मृदा संरक्षण विषय पर भाई को पत्र | Letter to Brother on Soil Conservation in Hindi

अपने भाई को मृदा संरक्षण यानी धरती को कैसे बचाए विषय पर पत्र | Letter to Brother on Soil Conservation in Hindi | Bhai Ko Patra Mrada Sanrakshan Par

अधिकतर इस तरह के पत्र बच्चों से स्कूलों में पूछे जाते है, ताकि बचपन से ही बच्चों को जागरूक बनाया जाए. नीचे हम आपको धरती की बचाने यानी मृदा संरक्षण के लिए एक पत्र का उदाहरण दे रहे है. जिसे आप अपने भाई, मित्र या फिर किसी भी रिश्तेदार को लिख सकते है. इस बात से हर कोई वाक़िफ़ है की धरती हमारे लिए कितनी महत्वपूर्ण है. धरती की महत्वता को समझना आने वाली पीढियों के लिए सबसे ज्यादा आवश्यक है, आइए अब हम आपको मृदा संरक्षण के लिए एक पत्र लिखकर आपकी मदद करने की सहायता करते है.

मृदा संरक्षण विषय पर भाई को पत्र (Letter to Brother on Soil Conservation)

पता

शहर

दिनांक

15/12/2018

प्रिय भाई

सप्रेम नमस्ते, 

मुझे आपका स्नेह पूर्ण पत्र मिला. यह जानकर मुझे बहुत ख़ुशी हुई की आप कुशल मंगल हो और पढ़ाई में पूरा ध्यान दे रहे हो. यंहा भी सब स्वस्थ और खुश है और सभी आपको बहुत याद करते है.मुझे भी आपकी बहुत याद आती है. भाई मेरा आपको पत्र लिखने का मुख्य उद्देश्य है – धरती. दरअसल धीरे धीरे हमारी धरती की स्थिति ख़राब होती जा रही है. हम सभी जानते है की धरती कितनी महत्वपूर्ण है हमारे लिए. लेकिन फिर भी हम धरती का ध्यान नही रख रहे है. मुझे अपने स्कूल में कई ऐसी चीजें बताई गई है जिसे में आपको भी बताना चाहती हूँ. धरती हमारी धरोहर है, धरती के माध्यम से ही हमे नदी, वायु, वन और कई अनमोल चीजे मिली है. परन्तु समय के साथ साथ ये सभी प्रभावित होती जा रही है.

वैज्ञानिको का मानना है की आज से कई करोड़ हज़ार वर्ष पूर्व जो हमारे वायुमंडल में ओज़ोन परत है वो हमे सूर्य से निकलने वाली पराबेंग्नी किरणों से सुरक्षित रखती थी लेकिन अब इसका संतुलन बिगड़ रहा है जिसका मुख्य कारण है हानिकारक रसायनों का प्रयोग. ये तत्व ओद्योगिक गतिविधियों, रेफिजरेटर, एयर कंडिशनर जैसे उपकरणों के इस्तमाल से बढ़ रहे है और इस कारण ओजोन परत में छोटे छोटे छिद्र हो रहे है और हम कई नई नई बिमारिया होती जा रही है. 

यदि हम धरती के महत्त्व को नही समझेंगे तो हमारी आने वाली पीढियों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा. जिसके लिए हम अपने घर से ही धरती बचाव की शुरुवात कर सकते है जेसे की घर के आस पास नए पेड़ पोधे लगा कर, जल का सिर्फ जरुरत पड़ने पर इस्तमाल करके जिससे आने वाली पीढ़ी जल संकट से बचे, इसके अलाव हमे अपने साथियों और आस पास के लोगो को भी प्रेरित करना है. जब लोग जागरूक होंगे तो वह धरती के महत्त्व को समझेंगे.

जितने ज्यादा से ज्यादा हम वृक्ष लगाएंगे हमारी धरती भी उतनी ही ज्यादा सुरक्षित रहेगी. हमे शुद्ध हवा मिलेगी और ऑक्सीजन की पृथ्वी पर कमी दूर होगी.

पृथ्वी हमारा घर है हम जितनी इसकी देखभाल करेंगे ये हमे उतना ही सुरक्षित रखेगी. इसका संरक्षण हमारे हाथ में है. यदि हम खुद ही इन चीजों पर ध्यान नही देंगे तो दूसरों को केसे जागरूक बना पाएंगे. इसलिए भाई आप इस पर ज़रुर ध्यान दे और मेरे साथ साथ आप भी सभी को जागरूक बनाए.

माताजी – पिताजी का सादर प्रेम और मेरा मेरा प्यार. आप हमेशा खुश रहे और मन लगा कर पढ़ाई करे.

धन्यवाद

तुम्हारी प्यारी बहन

प्रतिमा

यदि आपको  किसी भी विषय संबंधित पत्र लिखने में कठिनाई हो रही है तो हमे नीचे कमेंट बॉक्स में अपना विषय बता सकते है. हम आपकी सहायता ज़रुर करेंगे. 

Loading...

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment