शाहरुख़ खान का जीवन परिचय | Shahrukh Khan Biography in Hindi

शाहरुख़ खान का जीवन परिचय | Shahrukh Khan Biography, Wiki, Age, Family, Wife, Net Worth, Show, Movies, Bollywood In Hindi

दोस्तों, आज इस लेख में भारतीयों के दिलों में राज करने वाले बादशाह, शाहरुख़ खान का जीवन परिचय आज आप जानेंगे. जीवन में किसी भी क्षेत्र में जित हासिल करने केलिए इंसान में जज्बा और काम केलिए दिल में चाह होना जरुरी है. शाहरुख़ खान के जीवन में भी कई कठिनाइयाँ आयी, जिसके बावजूद उन्हें सफलता प्राप्त हुई. आज इस लेख में हम उनकी सफलता की कहानी जानेंगे. उनकी सफलता का श्रेय वे उनके बुरे वक्त में साथ देने वाले लोगों को देते है. तो आइये आगे शाहरुख़ खान का जीवन परिचय विस्तार से जानते है.

प्रारम्भिक जीवन | Shahrukh Khan Early Life

पूरा नामशाहरुख़ खान
जन्मतिथि02 नवंबर 1965
जन्मस्थाननई दिल्ली
पिता का नामताज मोहम्मद ख़ान
माता का नामलतीफ़ा फ़ातिमा
बहन का नामशहनाज़ (प्यार से लालारुख)
स्कूली शिक्षासेंट कोलम्बा स्कूल (नई दिल्ली)
कॉलेजहंसराज कॉलेज (अर्थशास्त्र)
उच्च शिक्षाजामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय (मास कम्युनिकेशन)
पत्नीगौरी ख़ान (Love Marriage)
संतानेआर्यन (1997), सुहाना(2000), अब्राहम(Surrogacy)

अभिनय | Shahrukh Khan Acting

शाहरुख़ खान ने अपना करियर 1988 में ‘फ़ौजी’ नामक धारावाहिक से प्रारम्भ किया. उसके बाद उन्होंने कई धारावाहिकों में कार्य किया, जिनमें ‘सर्कस’ काफी लोकप्रिय साबित हुआ. इन सेरिअल्स के जरिये उनकी पहचान बन चुकी थी. उस ही वर्ष उन्होंने अरुंधति राय द्वारा लिखित अंग्रेज़ी फ़िल्म “इन विच एनी गिव्स इट दोज़ वंस” में एक छोटा किरदार निभाया था.

यह शाहरुख़ खान के करियर का शुरूआती दौर था. इस समय उनके पास खुदका घर तक नहीं था. और इस ही समय उनका गौरी के साथ अफेयर चल रहा था. धर्म अलग होने के कारण और खान की परिस्थिति देखते हुए गौरी के परिवार वाले शादी केलिए राज़ी नहीं थे. इसके चलते गौरी के परिवार ने उन्हें मामा के घर मुंबई भेज दिया. प्यार में अंधे खान, गौरी के पीछे पीछे मुंबई पहुँच गये, और गौरी को ढूंढ़ने दर बदर भटकने लगे थे. किसी तरह एक दिन गौरी के साथ उनकी मुलाक़ात हो गयी और उसके तीन महीने बाद उन्होंने हिन्दू रीती-रिवाज़ से शादी कर ली.

शादी के बाद भी उन्हें कई समस्याओं का सामना करना पड़ा था. बॉलीवुड में उनकी पहली फिल्म ‘दीवाना’ ने लोगों को अपना दीवाना बना डाला था. इस फ़िल्म के लिए उन्हें फ़िल्मफ़ेयर की तरफ़ से सर्वश्रेष्ठ प्रथम अभिनय का अवार्ड मिला था. 1993 में रिलीज़ हुई ‘बाजीगर’ फिल्म सुपरहिट हुई. इस फिल्म में एक हत्यारे का किरदार निभाने के लिए उन्हें अपना पहला फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार मिला था. इसके बाद शाहरुख़ खान ने एक के बाद एक हिट फिल्में बॉलीवुड को दी. इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. आज तक उनकी कई फिल्में असफल रही. लेकिन, उन्होंने कभी भी हार नहीं मानी और हमेशा अपना बेस्ट शॉट देते रहे.

कड़ी मेहनत और मोटिवेशन | Shahrukh Khan Hard work and Motivation

शाहरुख़ खान अक्सर अपने इंटरव्यू में बताते है कि, वे बिलकुल भी अपना वक्त बर्बाद नहीं करते. वे छह घंटे से ज्यादा समय तक कभी भी नींद नहीं लेते. वे यह भी कहते है कि, उन्हें आलिशान होटल्स की सुविधाये जैसे स्पा, मसाज आदि में दिलचस्पी नहीं है, इन सब बेकार की बातों से वक्त बर्बाद होता है. वे हररोज सुबह जागने के बाद एक्सरसाइज करते है, हालाँकि उन्हें यह करना अच्छा नहीं लगता. काम केलिए जाने के समय वे गाड़ी में किताबे पढ़ते है.

फिल्म के निर्देशक उनकी तारीफ़ में कहते है कि, वे जबतक कोई डायलॉग ठीक से नहीं बोल पाते, वे रेस्ट नहीं लेते, लगातार 3-4 घंटे तक काम करते रहते है. शाहरुख़ के साथ काम करने में हमे भी मज़ा आता है. अगर कोई फिल्म फ़ैल हो जाती है, तो वे कभी हताश नहीं होते, बल्कि अगली बार बेहतर काम करने का निश्चय करते है. वे कहते है कि, उन्हें उनके परिवार के साथ वक्त बिताना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है, लेकिन काम छोड़कर मैं यह भी नहीं करता. उनके परिवार के लोग जिनमें पत्नी गौरी और 3 बच्चे शामिल है, वह भी उन्हें पूरा सहयोग करते है.

शाहरुख़ अपनी सफलता का श्रेय अपनी पत्नी और बच्चों को देते है, इसके अलावा जो लोग उनके बुरे वक्त में मदद केलिए आगे आये उन्हें भी वे अपनी सफलता का श्रेय देते है. वे महिलाओं का खुप सन्मान करते है. वे कहते है कि, मैंने जब बॉलीवुड में कदम रखा, तब मुझे कई सारी चीज़ो का ज्ञान नहीं था. लेकिन, जो महिलाएँ मेरे जीवन में आयी, मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा है.

रोचक जानकारी | Shahrukh Khan Interesting Facts

  • शाहरुख़ खान के पिताजी, ताज मोहम्मद ख़ान एक स्वतंत्रता सेनानी थे.
  • उनकी माँ लतीफ़ा फ़ातिमा मेजर जनरल शाहनवाज़ ख़ान की पुत्री थी.
  • बचपन में शाहरुख़ खान क्रीड़ा क्षेत्र, शैक्षिक जीवन और नाट्य कला में निपुण थे. स्कूल की तरफ़ से उन्हें “स्वोर्ड ऑफ़ ऑनर” से नवाज़ा गया जो प्रत्येक वर्ष सबसे काबिल और होनहार विद्यार्थी एवं खिलाड़ी को दिया जाता था.
  • गौरी खान एक डिज़ाइनर तथा फिल्म प्रोडूसर है.
  • शाहरुख़ और गौरी खान के तीसरे बेटे अब्राहिम ‘सरोगेसी’ की मदद से पैदा हुए है.
  • शाहरुख़ और उनका परिवार मुंबई में समुन्दर के नजदीक ‘मन्नत’ नामक बंगले में रहते है.
  • फिलहाल उनके बेटे आर्यन और बेटी सुहाना खान विदेश में पढाई कर रहे है.
  • साल 2020 के अनुसार, शाहरुख़ खान की नेट वर्थ $600 million है.
  • शाहरुख़ खान कुल 297 अवार्ड्स अपने नाम कर चुके है.

सन्मान एवं पुरस्कार | Shahrukh Khan Awards and Honors

  • 2005 में ‘पद्मा श्री’ अवार्ड से सम्मानित किया गया था.
  • 2012 में ‘असिअनेट फिल्म अवार्ड्स’ द्वारा ‘लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड्स’ से सम्मानित किया गया था.
  • 2014 में ‘असिअनेट फिल्म अवार्ड्स’ द्वारा ‘इंटरनेशनल आइकॉन ऑफ़ इंडियन सिनेमा’ के अवार्ड से सम्मानित किया गया था.
  • 2015 में ‘द एशियाई अवार्ड्स’ द्वारा ‘ऑउटस्टैंडिंग कंट्रीब्यूशन सिनेमा’ के अवार्ड से सम्मानित किया गया था.
  • 2011 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (माई नेम इज़ ख़ान)
  • 2007 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (चक दे! इंडिया)
  • 2005 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (स्वदेश)
  • 2003 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (देवदास)
  • 1999 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (कुछ कुछ होता है)
  • 1998 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (दिल तो पागल है)
  • 1996 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे)
  • 1994 में फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (बाज़ीगर) 

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment