मोबाइल वायरस क्या होता हैं और इससे कैसे बचा जा सकता हैं | Best Mobile Antivirus App for Android in Hindi

Best Mobile Antivirus App for Android in Hindi दोस्तों, ऐसा कहा जाता हैं कि 20 सदी औद्योगिक क्रांति के लिए जानी जाती हैं. इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए यदि ये कहा जाए कि 21वी सदी तकनीकी क्रांति के लिए जानी जाएगी, तो ये कोई अतिशयोक्ति नही होगी.

हर दिन दुनिया में कुछ का कुछ ऐसी तकनीकी विकसित की जा रही है. जिससे हमारी जिंदगी और आसान हो जाये.

पर इस तकनीकी क्रांति का सबसे बड़ा उदाहरण यदि देखना हो तो हमे मोबाइल की यात्रा के बारे में देखने से पता चल जाएगा.

अभी कुछ ज्यादा समय नही हुआ जब लैंडलाइन पर सिर्फ बात करने के लिए पीसीओ में लोगो की लाइन लग जाया करती थी.

तब यदि किसी से यह कहते कि, “एक दिन ऐसा भी होगा जब हम घर बैठे किसी दूसरे शहर में रह रहे इंसान से बात ही नही बल्कि उसे देख भी सकते हैं मोबाइल फ़ोन के जरिये” तो शायद ही इन बातों पर कोई यकीन नहीं करता पर आज नई तकनीकी से स्मार्टफोन की मदद से ये सब संभव हैं. इसके अलावा यहाँ तक की अब पैसो का लेन- देन भी करने के लिए बैंक जाने की जरूरत नही पड़ती, सेकंडों में हम कही भी पैसे भेज सकते हैं. आज एक बिज़नेसमैन अपना पूरा बिज़नेस स्मार्टफोन पर संभाल लेता हैं. एक तरीके से कहे तो स्मार्टफोन ने लोगो की जिंदगी को बहुत आसान कर दिया हैं.

लेकिन एक बात कहते हैं कि अच्छाई कभी अकेले नही आती, अपने साथ कुछ बुराई ले कर के आती हैं. स्मार्टफोन आज लोगो की हर छोटी सी जानकारी भी रखता हैं. बैंक डिटेल से लेकर पर्सनल कॉन्टैक्ट जैसे फेसबुक, whatsapp, आदि. इसलिए आज इन मोबाइल की सुरक्षा एक गम्भीर विषय हैं.

स्मार्टफोन की सुरक्षा में सबसे बड़ी बाधा वायरस हैं. वायरस की सहायता से किसी भी स्मार्टफ़ोन को आसानी से हैक किया जा सकता हैं और उनमे पड़ी हुई गोपनीय जानकारी तक पहुच बनाई जा सकती हैं.

तो आज मैं आप लोगो को इन वायरस और उससे बचाव से जुड़ी हुई कुछ बाते बताऊंगा.

मोबाइल वायरस क्या हैं (What is Mobile Virus in Hindi)

कंप्यूटर और मोबाइल के क्षेत्र से जुड़े लगभग हर व्यक्ति का इस शब्दावली से बहुत अच्छे से पहचान होती हैं. यदि किसी परिपेक्ष में हम वायरस की तुलना किसी devil से करे तो यह कोई अतिशयोक्ति नही होगी क्योंकि वायरस मोबाइल के लिए बहुत हानिकारक होता हैं.

यदि आसान भाषा मे कहे तो वायरस एक तरह का प्रोग्राम सॉफ्टवेयर होता हैं. वायरस और बाकी अन्य सॉफ्टवेयर में बस ये अंतर होता हैं कि अन्य सॉफ्टवेयर हमारी सहायता के लिए होते हैं, जो काम को आसान बनाते हैं, जिन्हें constructive software कहते हैं.

जबकि वायरस एक ऐसा सॉफ्टवेयर होता हैं , हो मोबाइल को नुकसान पहुचता हैं. इसे Destructive software भी कह सकते हैं.

वायरस भी कई प्रकार के होते हैं. जिनको अलग-अलग उद्देश्यों के लिए बनाया जाता हैं.

1. जैसे कुछ वायरस इस तरह के होते हैं जो मोबाइल की बैटरी को damage कर देते हैं. वो इस तरह से डिज़ाइन होते हैं, जो मोबाइल बैटरी को बहुत जाता गरम कर देता हैं.

2. इसके अलावा कुछ वायरस डेटा को मिटा देते हैं.
3. कुछ वायरस डेटा को किसी अन्य जगह स्थानांतरित कर देता हैं.
4. कुछ वायरस पूरे डेटा को लॉक तक कर सकते हैं.

इसके अलावा भी आज तक दुनिया में बहुत तरह के वायरस बनाये जा चुके हैं. वायरस आने का प्रमुख स्रोत इंटरनेट होता हैं.

वायरस की पहचान (Identification of Virus in Mobile in Hindi)

how do i know if my phone has a virus यदि हमारे फ़ोन पर वायरस का प्रवेश हो गया हैं तो फ़ोन के काम करने का तरीका बदल जाता हैं. इसके अलावा भी कई और तरीके जिनकी मदद से वायरस की मौजूदगी का पता चल सकता हैं:

1. यदि फ़ोन की बैटरी अचानक जल्दी डिस्चार्ज होने लगे पहले की तुलना में तो ये एक वायरस होने का संकेत हो सकता हैं.

2. यदि महीने का डेटा जो आप उपयोग करते हैं, वो अचानक बढ़ जाये तो ये भी वायरस होने का संकेत हैं, क्योंकि वायरस बैकगॉउन्ड बहुत सी ऐसी गतिविधि करता हैं, जो इंटरनेट के उपयोग से जुड़ी होती है, जिस कारण डेटा जड़ उपयोग होता हैं.

