कोलेस्टेरॉल को नियंत्रित करने के उपाय | Tip to Control Cholesterol in Hindi

कोलेस्टेरॉल क्या हैं और इसके कंट्रोल करने के आसान और घरेलु उपाय | Simple and Home Remedies to Control Cholesterol in Hindi

कोलेस्ट्रॉल एक मोम जैसा पदार्थ होता है जो आपके शरीर की सभी कोशिकाओं में पाया जाता है और यकृत से उत्पन्न होता है. आपका शरीर वह सभी कोलेस्ट्रॉल बनाता है जिसकी उसे आवश्यकता होती है. कोलेस्ट्रॉल कई खाद्य पदार्थों में पाया जाता है जैसे कि अंडे, मांस, और पनीर आदि. यदि आपके रक्त में बहुत अधिक कोलेस्ट्रॉल है, तो यह रक्त में अन्य पदार्थों के साथ मिलकर पट्टिका (Cholesterol Layer) बना देता है. पट्टिका आपकी धमनियों की दीवारों से चिपक जाती है. जो कई बीमारीयों का कारण बन सकता है, जबकि एक अच्छे स्वास्थ्य के लिए कोलेस्टेरॉल बहुत आवश्यक है लेकिन अधिक या कम कोलेस्ट्रॉल आपकी धमनियों को नुकसान पहुंचा सकता है और हृदय रोग के जोखिम को भी बढ़ा सकता है.

कोलेस्ट्रॉल के प्रकार (Types of Cholesterol)

  1. एलडीएल (कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) कोलेस्ट्रॉल या “खराब कोलेस्ट्रॉल”- यकृत से कोलेस्ट्रॉल को रक्तप्रवाह में ले जाता है, जहाँ यह रक्त वाहिकाओं से चिपक सकता है.
  2. एचडीएल (उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन) कोलेस्ट्रॉल या “अच्छा कोलेस्ट्रॉल”- रक्त में कोलेस्ट्रॉल को वापस जिगर में ले जाता है, जहां यह टूट गया है.

यहाँ इस बात को ध्यान रखना जरुरी है. एलडीएल कोलेस्ट्रॉल सबसे खराब किस्म का है, इसलिए इसे “घटिया” कोलेस्ट्रॉल कहते है और एचडीएल अच्छा कोलेस्ट्रॉल है, इसलिए इसे स्वास्थ्य के लिए “स्वस्थ” कोलेस्ट्रॉल कहा जाता है.

कोलेस्ट्रॉल के स्तर (Levels of Cholesterol)

यदि आप ह्रदय रोग से दूर रहना चाहते है तो कोलेस्टेरॉल को संतुलित रखना बहुत जरुरी है. यदि आपका कुल कोलेस्ट्रॉल स्तर – 200 से कम है तो यह सबसे अच्छा है, लेकिन फिर भी यह आपके एचडीएल और एलडीएल स्तरों पर निर्भर करता है

एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर – 130 से कम सबसे अच्छा है, लेकिन फिर भी यह हृदय रोग के लिए आपके जोखिम पर निर्भर करता है

एचडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर -यदि यह 60 है तो यह उच्चतर हृदय रोग के लिए आपके जोखिम को कम कर सकता है.

कोलेस्ट्रॉल के स्तर को क्या प्रभावित करता है

विभिन्न प्रकार की चीजें कोलेस्ट्रॉल के स्तर को प्रभावित कर सकती हैं. ये कुछ चीजें हैं जो आप अपने कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने के लिए कर सकते हैं:

आहार- आहार या खाद्य पदार्थों हमारे कोलेस्ट्रॉल के स्तर में प्रमुख है. यदि आप अपने आहार में वसा की मात्रा को कम कर लेते है तो रक्त में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो जाता है. जिन खाद्य पदार्थों में वसा का स्तर अधिक होता है जैसे मीट, डेयरी उत्पाद, चॉकलेट और गहरे तले पदार्थ इसके सेवन से आपके रक्त में कोलेस्टेरॉल का स्तर बढ़ता है.

वजन- अधिक वजन होना हृदय रोग के लिए एक जोखिम होता है. यह आपके कोलेस्ट्रॉल को भी बढ़ाता है.

शारीरिक गतिविधि- यदि आपका हदय शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं है, तो यह हृदय रोग के लिए एक जोखिम कारक है इसलिए नियमित शारीरिक गतिविधि आपके जीवन में महत्वपूर्ण स्थान रखती है इसके अलावा यह आपको वजन कम करने में भी मदद करता है.

धूम्रपान- सिगरेट पीना भी आपके कोलेस्टेरॉल स्तर को प्रभावित करता है.

आयु और लिंग- जैसे-जैसे महिलाएं और पुरुष बड़े होते जाते हैं, उनके कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता जाता है. आयु का प्रभाव भी कोलेस्टेरॉल में मुख्य है.

कोलेस्टेरॉल कम करने के लिए उपाय (Tips to reduce cholesterol)

यदि आप कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करना चाहते है तो ये कुछ स्वस्थ आहार ले जो आपके हदय को स्वस्थ रखने में मदद करेंगे. इसके अलावा यदि आप अधिक वजन वाले है तो स्वस्थ खाने के साथ संयुक्त शारीरिक गति विधि में वृद्धि भी आपको वजन कम करने में मदद कर सकती है परन्तु फिर भी यह आपके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने के लिए पर्याप्त न हो तो आप डॉक्टर की सलाह जरुर ले.

आहार योजना (Diet Plan)

  • केक और बिस्कुट
  • माँस की वसायुक्त कटौती
  • मक्खन और पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्पाद
  • नारियल
  • उच्च फाइबर युक्त आहार

कोलेस्टेरॉल बढाने के लिए उपाय (Tips to increase cholesterol)

यदि आप अपने कोलेस्टेरॉल को बढ़ाना चाहते है इन चीजों का प्रयोग अपने दैनिक जीवन में कर सकते है. कुछ सामान्य उपायों से आप अपने वजन को नियंत्रित कर सकते है. जैसे-

आहार योजना (Diet Plan)

  • जैतून के तेल का सेवन करें
  • नियमित रूप से व्यायाम करें
  • धूम्रपान न करे
  • अपना वजन कम करे

कोलेस्टेरॉल को नियंत्रित करने के कुछ सामान्य उपाय…..

  • फल, सब्जियां, साबुत अनाज अधिक मात्रा में खाएं.
  • फैट वाले खाद्य पदार्थों का सेवन न करें.
  • भरपूर नींद ले.
  • अपना वजन सामान्य रखें.
  • धूम्रपान और शराब से बचें.
  • ज्यादा से ज्यादा फाइबरयुक्त भोजन का सेवन करें.
Loading...

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment