रोहित सरदाना (टीवी एंकर) का जीवन परिचय | Rohit Sardana Biography in Hindi

रोहित सरदाना (टीवी एंकर) का जीवन परिचय, मृत्यु, मृत्यु का कारण, परिवार (पत्नी, पिता और बच्चे) और करियर | Rohit Sardana Biography, Daughter’s Name, Family (Father, Wife, Children), Death, Death Cause Career in Hindi

रोहित सरदाना एक प्रसिद्ध भारतीय पत्रकार, एंकर, स्तंभकार, संपादक हैं. भारत के हरियाणा में जन्मे, रोहित हिंदू धर्म का पालन करते हैं. उन्होंने अपनी शिक्षा गुरु जम्भेश्वर विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से पूरी की. उन्होंने समाज के बीच अविश्वास और मुद्दों को दूर करने के लिए कई बहस की मेजबानी की है.

रोहित का जन्म 22 सिंतंबर को कुरुक्षेत्र, हरियाणा में हुआ था. रोहित ने वहीँ से अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी की. स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद अपनी आगे की पढ़ाई के लिए वह हिसार चले गए और उन्होंने गुरु जम्बेश्वर विश्वविद्यालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी में दाखिला लिया. उन्होंने वहां से मनोविज्ञान में स्नातक(BA) की डिग्री हासिल की है, और उसी यूनिवर्सिटी से मास कम्युनिकेशन में मास्टर्स (MA) की डिग्री हासिल की है.

बिंदु(Points)जानकारी (Information)
नाम (Name)रोहित सरदाना
पेशा (Profession)टीवी एंकर
जन्म दिनांक (Date of Birth)22 सितंबर 1981
पत्नी का नाम (Wife Name)प्रमिला दीक्षित
पिता का नाम (Father Name)ज्ञात नहीं
माता का नाम (Mother Name)ज्ञात नहीं
बेटियों का नाम (Daughter’s Name)मिट्ठू और काशी
मूल निवास स्थान (Home Town)कुरुक्षेत्र, हरियाणा
शिक्षा (Education)गुरु जम्बेश्वर विश्वविद्यालय विज्ञान और प्रौद्योगिकी, हिसार से मास कम्युनिकेशन
उम्र (Age)40 वर्ष (2021 तक)
धर्म (Religion)हिन्दू
मृत्यु (Death)30 अप्रैल 2021

उनके परिवार के बारे में बात करने पर पता चलता है कि उनका एक भाई है जो कंप्यूटर साइंस इंजीनियर है. रोहित सरदाना वर्तमान में शादीशुदा हैं और उनकी दो बेटियां भी हैं. एक इंटरव्यू में, रोहित सरदाना ने बताया कि उन्होंने नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में भी दाखिला लिया था क्योंकि वह हमेशा से अभिनेता बनना चाहते थे लेकिन दुर्भाग्य से, उन्हें एनएसडी से बाहर होना पड़ा क्योंकि वहां पर कुछ हासिल नही हो पा रहा था. यही समय था जब उन्होंने पत्रकार बनने का फैसला किया.

रोहित सरदाना का करियर (Rohit Sardana Career)

रोहित सरदाना ने स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के कुछ साल बाद अपना करियर शुरू किया. वह एक हरियाणवी परिवार में बड़े हुए थे, इसलिए उन्हें अंग्रेजी और हिंदी पर कमान हासिल करने में समय लगा. हालांकि, बाद के चरण में भाषा ही उनकी ताकत बन गई.

बचपन से रोहित का सपना था चाहे जो हो मुझे टीवी पर आना है, इसीलिए उन्होंने पत्रकारिता में करियर बनाने का सोचा. शुरुआत में रोहित कुछ अखबारों के लिए भी लिखते थे, और यही वजह रही उनके टीचर ने उन्हें पढ़ाई के साथ काम करने के लिए भी कहा. रोहित ने फिर कुछ इंटरव्यू दिए और उनकी रेडिओ स्टेशन में नौकरी लग गई. रोहित पढाई के साथ ही नौकरी भी करने लगे. वहीँ से उनके काम को देखते हुए, सिटी केबल ने भी एक शो रोहित को दे दिया. कुछ डेढ़ साल रोहित ने इसी तरह काम किया.

जब रोहित को लगा इतने से काम नहीं चलेगा कुछ और बड़ा करना पड़ेगा, तब रोहित दिल्ली आ गये. वहां रोहित को इ-टीवी नेटवर्क के साथ इंटर्न के रूप में काम करने का मौका मिला. फिर इ-टीवी ने ही उन्हें जॉब ऑफर की, और फिर रोहित ने उनके साथ एक पत्रकार के रूप में काम करना शुरू कर दिया. वहां से रोहित का बाद में ट्रान्सफर हेदराबाद हो गया. वहां रोहित ने महीने टीवी-एंकर का ऑडिशन दिया पर कुछ सफल नही हो पाए.

रोहित सरदाना का टीवी-एंकर का सफ़र (Rohit Sardana as a Tv Anchor)

फिर रोहित ने 5 महीने VT एडिटर की ट्रेनिंग की और वही का करना शुरू कर दिया.कुछ समय बाद गुजरात में चुनाव हुए उसके चलते रोहित ने अपने काम से सभी को चकित कर दिया. इसी हुनर को देखते हुए रोहित को टीवी पर एंकरिंग करने का मौका मिला, और वहीँ से शुरू हुआ रोहित का एक टीवी एंकर के रूप में करियर.

2004 में, सहारा के लिए उन्हें सहायक निर्माता के रूप में काम करने का मौका मिला और ज़ी न्यूज़ में कार्यकारी संपादक के रूप में शामिल होने से पहले उन्होंने सहारा में दो साल तक काम किया. वर्तमान में, वह एक शो कर रहे है जहाँ वह संसद सदस्यों के लिए एक रिपोर्ट कार्ड बनाते है जिसमें उनके विधान में उनके काम का सारा विवरण होता है. इसके अलावा, उनके शो मतदाताओं को अपना नेता तय करने में मदद करते हैं.

ज़ी न्यूज़ में एक डिबेट शो “ताल-ठोक” के किया करते थे, जिसमे वे समकालीन और सामाजिक मुद्दों पर चर्चा करते थे. इस शौ से उन्होंने काफी नाम कमाया. 2017 में, उन्होंने ज़ी न्यूज़ को छोड़, आजतक में ज्वाइन कर लिया और अब वे डिबेट शो दंगल की मेजबानी करते हैं.

रोहित सरदाना को कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है और उन पुरस्कारों में संसुई बेस्ट न्यूज़ प्रोग्राम अवार्ड, माधव ज्योति सम्मान और सर्वश्रेष्ठ समाचार एंकर अवार्ड शामिल हैं जो दिल्ली एजुकेशन सोसाइटी द्वारा प्रायोजित किया गया था.

रोहित सरदाना को मिले कुछ चुनिन्दा अवार्ड (Rohit Sardana Awards)

  • संसुई बेस्ट न्यूज़ प्रोग्राम अवार्ड.
  • माधव ज्योति सम्मान.
  • सर्वश्रेष्ठ समाचार एंकर अवार्ड.

रोहित सरदाना का वेतन (Rohit Sardana Net Worth or Salary)

रोहित, जो ज्यादातर अपनी पत्रकारिता के लिए जाने जाते हैं, का अनुमान है कि उनकी कुल संपत्ति लगभग एक मिलियन है. वह एक अलग शो और होस्टिंग कार्यक्रमों से अच्छी मोटी कमाई करते है. रोहित सरदाना को लग्जरी आइटमों का ज्यादा शौक नहीं है, लेकिन फिर भी कुछ चुनिन्दा लग्जरी कार के मालिक हैं. इसके अलावा, उनकी संपत्ति भारत में कई जगह फैली हुई है.

मृत्यु का कारण (Death Cause)

रोहित सरदाना आज तक के लिए काम कर रहे थे. कुछ दिनों से वे अस्पताल में कोरोना संक्रमित होने के कारण भर्ती थे. इसी दौरान हृदयगति रुकने के कारण उनकी मृत्यु हो गयी. 30 अप्रेल 2021 को सुबह जब उन्हें अटैक आया उसके बाद डॉक्टर उन्हें वेंटीलेटर पर भी ले गए. लेकिन डॉक्टर उन्हें नहीं बचा सके.

रोहित सरदाना संपर्क (Rohit Sardana Contact)

इसे भी पढ़े :

11 thoughts on “रोहित सरदाना (टीवी एंकर) का जीवन परिचय | Rohit Sardana Biography in Hindi”

  1. मैं जानता हूं श्रीमान जी यह सड़क विभाग के लिए
    मुझे आप तक इसलिए कहना पड़ जा रहा है हमारे सभी गांव के निवासियों का कहना है सड़क की राशि प्राप्त हो चुकी है पंचायत की सन दो हजार अट्ठारह लेकिन अभी तक हमारे यहां पर सड़क नहीं बनी है जिसमें श्रीमान जी हमारे गांव के विद्यार्थी और कभी हॉस्पिटल जाना कभी बाजार जाना या कभी अन्य जगह जाना रास्ता ही तरह से बेहाल है कि कोई प्रसाद के अलावा भी नहीं जा सकता गांव में ग्राम पंचायत में कई बार बोला भी गया लेकिन वह कहते रहे बनेगी बनेगी अभी तक नहीं सड़क नहीं बन पाई
    हमारे गांव के सभी लोगों का कहना है पंचायत में राशि प्राप्त हो चुकी है
    🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
    Name – Rama Shankar Shivhare
    Mo. – 8802930181
    जिला छतरपुर मध्य प्रदेश
    तहसील लवकुशनगर
    ग्राम पंचायत पुरवा बमोरी
    ग्राम सिद्धपुर
    https://youtu.be/MtQxKNAJ0ss

    Reply
    • आपकी परेशानी चिंता जनक है, पर आपको इसकी शिकायत अपने राज्य के मुख्यमंत्री से करना चाहिए. हम यहाँ सिर्फ जानकारी देते है. आप रोहित सरदाना जी या आपके मुख्यमंत्री जी से ट्विटर के माध्यम से जुड़ सकते है.

      Reply
  2. Shri Rohit Sardana ji ki maut ne mujhe andar tak hila diya. Bhagwaan se unake parivaar ko is apurniy kshati ko sahan karane ki shakti dene ki prarthna karata hun. Bhagwaan unaki aatma ko shanti den.

    Reply
  3. विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। प्रभु श्री राम आपको आपने चरणों में स्थान दे
    आप का जाना राष्ट्र के लिऐ छती है ।

    Reply
  4. सरदाना जी का असमय जाना अपूर्णीय छति है । भगवान उनके आत्मा को शांति प्रदान करें ।

    Reply
  5. विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं प्रभु श्री राम आपको अपने चरणों में स्थान दें आप का जाना राष्ट्रीय के लिए। छाती है

    Reply
  6. Shri Rohit Sardana ji ki maut ne mujhe andar tak hila diya. Bhagwaan se unake parivaar ko is apurniy kshati ko sahan karane ki shakti dene ki prarthna karata hun. Bhagwaan unaki aatma ko shanti den.

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!