कोरोना का टीका लगाने से पहले व बाद किन बातों का ध्यान रखें | Precautions Before and After Taking COVID Vaccine

कोरोना का टीका लगाने से पहले व बाद किन बातों का ध्यान रखें
Precautions Before and After Taking COVID Vaccine

दुनिया भर में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस का कहर जारी है. इस वायरस का पहला मामला 17 नवंबर को चीन में मिला था और आज लगभग मामला सामने आए हुए डेढ़ साल भी पूरा हो गया है. डेढ़ साल में इस वायरस ने इतनी तबाही मचा दी की करोड़ों जाने गई, अनगिनत कंपनियाँ बंद हुई और लाखों की संख्या में लोग सड़क पर आ गए. 

कोरोना का टीका (COVID Vaccine) : संजीवनी बूटी के रूप में 

कोरोना महामारी पर नियंत्रण के लिए दुनिया के कई देशों में टीकाकरण चल रहा है. भारत में चाहे कोविशिल्ड हो या को-वैक्सीन, इस संजीवनी-रूपी टीके ने लाखों-करोड़ों की जाने बचाई है. फिर वो चाहे भारत हो या कोई अन्य देश-विदेश, इस वैक्सीन ने मात्र हमारी जान ही नहीं बचाई, परंतु साथ-ही-साथ हमको सकारात्मकता भी प्रदान की है. उस डरी हुई आबादी को जीने की उम्मीद प्रदान की है. भारतवासियों ने जिस तरह इस टीके पर भरोसा दिखाया वह सराहनीय था. पहले ही दिन 1 लाख से भी ज्यादा लोगों ने इस टीका-अभियान में भाग लिया. 

अब तक प्रधानमंत्री से लेकर छोटे-से-छोटे हर आम आदमी ने इस अभियान में अपना विश्वास दिखाया है. पहले तथा दूसरे खुराक में करोड़ों लोग जुड़ चुके हैं. इस “वैक्सीन” ने मानो कोरोना के जान लेवा असर पर ताला लगा दिया हो. भारत में ६ करोड़ से भी ज्यादा लोगों के लिए यह टीका लाभदायक दिखा जिससे ‘स्वास्थ्य लाभ दर’ 94.32 प्रतिशत पहुँच गया.

यह टीका शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को संक्रमण (वायरस) की पहचान करने के लिए प्रेरित करता है और उनके खिलाफ शरीर में एंटीबॉडी बनाते हैं बाहरी हमले से लड़ने में हमारे शरीर की मदद करती हैं. परंतु ऐसी कुछ बातें हैं जिनका हमें कोरोना का टीका लगाने से पहले ध्यान रखना चाहिए. 

मानसिक रूप से मज़बूत एवं सकारात्मक रहें 

जब तक हम मानसिक रूप से हार ना मान ले हमें कोई नहीं हरा सकता. एक ‘सकारात्मकता’ ही ऐसा साधन है जो हमें फिर से उठने को प्रेरित करता है और जीत की ओर ले जाता है. टीका लगवाते वक्त घबराए नहीं और टीके पर उतना ही विश्वास रखें जितना श्री राम ने लक्ष्मण के मूर्छित होने पर संजीवनी बूटी पर किया था. 

अन्य दवा की एलर्जी जरूर जाँच करवाएँ

यदि आपको दवा से एलर्जी हो या स्वास्थ्य को उचित न लगती हो तो बेहतर यही होगा की टीका लगवाने से पहले किसी डॉक्टर से सलाह ली जाए. 

मधुमेह एवं रक्तचाप के मरीज भी अपने डॉक्टर से पूछकर ही टीका लगवाए.

टीका लगवाने से पहले जाँच करवायें

यदि आपको कोरोना के कोई लक्षण दिखाई दे या लगे तो पहले ‘कोरोना टेस्ट’ करवाएं. जब सभी रिपोर्ट सही हो तभी टीका लगवाएँ.

यह ध्यान रखें की यदि आपका रिपोर्ट ‘पॉजिटिव’ आया हो तो 5 से 6 हफ्ते बाद ही टीका लगवाएँ.

टीका कब लें

इस बात का खास ख्याल रखें की टीका (COVID Vaccine) लगवाने से पहले आपने भरपेट भोजन किया  हो. 

इसी प्रकार की ऐसी कई बातें हैं जिनका हमें कोरोना का टीका लगाने के बाद ख्याल रखना चाहिए. 

घर से बाहर निकले 

यह जरुरी है की प्रथम  खुराक के बाद 4-5 दिनों के लिए घर से बाहर ना निकले. 

ऐसा भी देखा गया है की दोनों खुराक लेने पर बुखार आ जाता है. परंतु इससे घबराए नहीं और मानसिक रूप से सकारात्मक रहें. 

खानेपीने में ध्यान रखें 

अगर आप सिगरेट-शराब पीते हैं तो वैक्सीन लगवाने के बाद कम-से-कम 3-4 दिनों तक इन्हें ना पिये. साथ ही बाहर का तला-भुला एवं फ्रिज का ठंडा खाना कुछ दिनों तक ना खाएं.

हाइड्रेटेडरहें एवं भारी काम ना करें 

टीका(COVID Vaccine) लगवाने के बाद ख्याल रखें की आप ‘हाइड्रेटेड’ हैं तथा साथ में खूब सारे फल एवं सब्ज़ी का भी सेवन करते रहें. और यह अवश्य देखें की आप कुछ दिन भारी-काम अथवा ‘वर्कआउट’ न करे. 

सबसे जरुरी : तय निर्देशों का पालन करें 

भले ही आपने दोनों खुराक क्यों ना लिए हों परंतु तय निर्देशों का पालन अवश्य करें जैसे मास्क पहनना, सैनिटाइजर का उपयोग, दुरी बनाये रखना और बेवजह घर से बाहर ना निकलना. टीका लेने के बाद भी कुछ लोग संक्रमित हो रहें हैं, इसलिए इन चार बातों का खास ख्याल रखें. 

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment

error: Content is protected !!