कर्ज माफ़ी योजना (मध्यप्रदेश) की आवेदन प्रक्रिया | Farm Loan Waiver Scheme (MP) in Hindi

मध्यप्रदेश किसानों के लिए कर्ज माफ़ी के आवेदन प्रक्रिया, पात्रता और इससे जुडी अन्य जानकारियां | Farm Loan Waiver Scheme (MP), Apply Process and Eligibility in Hindi

मध्यप्रदेश राज्य में 15 साल बाद नई सरकार आने के साथ-साथ ही नई योजनाओं का भी क्रियान्वन शुरू हो गया हैं. मध्यप्रदेश राज्य में 15 साल बाद कांग्रेस पार्टी का शासन आया हैं और 2018 में किये गए अपने वादे के अनुसार कांग्रेस में सरकार बनाने के कुछ घंटों बाद ही कर्ज माफ़ी का आधिकारिक ऐलान कर दिया.

मध्यप्रदेश में कर्ज माफ़ी का ऐलान माननीय मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा 17 दिसंबर को शपथ ग्रहण के कुछ घंटों बाद ही ले लिया गया. जिसमे कमल नाथ ने किसानों के कर्ज माफ़ी वाले दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर किये गए. इस योजना का क्रियान्वन किस प्रकार किया जायेगा इस पर सरकार की और से लिखित दस्तावेज़ नहीं दिया गया हैं. हालांकि इस योजना में कौन-कौन पात्र होगा उसकी जानकारी थोड़ी बाहर आ चुकी हैं.

बिंदु(Points) जानकारी (Information)
योजना का नाम (Scheme Name) कर्ज माफ़ी योजना (आधिकारिक नहीं)
योजना का ऐलान 17 दिसंबर 2018
योजना क्षेत्र मध्यप्रदेश
योजना उद्देश्य किसानों का कर्जा माफ़ करना
कर्जा माफ़ी की सीमा 2 लाख

मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना के फायदा (Farm Loan Waiver Scheme Benefits)

मध्यप्रदेश एक कृषि आधारित राज्य हैं. यहाँ की आधे से ज्यादा आबादी कृषि से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जुड़ी हुई हैं. मध्यप्रदेश राज्य में लगभग 33 लाख से भी ज्यादा ऐसे किसान हैं जिन पर कुछ कर्जा हैं. इस योजना के आने के किसानों को फायदा मिलेगा. सरकार के कुछ अधिकारीयों के अनुसार कर्ज माफ़ी के जरिये सरकार 2 लाख तक का कर्जा माफ़ कर देगी. 2 लाख आधिकारिक आँकड़ा नहीं हैं. किसानों का ज्यादा से ज्यादा कितना कर्ज माफ़ किया जा सकेगा इसकी जानकारी अभी पुख्ता नहीं हैं.

मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना की पात्रता (Farm Loan Waiver Scheme Eligibility Criteria)

यह एक सरकारी योजना हैं और केवल किसानों के हितों के लिए बनाई गयी हैं इसी कारण इस योजना का कुछ दुरुपयोग ना हो इसके लिए सरकार की और से पात्रता की कुछ शर्ते रखी जाएगी. पात्रता पूरी होने पर ही कर्ज माफ़ी की प्रक्रिया को आगे बढाया जा सकेगा.

  1. मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना का फायदा मध्यप्रदेश राज्य के मूल निवासी को ही मिलेगा. इस योजना में किसी भी अन्य राज्य के किसानों को शामिल नहीं किया जायेगा.
  2. इस योजना में केवल किसानों के उस ही कर्ज को माफ़ किया जाएगा जो उन्होंने खेती के ऊपर लिया हैं. ट्रेकटर, पंप जैसे निजी खर्चे इस योजना के अंतर्गत नहीं आयेगे.
  3. कर्ज माफ़ी ले लिए किसान के पास बैंक से जुड़ी आवश्यक जानकारियां होना आवश्यक हैं और बैंक से 31 मार्च 2018 से पहले लिया गया ही कर्ज माफ़ किया जायेगा.

मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना की सूची (List of Farm Loan Waiver Scheme)

इस योजना में सरकार की और से एक सूची बनाकर बैंकों में जमा की जाएगी. इस सूची में सभी लाभार्थियों के नाम शामिल होंगे. यह सूची कब जारी की जायेंगी यह कुछ ही दिनों में साफ़ हो जायेगा.

मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना की प्रक्रिया (Farm Loan Waiver Scheme Process)

इस योजना की प्रक्रिया ऑनलाइन होगी या ऑफलाइन होगी या फिर आयुष्मान योजना की तरह ऑटोमेटिक. यह अभी तक साफ़ नहीं हैं. सरकार की और से कोई भी ऐलान होने के बाद हम जल्द से जल्द जानकारी अपडेट करने की कोशिश करेंगे.

मध्यप्रदेश कर्ज माफ़ी योजना की चुनौतियाँ (Farm Loan Waiver Scheme Challenges)

कांग्रेस पार्टी की और से चुनावी मुद्दे में कर्ज माफ़ी का ऐलान करना एक बड़ा कदम था. इसके फायदे के साथ-साथ नुकसान भी काफी हैं. कर्ज माफ़ी के बाद मध्यप्रदेश सरकार के खजाने पर 60 हजार करोड़ का भार पड़ेगा. जिसके बाद इसका असर राज्य की आर्थिक स्थिति पर पड़ेगा.

Loading...

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment