योग की प्रमुख 10 मुद्राएं और फायदे | 10 Yoga Mudras and Benefits in Hindi

योग की मुद्राएँ जो आपको संतुलित और स्वस्थ रहने के लिए फायदेमंद हैं | Best 10 Yoga Mudras for the Good Health in Hindi | Yoga Mudra in Hindi

आप अपने हाथों से विभिन्न योग आसन बना सकते हैं, उन्हें ‘मुद्रा’ कहा जाता है. ऐसा कहा जाता है कि मुद्राएं आपके शरीर की शारीरिक, भावनात्मक और आध्यात्मिक ऊर्जा को प्रभावित कर सकती हैं. यह पूर्व में एक बहुत ही आम बात थी, और उनका उपयोग हिंदू और बौद्ध दोनों में आध्यात्मिक बुद्दिजीवियों द्वारा किया जाता था. आधुनिक युग में योगी और अन्य ध्यान चिकित्सक योग की मुद्राएं का उपयोग करते हैं.

योग की मुद्राएं (Yoga Mudras)

कुछ योग की मुद्राएं बेहद सामान्य हैं जिनका मुख्य रूप से प्रयोग किया जाता हैं.

  1. ज्ञान मुद्रा (ज्ञान की मुद्रा)
  2. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अंगूठे को छूने के लिए अपनी तर्जनी ऊँगली का उपयोग करें, और अपनी दूसरी उंगलियों को सीधा रखें।

    लाभ: आपकी रचनात्मकता, स्मृति और ज्ञान में सुधार करता है. यह विचारों में स्पष्टता लाता है और अनिद्रा को रोकता है.

    अभ्यास: आप बिस्तर पर बैठे, खड़े या लेटे हुए किसी भी समय कर सकते हैं.

  3. पृथ्वी मुद्रा (पृथ्वी की मुद्रा)
  4. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपनी अनामिका का प्रयोग करें और अंगूठे को स्पर्श करें. अन्य अंगुलियों को सीधा रखें.

    लाभ: जीवन शक्ति को बढ़ाता है, आपके शारीरिक और आध्यात्मिक तत्वों में सुधार करता है. यह आपके शरीर की कार्यक्षमता को बढ़ाता है.

    अभ्यास: कभी भी किया जा सकता है.

  5. वरुण मुद्रा (जल की मुद्रा)
  6. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अंगूठे को छूने के लिए अपनी कनिष्ठा उंगली का उपयोग करें, और अपनी अन्य उंगलियों को सीधा रखें

    लाभ: यह आपकी भावनात्मक स्थिति को संतुलित रखने में मदद करता है, ऐंठन और कब्ज के दौरान मदद करता है, जबकि मासिक धर्म चक्र को भी नियंत्रित करता है.

    अभ्यास: इसे हर दिन 15 मिनट के लिए तीन बार करें.

  7. वायु मुद्रा (वायु की मुद्रा)
  8. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपने अंगूठे का उपयोग करें और इसे तर्जनी के चारों ओर लपेटें. बाकी उंगलियों को सीधा रखें.

    लाभ: चिंता और तनाव के दौरान मदद करता है. यदि आप अधीर और अभद्र हैं, तो आप इसका उपयोग कर सकते हैं.

    अभ्यास: इसे 10-15 मिनट के लिए हर दिन तीन बार करें.

  9. शुन्य मुद्रा (शून्यता की मुद्रा)
  10. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपने अंगूठे की नोक का उपयोग करें और मध्य उंगली पर लपेटें. बाकी उंगलियों को सीधा रखें.

    लाभ: यदि आपके कान में दर्द है, तो आप इस मुद्रा का उपयोग कर सकते हैं. यह सुस्ती को कम करने, आपके आत्मविश्वास और मानसिक अनुभूति को बढ़ाने में भी मदद करता है.

    अभ्यास: इसे रोजाना 40 से 60 मिनट तक करें। अगर आपको कान में दर्द है तो इसे रोजाना 4 से 5 मिनट करें

  11. सूर्य मुद्रा (सूर्य की मुद्रा)
  12. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अनामिका का उपयोग करें और अपने अंगूठे का उपयोग करके इसे मोड़ें. बाकी उंगलियों को सीधा रखें।.

    लाभ: यह थायरॉयड ग्रंथि को उत्तेजित करने में मदद करता है, आपके पाचन तंत्र में सुधार करता है. यह वजन घटाने, चिंता और तनाव को कम करने में भी मदद करता है.

    अभ्यास: इसे रोजाना 5 से 15 मिनट तक दो बार करें.

  13. प्राण मुद्रा (जीवन की मुद्रा)
  14. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपनी अनामिका और कनिष्ठा उंगलियों का उपयोग करें. अंगूठे से मिलने के लिए उन दोनों को मोड़ें. अपनी तर्जनी और मध्यमा को सीधा रखना चाहिए.

    लाभ: जीवन शक्ति में सुधार, आपके मन, शरीर और आत्मा में स्थिरता लाता है. यह आपकी प्रतिरक्षा और प्रेरणा में भी सुधार करता है. यह आपके शरीर से आलस को दूर करने में सहायक है.

    अभ्यास: कभी भी किया जा सकता हैं.

  15. अपान मुद्रा (पाचन की मुद्रा)
  16. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपनी मध्य और अनामिका का उपयोग करें और इसे अंगूठे के नीचे झुकाएं. अपनी शेष अंगुलियों को सीधा रखें.

    लाभ: यह आपके उत्सर्जन प्रणाली को नियंत्रित करता है और आपके मल त्याग को बेहतर बनाता है. यह कब्ज और बवासीर से राहत दिलाने में भी मदद करता है.

    अभ्यास: इसे रोजाना 45 मिनट तक करें.

  17. वायु मुद्रा (हृदय का मुद्रा)
  18. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: अपनी तर्जनी का उपयोग करें और अंगूठे के आधार को छूने के लिए इसे मोड़ें. आपकी मध्य और अनामिका अंगूठे के सिरे को छूने के लिए झुकना चाहिए. अपनी कनिष्ठा को सीधा रखें.

    लाभ: आपके संचार प्रणाली में सुधार करता है. आपके दिल को चंगा करने की क्षमता है, विशेष रूप से दिल जलता है. यह गैस की समस्या को कम करने में भी मदद कर सकता है.

    अभ्यास: इसे दिन में दो बार 15 मिनट तक करें

  19. लिंग मुद्रा (गर्मी का मुद्रा)
  20. Yoga Mudras Benefits Hindi योग की मुद्राएं

    कैसे करें: इसके लिए अपने दोनों हाथों का उपयोग करें. बाएं हाथ के अंगूठे के अलावा, उन्हें इंगित करें, जो ऊपर की ओर इशारा करते हुए होना चाहिए. अपने दाहिने अंगूठे का उपयोग करें और इसे अपने बाएं अंगूठे के चारों ओर लपेटें ताकि यह दाहिने हाथ की तर्जनी को छू सके.

    लाभ: यह शरीर की गर्मी को प्रोत्साहित करने, कफ और भीड़ को कम करने में मदद करता है. यह आपके श्वसन तंत्र के लिए भी अच्छा है.

    अभ्यास: आप इसे कभी भी कर सकते हैं, लेकिन इसे ज़्यादा मत करो.

इसे भी पढ़े :

Loading...

Leave a Comment