आचार्य बालकृष्ण की जीवनी | Acharya Balkrishna Biography in Hindi

आचार्य बालकृष्ण की जीवन परिचय | Acharya Balkrishna Biography, Wiki, Age, Bio, Cast, Family, Yoga, History, Award & Achievements in Hindi

आयुर्वेद की दुनिया में बहुत बड़ा नाम आचार्य बालकृष्ण का है. आचार्य बालकृष्ण इनके आयुर्वेद के ज्ञान केलिए जाने जाते है. वे योग गुरु बाबा रामदेव के सहयोगी है. फिलहाल वे आयुर्वेद केंद्र पतंजलि योगपीठ के अध्यक्ष है. वे आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार के साथ-साथ योग के प्रति भी लोगों को जागरूक बनाने का कार्य कर रहे हैं. उन्होंने आयुर्वेद के क्षेत्र में बहुत बड़ा योगदान दिया है.

आचार्य बालकृष्ण की जीवनी | Acharya Balkrishna Biography in Hindi

बिंदु (Points)
जानकारी (Information)
नाम (Name)बालकृष्ण सुवेदी
जन्म (Date of Birth)4 अगस्त 1972
जन्म स्थान (Birth Place)हरिद्वार, भारत
पिता का नाम (Father Name)जय वल्लभ
माता का नाम (Mother Name)सुमित्रा देवी
पेशा (Occupation )प्रबंध निदेशक पतंजली आयुर्वेद
जाति (Cast)ज्ञात नहीं
वैवाहिक स्थिति (Marital status)अविवाहित
अवार्ड (Award)ब्लूमबर्ग स्पेशल रिकॉग्निशन पुरस्कार
कनाडा इंडियन नेटवर्क सोसाइटी द्वारा सम्मान
नेपाल के कैबिनेट द्वारा सम्मान
भारत गौरव पुरस्कार

प्रारम्भिक जीवन | Acharya Balkrishna Early Life

बालकृष्ण का जन्म 4 अगस्त 1972 को भारत के हरिद्वार, उत्तराखंड में हुआ था. ये मूलरूप से नेपाली है. इनके पिता का नाम जय बल्लभ तथा इनकी माता का नाम सुमित्रा देवी है.

उन्होंने कालवा गुरुकुल, हरियाणा से शिक्षा प्राप्त की. शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने पौधों के औषधीय मूल्यों का अध्ययन करने के लिए भारत यात्रा की. उसके बाद उन्होंने संस्कृत में आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी-बूटियों के ज्ञान में निपुणता प्राप्त की.

जीवन सफ़र | Acharya Balkrishna Journey Of Life

बालकृष्ण जी ने आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी-बूटियों का ज्ञान प्राप्त किया. उसके बाद उनकी मुलाक़ात योग गुरु रामदेव बाबा से हुई. वर्ष 1993 में वह बाबा रामदेव के साथ हिमालय की गुफाओं में रहते थे. बाबा रामदेव के सहयोग में उन्होंने आयुर्वेदिक दवाओं और उपचार के संगठनों को स्थापित करना शुरू कर दिया. दोनों के परिश्रम से “दिव्य फार्मेसी” का निर्माण हुआ. आयुर्वेद के प्रचार-प्रसार के साथ साथ बालकृष्ण जी ने लोगों को योग के प्रति जागरूक करने का कार्य किया. उन्होंने पतंजलि योगपीठ के आयुर्वेद केंद्र के माध्यम से पारंपरिक आयुर्वेद पद्धति को आगे बढ़ाने का महत्वपूर्ण कार्य किया.

रचनाएँ | Acharya Balkrishna literature

आचार्य बालकृष्ण ने शोध के क्षेत्र में भी अपना अहम योगदान दिया है. वे अब तक योग, आयुर्वेद और दवाइयों से संबन्धित 41 शोध पत्र लिख चुके हैं. उन्होंने विभिन्न विद्यालयों के परिसर में मिलने वाले खाद्य पदार्थों के संबंध में अध्ययन किया और प्रयोगशालाओं में इसका परीक्षण भी किया है. बालकृष्ण ने आयुर्वेद से संबंधित कुछ उल्लेखनीय पुस्तकों की भी रचना की है.

आचार्य बालकृष्ण द्वारा लिखित कुछ पुस्तकें –

  • आयुर्वेद सिद्धान्त रहस्य
  • आयुर्वेद जड़ी-बूटी रहस्य
  • भोजन कौतुहलम्
  • आयुर्वेद महोदधि
  • अजीर्णामृत मंजरी
  • विचार क्रांति (नेपाली ग्रंथ)
  • शोध पत्र प्रकाशन

पद | Acharya Balkrishna Positions

  • कुलपति,पतंजलि विश्वविद्यालय
  • महासचिव,पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट
  • महासचिव, पतंजलि रिसर्च फाउंडेशन
  • महासचिव, पतंजलि ग्रामोध्योग ट्रस्ट
  • अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, पतंजलि आयुर्वेद, हरिद्वार
  • मुख्य संपादक योग संदेश
  • प्रबंध निदेशक, पतंजलि बायो अनुसंधान संस्थान
  • प्रबंध निदेशक, वैदिक ब्रॉड कास्टिंग लिमिटेड
  • पतंजलि फूड एंड हर्बल पार्क के प्रबंध निदेशक

पुरस्कार और सन्मान | Acharya Balkrishna Awards and Honors

आचार्य बालकृष्ण को योग और आयुर्वेद के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है. कुछ उल्लेखनीय सम्मान निम्नवत हैं-

  • 23 अक्टूबर 2004 को राष्ट्रपति भवन में भारत के पूर्व राष्ट्रपति डॉ अब्दुल कलाम के द्वारा सन्मानित किया गया.
  • 2007 में नेपाल में योग, आयुर्वेद, संस्कृति और हिमालयी जड़ी बूटी के छिपे ज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान के लिए सन्मानित किया गया.
  • 2012 में योग और औषधीय पौधों के क्षेत्र में योगदान के लिए श्री वीरंजनया फाउंडेशन द्वारा “सुजाना श्री ‘पुरस्कार प्रदान किया गया.

रोचक जानकारी | Acharya Balkrishna Interesting Facts

  • बालकृष्ण जी का जन्म दिवस पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट से जुड़े लोग ‘जड़ी-बूटी दिवस’ के रूप में मनाते हैं.
  • वे पतंजलि योगपीठ ट्रस्ट के एक महासचिव होने के साथ साथ 5,000 पतंजलि क्लीनिक की देखभाल भी करते है.
  • बालकृष्ण रोजाना सुबह 7 से रात 10 बजे तक 15 घंटे काम करते हैं और कोई छुट्टी नहीं लेते.
  • वर्ष 2021 के अनुसार बालकृष्ण जी की आर्थिक संपत्ति 230 crores USD है.
  • वर्ष 2006 में, Hurun India Rich List की अरबपतियों की सूची में बालकृष्ण 48वें पायदान पर थे.
  • बालकृष्ण एक पत्रिका “योग संदेश” के मुख्य संपादक भी हैं.

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment

error: Content is protected !!