भगवान कृष्ण के नीले और काले दर्शाये जाने के पीछे का रहस्य | Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

पौराणिक कथाओं में भगवान कृष्ण का रंग काला और नीला क्यों दिखाया जाता हैं | Mystery Behind blue colour of lord krishna in Hindi

जब भी आप भगवान श्री कृष्ण की मूर्ति या घर में लगे चित्र देखते हैं तो उनके शरीर का रंग नीला और श्याम दिखाया जाता हैं. क्या आप जानते हैं कि श्री कृष्णा के शरीर का रंग नीला व श्याम क्यों हैं. इस नीले रंग का क्या रहस्य हैं. आइये जानते हैं श्री कृष्ण की नीले और श्याम रंग से जुड़े हिन्दू पौराणिक कहानियों के बारे में.

श्री कृष्ण के इस श्याम रंग की अलग-अलग कथाएं प्रचलित हैं.

    1. भगवान विष्णु समुद्र में शेषनाग पर विराजमान हैं और उनका सम्बन्ध पानी से भी हैं इसलिए श्री कृष्ण विष्णु के अवतार हैं इसलिए उनका भी रंग नीला हैं.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. जब श्री कृष्ण ने आम जनमानस की रक्षा के पूतना का वध किया था. पूतना राजा कंस के कहने पर गोकुल के बच्चो को स्तनपान के बहाने विषपान करा रही थी लेकिन श्री कृष्णा पूतना की सच्चाई जान चुके थे और उन्होंने पूतना को मारने के लिए उसका स्तनपान किया था. इसी विष को पीने से श्री कृष्‍ण का रंग नीला पड़ गया था.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. यमुना नदी में एक कालिया नाम का सर्प रहता था. उस कालिया नाग के पांच मुख थे. जिसने अपने विष से पूरी नदी का जल विषैला कर दिया था. कोई भी गांव वाला जब नदी में जाता था तो वह कालिया के विष का शिकार हो जाता था. जब श्री कृष्‍ण ने इस सांप से लड़ाई की तो उस सांप से निकले नीले रंग के विष ने श्री कृष्‍ण के शरीर का रंग पूरा नीला कर दिया था.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. एक मत तो यह भी हैं कि भगवान श्री कृष्ण प्रकृति के रंग को प्रस्तुत करते हैं. यह मनुष्‍य को मन की शांति और स्थिरता का आभास कराता हैं. यह श्याम रंग भगवान श्री कृष्ण के चरित्र की विशालता का प्रतीक हैं इसलिए भगवान श्री कृष्ण का रंग भी श्याम और नीला हैं.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. हिन्दू पौराणिक कथाओं में हर उस व्यक्ति को नीले रंग का दिखाया गया हैं जो बुराई का संहार करते थे.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. भगवान विष्णु ने देवकी के गर्भ में दो बाल स्थापित किये थे. जिनका रंग काला और सफ़ेद था. काले रंग के बाल से श्याम वर्ण के कृष्ण का जन्म हुआ था. जबकि सफेद बाल से बलराम का जन्म हुआ था.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

    1. कृष्ण का संस्कृत भाषा में अर्थ काला या श्याम होता हैं. इसलिए सभी स्थानों पर भगवान श्री कृष्णा को श्याम और नीले रंग का प्रदर्शित किया गया हैं.

Reason Behind Lord Krishna Blue and Black Color

इसे भी पढ़े : कैसे खत्म हुआ श्रीकृष्ण सहित पूरा यदुवंश?

इसे भी पढ़े : क्यों मिली थी श्री कृष्ण के मित्र सुदामा को गरीबी, जानिए!

Leave a Comment

error: Content is protected !!