चीनी वस्तुओं के विरोध में इंदौर शहर में बनी 21 किलोमीटर लम्बी मानव श्रृंखला: विडियो देखे

चीनी वस्तुओं के विरोध में पुरे देश में एक लहर सी चल उठी है. फेसबुक व व्हात्सप के माध्यम से घर-घर तक यह बात पहुँच चुकी है कि चीन किस प्रकार से भारत के साथ साजिश रच रहा है. चीन पाकिस्तान का सहयोगी राष्ट्र बन कर सामने आया है जो समय-समय पर पाकिस्तान को आर्थिक मदद और हथियार मुहैया करवाता है. जो अंततः पाकिस्तान द्वारा भारत को क्षति पहुंचाने के लिए ही प्रयोग किये जाते है.

चीनी वस्तुएं भारत की आम जनता को आकर्षित करने में कामयाब रही है क्योंकि चीनी वस्तुओं का दाम भारतीय वस्तुओं के दाम से काफ़ी कम होता है, और चीनी वस्तुएं दिखने में काफी आकर्षित होती है. फलस्वरूप भारत में इन वस्तुओं की बिक्री अत्यधिक बढ़ चुकी है.

लेकिन समय व परिस्थितियों को देखते हुए हमें चीनी वस्तुओं का विरोध और बहिष्कार करना ही होगी चीन की हरकतों को रोकने का यह सबसे सहज व सरल उपाय है. विरोध और बहिष्कार की इस कड़ी में इंदौर शहर में 21 किलोमीटर लम्बी मानव श्रृंखला बनायीं गयी जिसमे शहर भर के संगठनों व आम जन ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई. ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार, बाज़ार में चीनी सामान की बिक्री में 30-40 प्रतिशत की गिरावट आई है. चीन के इरादों को पस्त करने का इससे अच्छा तरीका और कोई नहीं हो सकता.

इंदौर शहर में बनी 21 किलोमीटर की मानव श्रृंखला का यह विडियो अवश्य देखें

error: Content is protected !!