पिताजी से रूपए मनीऑर्डर द्वारा माँगने के लिए पत्र | Application to Father for Asking Money Order in Hindi

पिताजी से 300 रुपये पुस्तकें और अन्य (फीस आदि) खर्च के लिए मनीऑर्डर द्वारा मंगाइए के लिए पत्र | Application for father asking for Rs.300 by Money Order in Hindi

हमे काफी दिनों से घर से बाहर रहते है, तब उस समय हम जो अपने माता पिता को पत्र लिखकर अपने बारे में संदेश और उनके हाल-चाल पूछने के लिए जो पत्र का इस्तेमाल करते है, उसे पत्र को अनौपचारिक पत्र कहते है. हमने आपके लिए जो पत्र लिखा है वह भी एक अनौपचारिक पत्र है, जिसमे एक छात्र अपने पिता को पत्र लिखकर 300 रूपए अपने लिए नई पुस्तक लाने के लिए मनीऑर्डर द्वारा मंगवाता है.

अनौपचारिक पत्र

6. आनंद नगर,
जबलपुर (म.प्र.)
दिनांक- 15-08-20
पूज्यनीय पिताजी,
सादर चरण स्पर्श
मैं यहाँ सकुशल हूँ. आशा करता हूँ कि आप सब लोग सकुशल होंगे.आपके निर्देशों का मैं पूरी तरह पालन कर रहा हूँ. मेरा अध्ययनना नियम से चल रहा है. मेरी छ:माही परीक्षा 15-09-20….. से हो रही है मुझे कुछ पुस्तकें और स्टेशनरी आदि खरीदनी है.फ़ीस भी देनी है. अतः मुझे 300 रुपये की आवश्यकता है. इसलिए कृपया उक्त धनराशी यथाशीघ्र मनीऑर्डर द्वारा भेजने का कष्ट कीजिएगा. शेष कुशल है.
अनुज को प्यार माताजी को सादर प्रणाम
आपका आज्ञाकारी पुत्र
लवी
पता-श्री घनश्यामदास अवस्थी 
अयोध्या नगर,
भोपाल (म.प्र)

ध्यान देने योग्य आवश्यक बातें

पत्र प्लेन पेपर पर लिखें : पत्र को हमेशा प्लेन पेपर पर लिखा होना चाहिए, किसी भी प्रकार की अन्य जानकारी पत्र के साथ ना लिखी हुई हो. इसके अलावा पत्र को पूरे पेज पर लिखा होना चाहिए, एक पेज को दो हिस्सों में करके ना लिखे.
गलती ना हो : कई बार छात्र पत्र लिखते समय कई गलतियाँ कर देते हैं. इसीलिए जरुरी हैं कि पत्र में किसी भी प्रकार की शब्दों से जुडी हुई गलतियाँ नहीं होनी चहिए.
विषय की स्पष्टता : पत्र लिखते समय हमारा विषय स्पष्ट होना चाहिए. उसमे समझाने में कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए. हमारे लिखे हुए शब्द सरल एवं स्पष्ट होने चाहिए ऊपर लिखे पत्र में भी आपने पढ़ा होगा कि एक छात्र ने अपने पिता को पत्र लिखते वक्त आसान भाषा का प्रयोग किया है, जिसको कोई भी पढ़ सकता है.
लेखन की सुन्दरता : पत्र की लेखन कला का भी आवदेन प्राप्तकर्ता के सामने प्रभाव पड़ता हैं. लेखन जिनता सुन्दर और मात्रा की गलतियों के बिना होगा उनता उन्नत रहेगा एवं एक बात का ध्यान रखे की पत्र के अक्षर एक समान लिखे हो कोई अक्षर बड़ा या छोटा नहीं होना चाहिए.

आशा हैं की आपको यह पत्र अच्छा लगा होगा. इसी तरह की और पत्र लेखन प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट के Notification को Allow करके हमारी वेबसाइट से जुड़े. इसी प्रकार के अन्य विषय पर यदि आप पत्र चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिखे.

Leave a Comment

error: Content is protected !!