अज्ञात बटुआ मिलने पर प्राचार्य को पत्र | Application for Lost Purse to principle in Hindi

स्कूल परिसर में रुपयों से भरा अज्ञात बटुआ मिल जाने पर उसे उचित व्यक्ति तक पहुँचाने के लिए प्राचार्य को पत्र | Application for Lost / Stolen Purse or Wallet to principle in Hindi

यदि आपको रुपयों से भरा बटुआ मिल जाता है जिसमे उपयोगी दस्तावेज है और आप नहीं जानते की यह बटुआ किसका है तो इस परिस्थिति में आप अपने प्रधानाचार्य को एक पत्र लिख कर वह बटुआ उन्हें सौंप सकते है ताकि विद्यालय प्रशासन उस बटुए को उचित व्यक्ति तक पहुंचा सके. नीचे हम आपको पत्र का एक उदाहरण दे रहे है जिसके माध्यम से आप उचित जानकारी भर कर वह पत्र अपने प्राचार्य को दे सकते है.

अज्ञात बटुआ मिलने पर प्राचार्य को पत्र (Application for Lost Purse to principle)

सेवा में,
श्रीमान प्रधानाध्यापक,
(विद्यालय नाम)
(स्थान)

विषय: रुपयों से भरा अज्ञात बटुआ मिल जाने पर उसे उचित व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए आवेदन पत्र.

महोदय/ महोदय,

सविनय निवेदन है कि मैं आपके विद्यालय में कक्षा ….. का छात्र/छात्रा हूँ. मेरा नाम …… है. कल जब में स्कूल से घर जा रहा था तो मुझे स्थान …… पर पैसो से भरा हुआ एक बटुआ मिला जिसमें एक व्यक्ति का आधार कार्ड, पेन कार्ड, ए.टी.एम. कार्ड और कुछ अन्य जरुरी दस्तावेज भी है और करीब 5000 रूपए है.

अतः श्रीमान में यह बटुआ आपको सौप रहा हूँ/ रही हूँ. आपसे निवेदन है की आप इस पर उचित कार्यवाही करे और इसे जल्द से जल्द सही व्यक्ति के पास पहुँचाने की कृपा करे.

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी छात्र/ छात्रा
नाम-
कक्षा-
दिनांक-

इसे भी पढ़े :

Loading...

Leave a Comment