कोरोना महामारी के कारण विद्यालय/कॉलेज की फीस माफ करने हेतु प्रार्थना पत्र | Application Letter For Fee Concession in Hindi

कोरोना महामारी के कारण विद्यालय/कॉलेज की फीस माफ करने हेतु प्रार्थना पत्र | Application Letter For fee concession in Hindi | letter for fee concession due to covid 19

नमस्कार दोस्तों आशा करता हूँ आप सभी स्वस्थ होगे. कोरोनो महामारी के कारण पूरा विश्व प्रभावित हुआ. मनुष्य प्रजाति का इस महामारी के कारण मानसिक रूप से अत्यधिक प्रभावित हुई हैं. भारत में मध्यं वर्गीय और गरीब परिवार को आर्थिक रूप से बहुत प्रभावित हुए हैं. बहुत से परिवार के बच्चे इस वर्ष शिक्षा से वन्चित रह जायेगे. बहुत से विद्यालयों ने शिक्षण शुल्क न लेने का भी निर्णय लिया हैं जोकि सराहनीय हैं. परन्तु बहुत से विद्यार्थी शुल्क देने में असमर्थ हैं. निम्नलिखित पत्र के माध्यम के से आप अपने विद्यालय के प्राचार्य से फीस माफ़ करने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

स्कूल और कॉलेज में फ़ीस माफ़ करने हेतु आवेदन पत्र | Letter For Fee Concession Due To Covid 19

सेवा में,
श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय,
सराफा विद्या निकेतन, इंदौर मध्यप्रदेश

विषय : विद्यालय की फीस माफ करने हेतु (Letter For fee concession)

महोदय,

विनम्र निवेदन है कि मैं रोहन कुमार आपके विद्यालय का कक्षा ग्यारहवीं का छात्र हूं. महोदय कोरोना महामारी (लॉकडाउन) के कारण हमारे परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत प्रभावित हुई है. मेरे पिताजी एक प्राइवेट कंपनी में कार्यरत थे परंतु इस महामारी के कारण कंपनी में अधिक व्यापार ना होने की वजह से कंपनी के कई कर्मचारियों को निकाल दिया गया. जिनमें मेरे पिताजी भी शामिल है. मेरे परिवार की आर्थिक स्थिति बहुत दयनीय हो गई है. परिवार में कुल 8 लोग हैं जिनकी जिम्मेदारी मेरे पिताजी पर है. परिवार का भरण पोषण बहुत मुश्किलों के साथ हो रहा है. जिसके कारण मैं अपने विद्यालय की फीस भरने में असमर्थ हूं.

महोदय, मैं आपके विद्यालय का नियमित एवं मेधावी छात्र हूं. आप विद्यालय के किसी भी शिक्षक से मेरी गतिविधियों के बारे में पता कर सकते हैं. मैं विद्यालयों के सांस्कृतिक और शारीरिक कार्यक्रम में भी हिस्सा लेता हूं.
कृपया मेरी फीस माफ करने की कृपा करें ताकि मैं अपना अध्ययन सुचारु रुप से पूरा कर सकूं. मुझे आशा है कि आप मेरी और मेरे परिवार की स्थिति को देखते हुए मुझे सहायता प्रदान करेंगे. इस उपकार के लिए मैं आपका सदा आभारी रहूंगा.

धन्यवाद
आपका आज्ञाकारी छात्र
रोहन कुमार
कक्षा : ग्यारवी
क्रमांक : 23104
दिनांक :

यदि आप किसी भी विषय पर पत्र लिखना सीखना चाहते हैं तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में जरुर बताएं.

इसे भी पढ़े :

Loading...

Leave a Comment