थाने में FIR दर्ज कराने के लिए पत्र | Application for FIR in Police Station in Hindi

किसी भी थाने में FIR दर्ज कराने के लिए पत्र | Application for FIR in Police Station in Hindi | FIR Darj Karane ke Liye Patra

नमस्कार दोस्तों पुलिस स्टेशन में एफआईआर आप आवेदन पत्र के माध्यम से भी दे सकते हैं. सामान्यतः वैसे तो पुलिस स्टेशन में एफआईआर लिखी जाती हैं. परन्तु आप यदि अपनी रिपोर्ट आवेदन पत्र के माध्यम से करना चाहते हैं तो यह निम्नलिखित आवेदन पत्र बहुत उपयोगी हैं. आप इस आवेदन पत्र का उपयोग शिकायती पत्र के रूप में कर सकते हैं यदि एफआईआर नहीं लिखवाना चाहते हैं.   

FIR के लिए पत्र (Application Letter for FIR in Police Station)

सेवा में,

श्रीमान थाना प्रभारी निरिक्षक महोदय,

(जिस थाने में सूचना देनी उस थाने का नाम व पता)

विषय :-   (सूचना देने का आधार क्या है वह लिखे)

द्वारा :  श्रीमान ( सूचना देने वाला अपना नाम यहाँ लिखे)

महोदय,

निवेदन है कि ………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………………

(ऊपर बताये गए FIR में लिखी जाने वाली बिंदुओ के आधार के अनुसार विवरण दे)

अतः श्रीमान जी से निवेदन है कि इस सन्दर्भ में एफ.आई.आर दर्ज करने की कृपा करे.

धन्यवाद 

भवदीय

(आपके हस्ताक्षर)

(आपका नाम)

(आपका संपर्क पता)

(आपका संपर्क मोबाइल नंबर / फोन नंबर)


पत्र का उदाहरण (Sample Letter)

उपरोक्त बताई गए आवेदन पत्र का एक उदाहरण

सेवा मे,

थाना प्रभारी

पता (स्थानीय पुलिस स्टेशन)

विषय : मेरे मूल _____________ का नुकसान (अपने खोए हुए दस्तावेज़ का नाम और संख्या का उल्लेख करें)

आदरणीय महोदय,

विनम्र निवेदन हैं कि मैं (अपना नाम) बस / ट्रेन / निजी वाहन द्वारा _______ (स्थान) से __________ (स्थान) की यात्रा करते समय मैंने अपने मूल __________ को खो दिया है. (यदि आपके पास अनुमानित क्षेत्र पर नुकसान का कोई विचार या संभावना है, तो आप अपने आवेदन में इसका उल्लेख कर सकते हैं)। महोदय, मेरे उपरोक्त ___________ के किसी भी दुरुपयोग से बचने के लिए मैं आपकी मदद चाहता हूं और आपसे अनुरोध करता हूं कि कृपया विषय-वस्तु में अपना FIR  दर्ज करें.

आपके तैयार संदर्भ के लिए मैं इसके साथ संलग्न हूं

(क) खोए गए ____________ की प्रति

(b) ______________ की प्रति I.D प्रमाण के रूप में।

आशा है आप जल्द से जल्द सहायता प्रदान करेंगे.

धन्यवाद एवं शुभकामनाएँ

भवदीय

(आपके हस्ताक्षर)

(आपका नाम)

(आपका संपर्क पता)

(आपका संपर्क मोबाइल नंबर / फोन नंबर)


नोट: आपको एप्लिकेशन की 3 या उससे अधिक प्रतियां बनानी चाहिए. (पुलिस स्टेशन रिकॉर्ड के लिए 1 फोटोकॉपी , डुप्लिकेट दस्तावेज़ के लिए 1 कॉपी और अपने रिकॉर्ड के लिए 1 कॉपी) कृपया ध्यान रखें कि आपको रिपोर्ट (एफआईआर) की विधिवत हस्ताक्षरित होनी चाहिए पुलिस अधिकारी अपने नाम और पदनाम के साथ, पुलिस स्टेशन का पता.

यदि आपको कोई बार-बार परेशान कर रहा हैं और आपको लगता हैं कि वह आपके साथ कुछ गलत कर सकता हैं. तो आप उपरोक्त आवेदन पत्र को शिकायती पत्र के रूप में दे सकते हैं. हमें उम्मीद हैं यह जानकारी आपके बहुत काम आएगी. यदि आप किसी अन्य आवेदन पत्र सम्बंधित कोई जानकारी चाहते हैं तो हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताये.

इसे भी पढ़े :

5 thoughts on “थाने में FIR दर्ज कराने के लिए पत्र | Application for FIR in Police Station in Hindi”

  1. सेवा में,
    श्री मान थाना अधय्क्ष महोदय धोरैया.
    विषय-घर पर 5 लोग आकर जान से मारने की धमकी,

    Reply
  2. माननीय महोदय जी मे वीरेन्द्र ,मेरे 2भाई और है मै बहुत परेशान हु मेरे पिता जी 2 कमरे बनये थे और 5 साल पहले मेरे पिताजी डेथ कर गये मेरे घर मे मेरी भाभी से और मेरी घरवाली से आपस मे रोज लडई होती थी तो मै अलग हो गया मेरे पास 5 बच्चे है बडा लडका 17 साल का और बाकी13 ,8,6,4 साल का है और मुझे कुश के छत वाला मडहा मिला है और ये 4 साल पुराना है बहुत दिकत है बारीश मे अन्दर पानी गिरता है रात को बच्चे सो नही पा रहे है अभी नया कालोनी मिला है माँ के नाम से मेरे दोनो भाई बनवाया और कह रहे है की तुम्हे नही दूँगा और सर मै किसी से बताना नही चा रहा हु कि बदनमी होगा बताये सर क्या करे मै अपनी जिंदगी से परेशान हो गया हुँ मे वीरेन्द्र गांव-मिश्रिमऊ-जौनपुर कृपा करके मुझे बताये मै क्या करूँ

    Reply
  3. 5 लोग मारने की धमकी दिये औरत 6 गुण्डा रखी है मै राजन प्रजापति थाना sahabganj dist चन्दौली vill भौड़सर की निवासी

    Reply
  4. Mujhe ek ladka 1saal se pareshan kar raha hai meri family or mujhe gaali de rha hai maine uske khilaf FIR bhi kiya hai fir bhi vo ladka nahi maan raha hai usne jaan se marne ki dhamki bhi di hai lehriya saray police station meri apse vinti hai ki ap meri help kare mai darbhnga ki nivashi hu or mai Mumbai me rehti hu

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!