लवलीना बोरगोहेन (मुक्केबाज) का जीवन परिचय | Lovlina Borgohain Biography in Hindi

मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन का जीवनी (जन्म, करियर, सम्मान) | Welterweight Category (69kg) Boxer Lovlina Borgohain Biography (Birth, Career) in Hindi

लवलीना बोरगोहेन असम की महिला वेल्टरवेट इंडियन मुक्केबाज हैं जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में राष्ट्रमंडल खेलों 2018 में हाल ही में भारत का प्रतिनिधित्व किया था. वह आमतौर पर 69 किलो वेल्टरवेट श्रेणी में भाग लेती है.

बिंदु(Points) जानकारी (Information)
नाम (Name) लवलीना बोरगोहेन
जन्म (Birth Date) 2 अक्टूबर 1997
पिता का नाम (Father Name) टिकेन बोरगोहेन
माता (Mother Name) मामोनी बोरगोहेन
शिक्षा (Education) हाई स्कूल तक
स्कूल का नाम (School Name) बारपाथर गर्ल्स हाई स्कूल
पेशा (Profession) मुक्केबाज
वजन केटेगरी (Weight Category) 69 Kg
डेब्यू (Debut) राष्ट्रमंडल खेल (2018)

लवलीना बोरगोहेन जन्म और प्रारंभिक जीवन (Lovlina Borgohain Birth & Early Life)

लवलीना का जन्म 2 अक्टूबर 1997 को असम के गोलाघाट जिले में हुआ था. उनके पिता का नाम टिकेन हैं. इनके पिता टिकेन एक छोटे व्यवसायी हैं. इनकी माता का नाम मामोनी बोरगोहेन हैं. टिकेन ने अपनी बेटी की महत्वाकांक्षा और सपनों को पूरा करने के लिए बहुत संघर्ष किया. उनकी बड़ी जुड़वां बहने लिचा और लीमा ने भी राष्ट्रीय स्तर पर किकबॉक्सिंग में भाग लिया. लवलीना ने किकबॉक्सर के रूप में भी अपना करियर शुरू किया था लेकिन बाद में मुक्केबाजी में स्विच किया.

जब उसे ऐसा करने का मौका मिला तो लवलीना ने भारतीय खेल प्राधिकरण में अपने विद्यालय बारपाथर गर्ल्स हाई स्कूल में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया, जहां लवलिना ने भाग लिया. इस दौरान प्रसिद्ध कोच पदम बोरो ने लवलीना के हुनर को पहचाना और चुना. कोच पदम् ने वर्ष 2012 में उन्हें प्रशिक्षण देना शुरू किया. बाद में उन्होंने मुख्य महिला कोच शिव सिंह से प्रशिक्षण प्राप्त किया.

Lovlina Borgohain Biography in Hindi

लवलीना बोरगोहेन मुक्केबाजी करियर (Lovlina Borgohain Boxing Career)

लवलीना का करियर का सबसे महतवपूर्ण क्षण तब था जब उन्हें 2018 राष्ट्रमंडल खेलों वेल्टरवेट मुक्केबाजी श्रेणी में भाग लेने के लिए चुना गया था. हालांकि, उनकी घोषणा विवाद का विषय थी जब यह पता चला कि उन्हें उनके चयन के बारे में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है. राष्ट्रमंडल खेलों में लवलीना क्वार्टर फाइनल में ब्रिटेन की सैंडी रयान से हार गई थी.

इससे पहले लवलीना ने वर्ष 2017 में वियतनाम में एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था. और वर्ष 2017 में ही अस्थाना, कजाकिस्तान में आयोजित प्रेसिडेंट कप में कांस्य पदक जीता था. वर्ष 2018 जून में ही मंगोलिया में उलानबातर कप में एक रजत पदक जीता था. सितंबर 2018 में पोलैंड में 13 वीं अंतर्राष्ट्रीय सिलेसियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक अपने नाम किया था.
अभी लवलीना भारत में आयोजित एआईबीए महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व कर रही है.

इसे भी पढ़े :

मित्रों आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट कर अवश्य बताएं. जय हिन्द

Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के कंटेंट हेड और SEO एक्सपर्ट हैं और कभी कभी इतिहास से जुडी जानकारी पर लिखना पसंद करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *