मयंक अग्रवाल जीवन का परिचय और उनसे जुड़ी खास बातें | Mayank Agarwal Biography Age, Birth, Height in Hindi

मयंक अग्रवाल जीवन परिचय और उनसे जुड़ी खास बातें | Mayank Agarwal Biography Age, Birth, Height in Hindi

आज यदि भारतीय क्रिकेट की बात की जाए तो हमेशा हमारे मन में बड़े-बड़े नाम सामने आते है और जिस तरह आज भारतीय क्रिकेट टीम प्रदर्शन कर रही है उससे तो यही लगता है इन बड़े नामों की लिस्ट और भी लम्बी होने जा रही है. इस बात को सभी जानते है की कोई बड़ा खिलाड़ी ऐसे ही नही बनता उसे भी कही न कही से शुरुआत करनी होती है और उसके बाद ये अपने खेल में इतने माहिर हो जाते है की इनका नाम इतिहास के पन्नों में हमेशा के लिए लिख दिया जाता है.

हम आपको ऐसे ही एक प्रभावशाली क्रिकेटर के बारे में बता रहे है जिसने अपने बचपन में ही कई रिकॉर्ड अपने नाम कर लिए थे. जी हां दोस्तों मयंक अग्रवाल, मयंक अग्रवाल आज एक अंतराष्ट्रीय खिलाड़ी है जो इंडियन क्रिकेट टीम के लिए दाएँ हाथ के बल्लेबाज़ के तौर पर खेलते है.

मयंक अग्रवाल का जन्म, शिक्षा और शुरुआती जीवन (Mayank Agarwal Birth, Parents & Early Life)

मयंक अग्रवाल का जन्म 16 अप्रैल 1991 में कर्नाटक राज्य के बैंगलोर शहर में हुआ था. मयंक अग्रवाल का पूरा नाम मयंक अनुराग अग्रवाल है और इन्हें प्यार से माया कहकर भी पुकारा जाता है. मयंक के पिताजी का नाम अनुराग अग्रवाल और माता का नाम सुचित्रा सिंह है. इनके दादा जी का नाम रवीन्द्र अग्रवाल है.

मयंक ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा बैंगलोर के बिशप कॉटन बॉयज़ स्कूल से पूरी की. उसके बाद जैन विश्वविद्यालय अपनी आगे की शिक्षा प्राप्त की. मयंक अग्रवाल के दादा के भाई सुशील अग्रवाल ने बताते है कि मयंक को बचपन से ही क्रिकेट का शौक था पर कई बार मयंक को मायूसी हाथ लगी लेकिन उसने कभी हार नहीं मानी और खुद को साबित करके दिखाया. मयंक कहते था, “मैं अपने बलबूते कामयाब होउंगा, बस मेरा समय आने दो.” वे बताते है कि जब भी मयंक सहारनपुर आता था तो बच्चों के साथ क्रिकेट खेलता था. सहारनपुर से मयंक को बहुत लगाव है.

मयंक को क्रिकेट के आलावा म्यूजिक और डांस का भी काफी शौक है. मयंक हमेशा से पढ़ाई में एक सामान्य स्टूडेंट रहे है. क्रिकेट को समय देने के कारण वे अपनी पढ़ाई पर ज्यादा फोकस नहीं कर पाते थे लेकिन उनका व्यवहार हमेशा पॉजिटिव रहा है.

मयंक अग्रवाल की शादी (Mayank Agarwal Marriage)

मयंक अग्रवाल ने जून 2018 को अपनी बचपन की दोस्त और प्यार से शादी की जिनका नाम आशिता सूद है.

मयंक अग्रवाल का प्रथम श्रेणी क्रिकेट (First Class Cricket Career Of Mayank Agarwal)

मयंक प्रथम श्रेणी क्रिकेट कर्नाटक टीम के लिए खेलते है और वह टीम के एक सलामी बल्लेबाज है. 2008-09 में उन्हें कूचबिहार ट्रॉफी के लिए अंडर -19 टीम और आईसीसी क्रिकेट विश्व कप (अंडर -19) के लिए चुना गया था. विश्व कप में वह भारतीय अंडर -19 क्रिकेट टीम से शीर्ष स्कोरर थे. 2010 में केपीएल (कर्नाटक प्रीमियर लीग) के लिए मैन ऑफ द सीरीज़ पुरस्कार के लिए उनके नाम की घोषणा की गई थी. इसके अलावा उन्होंने उस टूर्नामेंट में भी शतक बनाया था.

