मीराबाई चानू का जीवन परिचय | Mirabai Chanu Biography in Hindi

मीराबाई चानू की जीवनी, खेल करियर, रिकार्ड्स और अवार्ड्स की सूची | weightlifter Mirabai Chanu Biography, Sports Career, Records, Caste and Awards in Hindi

मीराबाई चानू एक भारतीय वेटलिफ्टर है जिन्हें हाल ही में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा खेल रत्न अवॉर्ड द्वारा सम्मानित किया गया है. इसी के साथ मीराबाई उन दो लोगों में शामिल हो गई हैं जिन्हें वर्ष 2018 में देश का सबसे बड़ा खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न अवार्ड दिया गया.

मीराबाई चानू के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी (Important Information about Mirabai Chanu)

बिंदु(Points) जानकारी (Information)
पूरा नाम (Full Name) साइखोम मीराबाई चानू
जन्म (Birth) 8 अगस्त 1994
पिता का नाम (Father Name) साइखोम कृति मैटाई (पीडब्लूडी में अफसर)
माता (Mother Name) साइखोम ओंगबी तोम्बी लीमा (Shopkeeper)
पति (Husband Name) अविवाहित
जन्म स्थान (Birth Place) मणिपुर
जाति (Caste) ज्ञात नहीं
शिक्षा (Education) ग्रेजुएट
कार्यक्षेत्र (Profession) महिला भारोत्तोलक
अवार्ड पद्मश्री, खेलरत्न (2018)

मीराबाई चानू जन्म और प्रारंभिक जीवन (Mirabai Chanu Life History)

मीराबाई चानू का जन्म 8 अगस्त 1994 को मणिपुर के इंफाल से 20 किमी दूर नोंगपोक काकचिंग गांव में हुआ था. मीराबाई अपने 6 भाई बहनों में सबसे छोटी है. इनका परिवार आर्थिक रूप से सक्षम नहीं है. आर्थिक रूप से सक्षम न होने का कारण मीरा बाई को अपने भाई सैखोम सांतोम्बा मीतेई के साथ पहाड़ों पर लकड़ी बीनने के लिए जाना पड़ता था. इस दौरान मीरा बाई की उम्र सिर्फ 12 वर्ष थी. इनकी प्रारंभिक शिक्षा अपने गांव में ही पूरी हुई.

मीराबाई चानू के कोच (Mirabai Chanu Coach)

कुंजारानी देवी मीराबाई की कोच है. कुंजारानी देवी स्वयं एक वेटलिफ्टिंग की खिलाड़ी रहे चुकी है.

मीराबाई चानू करियर और रिकॉर्ड (Mirabai Chanu Career and Records)

मीराबाई चानू ने मात्र 12 साल की उम्र में अंडर15 का खिताब जीत लिया था और 17 साल की उम्र में जूनियर चैंपियन बन गई थी. आर्थिक रूप से सक्षम ना होने के कारण मीराबाई का परिवार लोहे की बार नहीं खरीद सकता था इसलिए उन्होंने बात से ही बार बना कर अपनी ट्रेनिंग को जारी रखा.

  • वर्ष 2014 में मीराबाई ने ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में भी 48 किलोग्राम वर्ग में सिल्वर मेडल जीता था.
  • वर्ष 2016 में मीराबाई रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया था परंतु इस ओलंपिक में इन्हें कोई भी पदक नहीं मिला था.
  • वर्ष 2016 में ही इन्होंने साउथ एशियन गेम्स जो कि गुवाहाटी में आयोजित हुए थे. उसमें उन्होंने गोल्ड मेडल जीता था.
  • वर्ष 2017 में वर्ल्ड वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 48 किलोग्राम वर्ग में मीराबाई ने गोल्ड मेडल हासिल किया था.
  • वर्ष 2018 में चोट के चलते मीराबाई एशियन गेम्स में हिस्सा नहीं ले पाई थी.

मीराबाई अवॉर्ड्स (Mirabai Chanu Awards)

  1. वर्ष 2018 में मीराबाई को भारत सरकार द्वारा पद्मश्री अवार्ड से सम्मानित किया गया.
  2. वर्ष 2018 में ही इन्हें राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा भारत का सर्वोच्च खेल अवॉर्ड राजीव गांधी खेल रत्न प्रदान किया गया है.

Latest Update About Mirabai Chanu

7 फरवरी 2019 : सेखोम मीराबाई चानू ने शानदार प्रदर्शन करते हुए थाईलैंड के चियांग-मे में आयोजित ईजीएटी कप में 48 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक जीता. चानू ने 48 किलोग्राम वर्ग में कुल 192 किलो वजन उठाकर सिल्वर लेवल ओलिंपिक पात्रता स्पर्धा में स्वर्णिम सफलता हासिल की हैं. इस सफलता से उन्हें 2020 में आयोजित होने वाले टोक्यो ओलिंपिक के लिए अतिम रैंकिंग में मदद मिलेगी.

Loading...

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment