है जो हृदय के लिए बहुत फायदेमंद होती है.

3. पाचनतंत्र में उपयोगी :-

लौकी में फाइबर अधिक मात्रा में पाया जाता है जो कि पानी के साथ मिलकर पाचन क्रिया को आसान बनाता है. जिससे कब्ज और एसिडिटी की समस्या से छुटकारा मिलता है. इसलिए प्रतिदिन सुबह लौकी का रस पीना चाहिए इससे शरीर का पाचनतंत्र मजबूत रहता है और पेट संबंधी समस्याओं में आराम मिलता है.

4. वजन घटाने में उपयोगी :-

लौकी के रस का सेवन वजन कम करने में उपयोगी होता है. लौकी में प्रचुर मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है तथा इसमे वासा की मात्रा बहुत कम पाई जाती है जिससे भोजन को पचाने में मदद मिलती है. इससे पर्याप्त मात्रा में शरीर को ऊर्जा मिलने के कारण भूख कम लगती है जिसके कारण वजन कम हो सकता है. यदि प्रतिदिन सुबह खाली पेट लौकी के रस को उबालकर पीया जाए तो मोटापे की समस्या से बचा जा सकता है.

5. मधुमेह (डायबिटीज) में उपयोगी :-

लौकी का रस सबसे ज्यादा मधुमेह में उपयोगी है. लौकी में एंटी डायबिटीज गुण पाए जाते है जो रक्त (ब्लड) में ग्लूकोज को कम करने का काम करते है. साथ ही यह शरीर में इंसुलिन सीरम को बढ़ाने में भी मदद करती है. मधुमेह के रोगियों को प्रतिदिन सुबह खाली पेट लौकी के रस का सेवन करना चाहिए.

6. मूत्र (यूरिन) संबंधी समस्याओं में उपयोगी :-

लौकी में विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी ,आयरन और मिनरल अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं. साथ ही लौकी के बीज में एंटीबायोटिक गुण भी जाते है जो यूरिन इंफेक्शन और यूरिन डिसऑर्डर की बीमारियों के उपचार में उपयोगी होते है. लौकी शरीर को शीतलता प्रदान करती है और शरीर मे एसिड के असर को कम कर देती है इसलिए पेशाब में जलन होने पर भी यदि लौकी का रस पीया जाए तो बहुत आराम मिलता है.

7. बालो के लिये उपयोगी :-

बालो को सुरक्षित एवं मजबूत रखने में लौकी के रस उपयोगी सिद्ध होता है. यह बालों के जल्दी झड़ने एवं सफेद बाल होने की समस्या को दूर करता है. आयुर्वेद के अनुसार लौकी के रस में तिल का तेल मिलाकर बालों की जड़ों में अच्छी तरह लगाने से बालों का झड़ना और गंजापन दूर हो जाता है. लौकी का रस बालो में रूसी को भी ख़त्म करता है इसके लिए आंवला और लौकी के रस को बराबर मात्रा में मिलाकर पीने से रूसी कम होती है साथ ही इस मिश्रण से सिर पर मालिश करने से रूसी नही होती है. अतः बालो की समस्या से निदान पाने के लिये लौकी के रस का सेवन उपयोगी होता है.

8. केंसर में उपयोगी :-

प्रतिदिन लौकी के रस के सेवन से केंसर की समस्या को दूर करने में मदद मिलती है. वैज्ञानिक शोध में पाया गया है कि लौकी में कीमोप्रीवेंटिव (कैंसर को दूर रखने वाला कारक) का प्रभाव मौजूद होता है, जो कैंसर को दूर रखने का काम करता है तथा यह त्वचा के कैंसर को भी दूर करता है इसलिए प्रतिदिन सुबह लौकी के रस का सेवन अवश्य करना चाहिए.

इन बातों का रखे ध्यान

  • लौकी का रस अगर कड़वा है, तो उसे न पिएं, क्योंकि इससे आपके शरीर को नुकसान पहुंच सकता है.
  • गर्भावस्था के समय भी लौकी का रस का सेवन नही करे, इस दौरान लौकी का कड़वा जूस भ्रूण और गर्भवती के लिए हानिकारक हो सकता है.

यदि आपको हमारा ये लेख Benefits Of Lauki (Gourd) Juice in Hindi अगर अच्छा लगा हो और इससे सम्बंधित कोई भी सवाल हो हमें कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं.

इसे भी पढ़े :

Loading...

Leave a Comment