2017-18 के रणजी सत्र में, उन्होंने नवंबर 2017 को महाराष्ट्र के खिलाफ 304 रन बनाए. यह क्रिकेट में उनके प्रथम श्रेणी करियर का पहला तिहरा शतक था. हालांकि यह प्रथम श्रेणी भारतीय क्रिकेट के इतिहास में 50वां तिहरा शतक था. उन्होंने 2017-2018 के रणजी सत्र में 1160 रन बनाकर शानदार क्रिकेट का प्रदर्शन किया और इसके साथ ही वह सीजन के अग्रणी रन स्कोरर बन गए.

वर्ष 2015 में, उन्होंने दक्षिण अफ्रीका-ए की टीम के खिलाफ खेला. उन्होंने मनीष पांडे के साथ मिलकर 203 रन की पार्टनरशिप बनाई जिसकी वजह से टीम ने 372 रनों का लक्ष्य रखा जिस तक दक्षिण अफ्रीका-ए टीम नहीं पहुँच पाई.

मयंक अग्रवाल का आईपीएल करियर (Mayank Agarwal’s IPL Career)

2011 के आईपीएल सीजन में उन्हें RCB ने खरीदा था. मुंबई इंडियंस के गेंदबाजों की आक्रमणकारी गेंदबाजी के खिलाफ उन्होंने 41 रन बनाए. मयंक को IPL के 10 वें सीजन के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब द्वारा 2018 आईपीएल नीलामी में खरीदा गया था. वह 2017-18 के सीज़न की विजय हजारे ट्रॉफी में अग्रणी रन-गेनर रहे थे.उस टूर्नामेंट में उनका बल्ला सभी मैदानों पर छाया रहा और उन्होंने 8 मैचों में 723 रन बनाए.

बीसीसीआई ने उन्हें रणजी ट्रॉफी में सर्वोच्च रन-स्कोरर बनने के लिए माधवराव सिंधिया पुरस्कार से सम्मानित किया.

मयंक अग्रवाल का इंटरनेशनल करियर (Mayank Agarwal’s International Career)

सितंबर 2018 में मयंक को वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की होने वाली श्रृंखला के लिए भारत की टेस्ट टीम में चयनित किया गया था लेकिन उन्हें टीम में जगह नहीं मिली. दिसंबर 2018 में पृथ्वी शॉ को चोट के कारण सीरीज से बाहर हो जाने पर मयंक को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत की होने वाली श्रृंखला के लिए भारत की टेस्ट टीम में चयन किया गया था. उन्होंने 26 दिसंबर 2018 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया, जो मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर अपनी पहली पारी में 76 रन बनाए.

1947 में सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) में दत्तू फडकर द्वारा स्थापित 51 रनों के पिछले रिकॉर्ड को पार करते हुए, ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट डेब्यू पर एक भारतीय क्रिकेटर द्वारा यह सर्वोच्च स्कोर था. उन्होंने चौथा टेस्ट भी खेला और 195 रन के साथ श्रृंखला पूरी की.

वर्तमान में मयंक अग्रवाल IPL में किंग्स इलेवन पंजाब के सदस्य है। वर्तमान समय में भारतीय टेस्ट टीम में ओपनिंग पोजीशान के लिए काफी प्रतिस्पर्धा चल रही है, तो वह मिले हुए मौकों पर अच्छा प्रदर्शन करके भारतीय टेस्ट टीम में सलामी बल्लेबाज के तौर पर अपनी जगह जरूर पक्की करना चाहेंगे.

मयंक अग्रवाल की खास बातें (Interesting Facts About Mayank Agarwal)

  • मयंक सचिन तेंदुलकर के बहुत बड़े फैन है और उन्हें अपना रोल मॉडल भी मानते है इसी वजह से उन्होंने अपने घर में सचिन की मूर्ति लगाई और एक बार स्वीकार किया कि उनकी वजह से उन्होंने क्रिकेट खेलना शुरू किया.
  • उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में 76 रन की पारी खेली. इसके अलावा वह दिसंबर 2018 को ऑस्ट्रेलियाई मैदान पर पदार्पण टेस्ट में सबसे अधिक रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए.
  • 2017-18 रणजी ट्रॉफी में उन्होंने कर्नाटक के लिए महाराष्ट्र के खिलाफ 304 बल्लेबाजी की.
  • वह रणजी ट्रॉफी 2017-18 में शीर्ष बल्लेबाज़ थे और 1160 रन बनाकर सत्र का समापन किया.
  • वह 2017- 18 विजय हजारे ट्रॉफी में शीर्ष स्कोर बल्लेबाज़ थे. आठ मैचों में उन्होंने 723 रन बनाए.
  • उन्होंने 26 दिसंबर 2018 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत के लिए अपना टेस्ट डेब्यू किया.

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment