प्रियंका गांधी वाड्रा का जीवन परिचय | Priyanka Gandhi Vadra Biography in Hindi

प्रियंका गांधी की जीवनी, परिवार(पति और बेटी) और राजनैतिक सफ़र | Priyanka Gandhi Vadra Biography, Family (Husband and Daughter) and Political Career in Hindi

प्रियंका गांधी एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं और भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन हैं. प्रियंका को बचपन से ही नेताओं के बीच का वातावरण मिला है, नेहरू-गांधी खानदान की एक विरासत जो वह बहुत हद तक सही है. ऐसा कहने के बाद प्रियंका के लिए अपने जीवन में राजनीतिक मार्ग अपनाना स्वाभाविक था. हालांकि, देश के पहले राजनीतिक परिवार से संबंधित होने के बावजूद प्रियंका ने एक राजनीतिज्ञ के रूप में सक्रिय रूप से चुनाव लड़ने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई थी. लेकिन उन्होंने देश के राजनीतिक परिदृश्य से बाहर नहीं रखा. वह अपने लिए सीट हासिल करने से ज्यादा लोगों की सेवा करने में विश्वास रखती है. वह अक्सर कहती है कि वह राजनीति में न होकर लोगों के लिए काम कर सकती है. हालांकि यह ज्यादातर उनकी मां सोनिया गांधी और भाई राहुल गांधी जो पार्टी की सेवा कर रहे हैं, प्रियंका के योगदान को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है. वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस का चेहरा भले ही न थी लेकिन वह इसके पीछे जरूर थी. पार्टी में उनकी भूमिका एक अस्पष्ट अपरिभाषित हो सकती थी लेकिन पार्टी के समग्र प्रदर्शन में उनका योगदान जरूर हैं

प्रियंका एक बेहद जिम्मेदार नागरिक और एक उत्कृष्ट आयोजक हैं. वह राजनीतिक हित के मामलों में अपनी मां के मुख्य सलाहकार की भूमिका भी निभाती हैं. भाषा पर उनकी कमान, उनका आत्मविश्वास, उनका सम्मान और देश के लोगों की लगातार सेवा करने का उसका विश्वास कई महिलाओं के लिए प्रेरणा दे रहा है. हाल ही में 23 जनवरी 2019 को उन्हें कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया हैं जिससे उनका सक्रिय राजनीति में उनका प्रवेश हो गया हैं.

बिंदु (Points) जानकारी (Information)
पूरा नाम (Full Name) प्रियंका गांधी वाड्रा
जन्म तारीख (Birth Date) 12 जनवरी 1972
जन्म स्थान (Birth Place) नई दिल्ली
पेशा (Profession) राजनेता
पति का नाम (Husband Name) रॉबर्ट वाड्रा
बच्चों के नाम (Daughter and Son Name) रेहान (बेटा) और मिराया (बेटी)
शादी की तारीख (Marriage Date) 18 फरवरी 1997
माता का नाम (Mother Name) सोनिया गांधी
पिता का नाम (Father name) राजीव गांधी

बचपन और प्रारंभिक जीवन (Priyanka Gandhi Childhood and Early Life)

प्रियंका गांधी का जन्म 12 जनवरी, 1972 को नई दिल्ली में हुआ. उनके पिता राजीव गांधी, नेहरू-गांधी के वंशज थे और देश के प्रधानमंत्री थे. उनकी मां सोनिया गांधी, एक इटली मूल की भारतीय महिला हैं. जो भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में कार्य कर चुकी हैं. उनके एक बड़े भाई राहुल गांधी हैं, जो संसद सदस्य हैं और कांग्रेस पार्टी के वर्तमान अध्यक्ष हैं.

उन्होंने नई दिल्ली में मॉडर्न स्कूल और कॉन्वेंट ऑफ़ जीसस एंड मैरी से स्कूली शिक्षा प्राप्त की. स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के जीसस एंड मैरी कॉलेज से मनोविज्ञान में स्नातक किया. जिसके बाद उन्होंने वर्ष 2010 बौद्ध धर्म ने स्नाकोत्तर किया हैं.

व्यक्तिगत जीवन और विरासत (Priyanka Gandhi Personal Life)

जब प्रियंका अपनी शुरुआती किशोरावस्था में थीं तब उनकी दोस्ती रॉबर्ट वाड्रा के साथ हुई. रॉबर्ट की बहन मिशेल और प्रियंका सहपाठी थीं. वक्त के साथ दोनों के बीच दोस्ती गहरी होती गई. रॉबर्ट ने राहुल गांधी अच्छे दोस्त भी हैं.

कुछ साल बाद रॉबर्ट ने प्रियंका के सामने शादी का प्रस्ताव रखा और यह दोनों ने 18 फरवरी 1997 को एक पारंपरिक हिंदू समारोह में विवाह के बंधन में बंध गए. वाड्रा दंपति के दो बच्चे बेटा रेहान और बेटी मिराया हैं. प्रियंका के पुत्र रेहान दून स्कूल में पढ़ते हैं, जबकि मिराया वेल्हम गल्र्स स्कूल देहरादून में अध्ययनरत हैं

वह बौद्ध दर्शन की अनुयायी और विपासना की अभ्यासी हैं. प्रियंका एक शौकीन फोटोग्राफर है.

Priyanka Gandhi Vadra Biography in Hindi
प्रियंका गांधी वाड्रा बेटी मिराया और पति रॉबर्ट वाड्रा के साथ

प्रियंका गांधी राजनीतिक करियर (Priyanka Gandhi Political Career)

16 साल की उम्र में, प्रियंका गांधी ने अपना पहला सार्वजनिक भाषण दिया. तब से वह कई राजनीतिक जुलूसों, रैलियों और सम्मेलनों का हिस्सा रही हैं. कम उम्र से ही वह नियमित रूप से अपनी माँ और भाई के विधानसभा क्षेत्रों रायबरेली और अमेठी का दौरा करती रही हैं जहाँ उन्होंने लोगों के साथ सीधा संपर्क और व्यवहार किया है.

जब सोनिया गांधी ने भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष के रूप में पदभार संभाला था, तो उन्होंने पार्टी की छवि को पूरी तरह से बदल दिया था. 2004 के भारतीय आम चुनाव में, सोनिया गांधी ने कांग्रेस पार्टी को जीत के लिए प्रेरित किया.

प्रियंका गांधी ने 2004 के आम चुनाव में सोनिया गांधी के लिए अभियान प्रबंधक के रूप में कार्य किया. उन्होंने अमेठी के निर्वाचन क्षेत्र में अपने भाई राहुल गांधी के अभियान की निगरानी में भी मदद की.

2004 के चुनावों में कांग्रेस पार्टी की जीत के बाद प्रियंका का कद पार्टी में बढ़ता गया. हालांकि वह एक उम्मीदवार के रूप में या प्रचारक के रूप में पार्टी की चुनावी जीत में कोई प्रत्यक्ष भूमिका नहीं निभाती थीं लेकिन वह इसके पीछे थी.

2007 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों में, जब राहुल गांधी अपने राज्यव्यापी अभियान में व्यस्त थे, प्रियंका ने अमेठी रायबरेली क्षेत्र की दस सीटों पर अपनी ऊर्जा और प्रयास केंद्रित किया. उन्होंने सीट आवंटन से अधिक पार्टी कार्यकर्ताओं के भीतर काफी अंतर को दबाने की कोशिश करते हुए वहां दो सप्ताह बिताए.

आम चुनाव 2009 और 2014 में, प्रियंका गांधी ने अमेठी और रायबरेली के निर्वाचन क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर प्रचार किया और अपने भाई और उसकी माँ के लिए जीत हासिल करने में मदद की थी.

23 जनवरी, 2019 को, प्रियंका गांधी ने औपचारिक रूप से राजनीति में प्रवेश किया और उन्हें उत्तर प्रदेश के पूर्वी भाग का प्रभार दिया गया और कांग्रेस पार्टी द्वारा महासचिव नियुक्त किया गया हैं.

इसे भी पढ़े :

Loading...

1 thought on “प्रियंका गांधी वाड्रा का जीवन परिचय | Priyanka Gandhi Vadra Biography in Hindi”

Leave a Comment