3. यदि कुछ अनचाहे apps खुद ही डाउनलोड हो जाये.

4. यदि मोबाइल की खाली स्पेस अचानक भर जाए.

5. यदि फ़ोन स्लो चलने लगे.

6. कुछ apps स्वतः की डैमेज हो जाये.

7. आपके मोबाइल का बिल बिना आपकी जानकारी के अचानक ज्यादा हो जाये, क्योंकि वायरस लगातार ऐसे संदेश भेजता हैं, जिनका चार्ज ज्यादा होता हैं.

बचाव के उपाय (Mobile Virus se Bachne ke Upay)

कहते हैं कि यदि कोई समस्या हैं तो उसका समाधान भी अवश्य खोजा जाता हैं. वायरस एक गंभीर समस्या हैं. पर इसका भी एक समाधान हैं, जिसे एन्टीवायरस कहते हैं.

एंटीवायरस क्या हैं (What is Mobile Antivirus in Hindi)

एंटीवायरस एक सॉफ्टवेयर होता हैं , जिसका उद्देश्य मोबाइल में होने वाले किसी भी तरह के वायरस आक्रमण से उसे सुरक्षित रखना हैं.
इसके अलावा कुछ ऐसे apps भी हैं, जो मोबाइल सुरक्षा के लिए खतरा हैं, जैसे Trojan, Malware, Bugs इनसे भी एंटीवायरस मोबाइल को सुरक्षित रखता हैं.

एंटीवायरस कैसे काम करता हैं (How Mobile Antivirus Works in Hindi)

एंटीवायरस को जब डिज़ाइन(coding) किया जाता हैं, उस वक़्त एंटीवायरस में अब तक पहचाने गए सभी वायरस की जानकारी और उनकी पहचान से जुड़े हुए रिलीफ प्रोग्राम्स उन्हें एंटीवायरस में डाल दिया जाता हैं.

अब जैसे ही एन्टीवायरस किसी नए app या नया डेटा ले संपर्क में आता हैं, वो उसे स्कैन करता हैं. स्कैन के दौरान वो अपने अंदर संग्रहित डेटा का मिलान स्कैन होने वाले डेटा से करता हैं. यदि डेटा का कुछ प्रतिशत भी एंटीवायरस के डेटा से मिलता हैं, तो एंटीवायरस, app में वायरस होने की सूचना देता हैं.

अपने मोबाइल को सुरक्षित रखने के लिए एंटीवायरस को लगातार अपडेट करना आवश्यक हैं.

क्योंकि जो भी कंपनी ने उस एंटीवायरस को बनाया हैं, वो लगातार उस एंटीवायरस में नए वायरस सी जुड़ी जानकारी को डालते रहते हैं. लेकिन यदि आपके एंटीवायरस के नए वायरस की जानकारी नही हैं, तो वो उस वायरस की पहचान नही कर पायेगा और आपका फ़ोन एंटीवायरस होने के बावजूद वायरस के आक्रमण का शिकार हो जाएगा.

कुछ सावधानियां (Mobile Virus Precautions)

एंटीवायरस के बचाव के अलावा भी कुछ सावधानियां जरूरी हैं. क्योंकि कुछ एंटीवायरस भी पूरी सुरक्षा नही दे पाते. अब ऐसे भी वायरस हैं जिनसे एप्पल फ़ोन भी सुरक्षित नही है.

इसलिए सावधानी भी बचाव का एक तरीका हैं.

1. एंड्राइड यूजर गूगल प्ले स्टोर के अलावा किसी अन्य स्रोत से apps डाउनलोड न करे क्योंकि वो भरोसेमंद नही होते.

2. सामूहिक wifi क्षेत्र में वायरस होने का खतरा सबसे ज्यादा होता हैं. इसलिए ज्यादा wifi उपयोग से बचे.

3.मोबाइल में एक अच्छा एंटीवायरस जरूर रखे.

4. किसी भरोसेमंद स्त्रोत से ही डेटा का आदान-प्रदान करें.

5 किसी दूसरे की memory card use करने से बचे.

इन सावधानियों के साथ आप अपने मोबाइल वायरस से बचा सकते हैं.

एंटीवायरस के प्रकार (Mobile Virus Types in Hindi)

एंटीवायरस भी दो तरह के होते हैं

1. पेड एंटीवायरस (Paid Mobile Antivirus), जिन्हें हम खरीदते हैं.
2. फ्री एंटीवायरस (Free Mobile Antivirus), जिन्हें इनस्टॉल करने के लिए कोई शुल्क नही देनी पड़ती हैं.

यहाँ पर मैं आपको कुछ अच्छे पेड और फ्री एंटीवायरस के बारे में बताउगा.

List of Best Mobile Antivirus in Hindi

1. Bitdefender Mobile Security

2.Avast mobile security

3. CM security

4.Norton Mobile Security

5.AVG

6.Avira Antivirus Security

7.AhnLab V3 Mobile Security

8. Trend Micro Mobile Security & Antivirus

9.Sophos Free Antivirus and Security

10.McAfee Security & Power Booster Free

11 kaspersky

ये कुछ बेस्ट मोबाइल एंटीवायरस app हैं. इनकी मदद से मोबाइल सिक्योरिटी को बढ़ाया जा सकता हैं.

इसे भी पढ़े :क्राउड फंडिंग क्या होती है? और कैसे होती है?
इसे भी पढ़े :जानिए भारत की पहली फिल्म राजा हरिश्चंद्र के बारे में

Leave a Comment