थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी | Thomas Edison Biography In Hindi

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी
Thomas Edison Biography, Age, Wiki, Story, Bio, Inventions, Family, Facts, Education In Hindi

थॉमस अल्वा एडिसन समय के सबसे प्रसिद्ध और विपुल आविष्कारक में से एक है जिन्होंने आधुनिक जीवन पर जबरदस्त प्रभाव डाला कई आविष्कारों का योगदान दिया जैसे की विद्युत बल्ब, फोनोग्राफ, चलचित्र कैमरा, साथ ही तारयन्त्र (टेलीग्राफ) और टेलीफोन में सुधार. उन्होंने ही पहली औद्योगिक अनुसंधान प्रयोगशाला की स्थापना की. थॉमस एडिसन का पालन-पोषण अमेरिकी मिडवेस्ट में हुआ था; अपने करियर की शुरुआत में उन्होंने एक तारयन्त्र प्रचालक के रूप में काम किया जिसने उनके कुछ शुरुआती आविष्कारों को प्रेरित किया.

Thomas Edison Biography In Hindi

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी | Thomas Edison Biography In Hindi

बिंदु (Points)जानकारी (Information)
नाम (Name)थॉमस अल्वा एडिसन
जन्म (Date of Birth)11 फरवरी, 1847
आयु 84 वर्ष
जन्म स्थान (Birth Place)मिलन, ओहायो, यूनाइटेड स्टेट(US)
पिता का नाम (Father Name)सैमुअल ओग्डेन एडिसन
माता का नाम (Mother Name)नैन्सी मैथ्यूज इलियट
पत्नी का नाम (Wife Name)मीना मिलर, मैरी स्टिलवेल
पेशा (Occupation )अमिरीकी वैज्ञानिक
शिक्षा (Education)कोई शिक्षा प्राप्त नहीं
बच्चे (Children)6
मृत्यु (Death)18 अक्टूबर 1931
मृत्यु स्थान (Death Place)वेस्ट ऑरेंज, न्यू जर्सी, यू.एस
भाई-बहन (Siblings)6
अवार्ड (Award) विशिष्ट सेवा पदक

1876 ​​​​में उन्होंने न्यू जर्सी के मेनलो पार्क में अपनी पहली प्रयोगशाला सुविधा की स्थापना की जहां उनके कई शुरुआती आविष्कार विकसित किए गए. बाद में उन्होंने व्यवसायियों ‘हेनरी फोर्ड’ और ‘हार्वे एस. फायरस्टोन’ के सहयोग से फोर्ट मायर्स, फ्लोरिडा में एक वनस्पति प्रयोगशाला की स्थापना की, और वेस्ट ऑरेंज, न्यू जर्सी में एक प्रयोगशाला की स्थापना की जिसमें दुनिया का पहला फिल्म स्टूडियो “ब्लैक मारिया” दिखाया गया था. 18 अक्टूबर 1931 में मधुमेह की जटिलताओं से उनकी मृत्यु हो गई.

प्रारंभिक जीवन | Thomas Edison Early Life

थॉमस अल्वा एडिसन का जन्म 1847 में ओहियो के मिलान के कनाल शहर में हुआ था और वह सात बच्चों में अंतिम थे. उनकी माँ नैन्सी एक स्कूल शिक्षिका थीं और उनके पिता सैमुअल एक कैनेडियन राजनीतिक फायरब्रांड (तेजतर्रार) थे जिन्हें उनके देश से निर्वासित किया गया था.

एडिसन ने कुछ समय के लिए स्कूल में पढ़ाई की लेकिन मुख्य रूप से उनकी माँ और उनके पिता के पुस्तकालय में घर पर ही शिक्षा प्राप्त की. एक बच्चे के रूप में वह प्रौद्योगिकी से मोहित हो गया और घर पर प्रयोगों पर काम करने में घंटों बिताते थे.

एडिसन को 12 साल की उम्र में सुनने की समस्या हो गई थी. जैसे-जैसे वह बड़ा होता गये एडिसन का मानना ​​​​था कि उनकी सुनवाई हानि ने उसे व्याकुलता से बचने और अपने काम पर अधिक आसानी से ध्यान केंद्रित करने की अनुमति दी.

पूर्व जीविका | Thomas Edison Story In Hindi

थॉमस एडिसन ने पोर्ट ह्यूरन से डेट्रॉइट तक चलने वाली ट्रेनों में कैंडी समाचार पत्र और सब्जियां बेचकर अपना करियर शुरू किया था. तीन साल के जिमी मैकेंजी को एक भागती हुई ट्रेन की चपेट में. आने से बचाने के बाद वह एक टेलीग्राफ प्रचालक बन गया. जिमी के पिता माउंट क्लेमेंस, मिशिगन के स्टेशन एजेंट जे. यू मैकेंज़ी इतने आभारी थे कि उन्होंने एडिसन को एक टेलीग्राफ प्रचालक के रूप में प्रशिक्षित किया. उन्होंने गुणात्मक विश्लेषण का भी अध्ययन किया और नौकरी छोड़ने तक ट्रेन में रासायनिक प्रयोग भी किए.

एडिसन ने सड़क पर समाचार पत्र बेचने का विशेष अधिकार प्राप्त किया और चार सहायकों की सहायता से उन्होंने टाइप किया और ग्रैंड ट्रंक हेराल्ड मुद्रित किया जिसे उन्होंने अपने अन्य कागजात के साथ बेचा. अंततः उनकी उद्यमिता जनरल इलेक्ट्रिक सहित कुछ 14 कंपनियों के गठन के लिए केंद्रीय थी जो अभी भी दुनिया की सबसे बड़ी सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनियों में से एक है.

1866 में 19 साल की उम्र में एडिसन लुइसविले केंटकी चले गए जहां वेस्टर्न यूनियन के एक कर्मचारी के रूप में उन्होंने एसोसिएटेड (संबंधी) प्रेस ब्यूरो न्यूज वायर में काम किया.

उनका पहला पेटेंट इलेक्ट्रिक वोट रिकॉर्डर, यू.एस. पेटेंट 90,646 के लिए था जिसे 1 जून 1869 को प्रदान किया गया था. फिर एडिसन ने एक मल्टीप्लेक्स टेलीग्राफिक सिस्टम विकसित करना शुरू किया जो 1874 में एक साथ दो संदेश भेज सकता था.

एडिसन को पहले व्यावसायिक रूप से उपलब्ध फ्लोरोस्कोप के डिजाइन और उत्पादन का श्रेय दिया जाता है एक मशीन जो रेडियोग्राफ लेने के लिए एक्स-रे का उपयोग करती है. उसके बाद एडिसन ने एक अत्यधिक संवेदनशील उपकरण का आविष्कार किया जिसे उन्होंने टैसीमीटर नाम दिया जो अवरक्त विकिरण को मापता है.

1870 के दशक के अंत में एडिसन दिलचस्पी लेने लगे और खनन में शामिल हो गए. अपनी खनन कंपनी एडिसन ओर मिलिंग कंपनी की विफलता के बावजूद एडिसन ने सीमेंट के उत्पादन के लिए कुछ सामग्रियों और उपकरणों का उपयोग किया. इन सबके अलावा उन्होंने और भी कई आविष्कार किए हैं.

सम्मान और पुरस्कार | Awards & Achievement

  • तीसरे फ्रांसीसी गणराज्य के राष्ट्रपति, जूल्स ग्रेवी, अपने विदेश मंत्री, जूल्स बार्थेलेमी-सेंट-हिलायर की सिफारिश पर, और डाक मंत्री की प्रस्तुतियों के साथ एडिसन को 10 नवंबर, 1881 को डिक्री द्वारा लीजन ऑफ ऑनर (लीजन डी’होनूर) के एक अधिकारी के रूप में नामित किया गया और 1879 में सेना में शेवेलियर और 1889 में कमांडर भी नामित किया गया था.
  • 1887 में थॉमस एडिसन ने मट्टूची पदक जीता. 1890 में उन्हें रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेज का सदस्य चुना गया.
  • फिलाडेल्फिया सिटी काउंसिल ने एडिसन को 1889 में जॉन स्कॉट पदक के प्राप्तकर्ता का नाम दिया.
  • 1899 में एडिसन को द फ्रैंकलिन इंस्टीट्यूट के एडवर्ड लॉन्गस्ट्रेथ मेडल से सम्मानित किया गया. 1904 में लुइसियाना खरीद प्रदर्शनी विश्व मेले में उन्हें एक माननीय परामर्श अभियंता नामित किया गया था.
  • 1908 में एडिसन ने अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ इंजीनियरिंग सोसाइटीज जॉन फ्रिट्ज मेडल भी प्राप्त किया.
  • 1915 में एडिसन को उद्योगों की नींव और मानव जाति की भलाई में योगदान देने वाली खोजों के लिए फ्रैंकलिन इंस्टीट्यूट के फ्रैंकलिन मेडल से सम्मानित किया गया था.
  • 1920 में संयुक्त राज्य अमेरिका के नौसेना विभाग ने उन्हें नौसेना के विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित भी किया. 1927 में उन्हें नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज में सदस्यता प्रदान की गई.
  • 29 मई, 1928 को एडिसन ने कांग्रेस का उन्होंने स्वर्ण पदक प्राप्त किया.
  • 2008 में एडिसन को न्यू जर्सी हॉल ऑफ फ़ेम में शामिल किया गया था.
  • 2010 में एडिसन को तकनीकी ग्रैमी पुरस्कार तथा 2011 में एडिसन को एंटरप्रेन्योर वॉक ऑफ फ़ेम में शामिल किया गया और फ्लोरिडा के गवर्नर और कैबिनेट द्वारा एक ग्रेट फ्लोरिडियन नामित किया गया.

इसे भी पढ़े :

Leave a Comment

error: Content is protected !!