अभिनव बिंद्रा का जीवन परिचय | Abhinav Bindra Biography in Hindi

भारतीय ओलिंपिक पदक विजेता अभिनव बिंद्रा की जीवनी, करियर, शिक्षा और सम्मान | Abhinav Bindra Biography, Career, Education and Awards in Hindi

अभिनव बिंद्रा एक प्रसिद्ध भारतीय शूटर हैं जिन्होंने 2008 बीजिंग ओलंपिक खेलों में 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण जीतकर भारत को वैश्विक शूटिंग मानचित्र पर रखा था. वह व्यक्तिगत ओलंपिक स्वर्ण जीतने वाले पहले भारतीय हैं. एक पंजाबी सिख परिवार में पैदा हुए, बिंद्रा ने शुरुआती उम्र से शूटिंग में रुचि दिखाई और अपनी रुचि को प्रोत्साहित करने के लिए, उनके माता-पिता के द्वारा पंजाब के पटियाला में अपने घर पर एक इनडोर शूटिंग रेंज स्थापित की गई थी.

अभिनव ने 1998 के राष्ट्रमंडल खेलों में 15 साल की उम्र में भारत का प्रतिनिधित्व किया और इस खेल में सबसे कम उम्र के प्रतिभागी थे. उन्होंने 2001 म्यूनिख विश्व कप में कांस्य पदक 597/600 के स्कोर जूनियर विश्व रिकॉर्ड बनाकर सबका ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया. उसके बाद, उसने कभी पीछे नहीं देखा और उसका करियर ग्राफ ऊपर और ऊपर चला गया. ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने के अलावा, उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में राष्ट्रमंडल खेलों में कई पदक जीते हैं और उन्होंने विश्व शूटिंग चैम्पियनशिप भी जीती है. बिंद्रा का मुख्य योगदान यह हैं कि उन्होंने कई उभरते निशानेबाजों को खेलने के लिए प्रेरित किया.

बिंदु(Points) जानकारी (Information)
नाम (Name) अभिनव बिंद्रा
जन्म (Birth Date) 28 सितंबर 1982
जन्म स्थान (Birth Place) देहरादून
पिता का नाम (Father Name) अर्पित बिंद्रा
पेशा (Profession) शूटर
राष्ट्रीय पुरुस्कार (National Awards) पद्म भूषण, राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड
पत्नी का नाम (Wife Name) रितु कुमारी
प्रसिद्धि कारण (Reason for Famous) भारत को पहला व्यक्तिगत गोल्ड दिलाया

अभिनव बिंद्रा जन्म और शिक्षा (Abhinav Bindra Birth and Early Life)

अभिनव बिंद्रा का जन्म 28 सितंबर 1982 को देहरादून में हुआ था. इनके पिता का नाम अर्पित बिंद्रा हैं. वह एक व्यवसायी हैं. इनकी माता का नाम बब्बी बिंद्रा हैं. इन्होंने देहरादून में स्थित कुलीन डॉन स्कूल में प्रारंभिक शिक्षा प्राप्त की लेकिन बाद में चंडीगढ़, पंजाब में स्थित सेंट स्टीफन स्कूल में चले गए. वर्ष 2000 में, उन्होंने अपनी हाईस्कूल की शिक्षा पूरी की. उन्होंने कोलोराडो विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन स्नातक की उपाधि प्राप्त की.

अभिनव को शुरुआती उम्र से शूटिंग में रुचि थी और उनकी रुचि का समर्थन करने के लिए उनके माता-पिता को पंजाब के पटियाला में अपने घर पर एक शूटिंग रेंज स्थापित की. बिंद्रा को शुरुआत में डॉ अमित भट्टाचार्य और बाद में लेफ्टिनेंट कर्नल ढिल्लों द्वारा प्रशिक्षित मिला.

अभिनव बिंद्रा करियर (Abhinav Bindra Career)

वर्ष 1998 में, 15 साल की उम्र में, अभिनव बिंद्रा ने कुआलालंपुर में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भाग लिया. वह खेल में सबसे कम उम्र के प्रतिभागी थे.

वर्ष 2000 में अभिनव बिंद्रा सिडनी ओलंपिक के लिए भारतीय टीम का हिस्सा थे. हालांकि, यह यह प्रतियोगिता उनके लिए निराशाजनक साबित हुई क्योंकि वह क्वालीफाइंग दौर से आगे नहीं जा सके थे.

वर्ष 2001 में म्यूनिख विश्व कप में अपने बेहतरीन से प्रदर्शन उन्होंने 597/600 अंक के साथ जूनियर विश्व स्कोर में कांस्य पदक जीता. इस वर्ष में विभिन्न अंतरराष्ट्रीय मैचों में छह स्वर्ण पदक जीते थे.

मैनचेस्टर में आयोजित 2002 राष्ट्रमंडल खेलों में अभिनव बिंद्रा ने 10 मीटर एयर राइफल पेअर में स्वर्ण पदक और 10 मीटर एयर राइफल एकल में चांदी का पदक अपने नाम किया था.

2004 एथेंस ओलंपिक में, उनका प्रदर्शन इतना ख़ास नहीं था परन्तु इन्होने अंतिम आठ में जगह बनाई थी.

2006 में, उन्होंने क्रोएशिया के ज़ाग्रेब में आयोजित 2006 आईएसएसएफ वर्ल्ड शूटिंग चैंपियनशिप में स्वर्ण जीता जब उन्होंने इतिहास बनाया. बिंद्रा इस उपलब्धि को हासिल करने वाले पहले भारतीय बने. उसी साल मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेलों में, बिंद्रा ने क्रमशः 10 मीटर एयर राइफल (जोड़े) और 10 मीटर एयर राइफल (एकल) में स्वर्ण और कांस्य पदक जीता था.

बीजिंग में 2008 के ओलंपिक में बिंद्रा का बेहतरीन प्रदर्शन से पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता और उनकी स्वर्ण पदक जीत ने ओलंपिक में भारत के लिए 28 साल के स्वर्ण पदक के सूखे को समाप्त कर दिया.

2010 में नई दिल्ली में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में, बिंद्रा ने 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में गगन नारंग के साथ साझेदारी (जोड़े) में स्वर्ण पदक जीता और 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा
एकल प्रतियोगिता ने रजत पदक पदक जीता था.

बिंद्रा 2012 लंदन ओलंपिक के लिए अर्हता प्राप्त नहीं कर सके थे लेकिन ग्लासगो में आयोजित 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में, वह अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया जहाँ उन्होंने 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता था.

अभिनव बिंद्रा पुरस्कार (Abhinav Bindra Awards)

  • वह ओलंपिक खेलों में व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय हैं.
  • वर्ष 2000 में अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था और 2001 में भारत के उच्चतम खेल राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड सम्मानित किया गया.
  • 2009 में, बिंद्रा को भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया गया.

इसे भी पढ़े :

Shashank Sharma

Shashank Sharma

शशांक दिल से देशी वेबसाइट के कंटेंट हेड और SEO एक्सपर्ट हैं और कभी कभी इतिहास से जुडी जानकारी पर लिखना पसंद करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *