राष्ट्रीय कब्बड्डी टीम में चयन होने पर छोटे भाई को पत्र

राष्ट्रीय कब्बड्डी टीम में चयन होने पर छोटे भाई को पत्र | Letter to younger Brother for selecting in National Kabaddi Team in Hindi

पत्र किसी से भी संचार या आवेदन करने का सबसे अच्छा तरीका हैं. समय के साथ यह तरीका पुराना हो चूका हैं, इसकी जगह आज मोबाइल फ़ोन ने ले ली हैं लेकिन आज भी इसका काफी महत्व हैं. पत्र भी कई प्रकार के होते हैं. आज हम आपको ऐसे ही व्यक्तिगत पत्र बताएँगे. जिसमे एक बड़ा भाई अपने छोटे भाई को राष्ट्रीय कबड्डी टीम में सिलेक्ट होने की बधाई दे रहा हैं.

छोटे भाई को पत्र (Letter to younger Brother)

1081 द्रविड़ नगर,

मानपुर

दिनांक – 17/5/19

प्रिय राहुल,

कल ही तुम्हारा पत्र प्राप्त हुआ. यहाँ सभी प्रसन्न और सकुशल हैं. आशा करता हूँ की तुम भी वहां सकुशल होंगे. मुझे और पूरे परिवार को यह जानकार बड़ी प्रसन्नता हो रही तुम्हारा चयन राष्ट्रीय कब्बड्डी प्रतियोगिता के हो गया हैं. तुम्हारी इस सफ़लता से घर में सभी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. हम सभी आशा करते हैं की तुम उस प्रतियोगिता के लिए तैयारी शुरू कर दी होगी. मैं तुम्हे बताना चाहता हूँ की खेल न सिर्फ हमें शारीरिक रूप से मजबूत बनता हैं बल्कि यह हमारे जीवन में बहुत से नैतिक गुणों का सृजन करता हैं. आधुनिक युग में शिक्षा और खेल एक दुसरे के पर्याय हैं. दोनों एक ही सिक्के के दो पहलु हैं. एक के बिना की दुसरे कल्पना करना असंभव हैं. आज कल सभी विद्यालयों में खेल खेल में शिक्षा प्रदान करने का चलन हैं. हम सभी आशा करते हैं अपने खेल के इस अच्छे प्रदर्शन को तरह अपनी पढाई में भी अच्छा प्रदर्शन करोंगे. हम सभी की तरफ से  तुम्हें बहुत सारा स्नेह शुभकामनाएं और आशीर्वाद.

पत्र का उत्तर शीघ्र देना.

तुम्हारा अग्रज

नरेन्द्र

यदि आप किसी विषय पर पत्र ढूँढ रहे हैं तो हमें बताये, हम आपकी मदद करने की कोशिश करेंगे. संपर्क करने के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स का प्रयोग कर सकते हैं.

इसे भी पढ़े :

2 thoughts on “राष्ट्रीय कब्बड्डी टीम में चयन होने पर छोटे भाई को पत्र”

  1. नाशिक से अपने परिसर के उद्यान की दुर्दशा की और ध्यान आकर्षित करते हुए आयुक्त महानगर परिषद नाशिक को पत्र लिखिए अर्चीता भोसले

    Reply
  2. अर्चीता भोसले 54f शांतीनगर नासिक से अपने परिसर के उद्यान की दुर्दशा की और ध्यान आकर्षित करते हुए आयुक्त महानगर परिषद नाशिक को पत्र लिखती है

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!