आर्थिक सहायता हेतु आवेदन पत्र | letter for Financial Help in Hindi

आर्थिक सहयोग हेतु प्रधानाध्यापक को पत्र | Write an Application to the Principal for Financial Help | Arthik sahayata ke liye Principal ko Prarthna Patra

सहायता पत्र आप किसी भी विषय पर बहुत आसानी से लिख सकते है, ये पत्र आप शिकायत हेतु, आर्थिक सहयोग हेतु, विषय परिवर्तन में सहायता हेतु, पुलिस से किसी प्रकार की सहायता हेतु आदि जैसे कई विषयों पर लिख सकते है. आज हम आपको आर्थिक सहायता हेतु पत्र कैसे लिखा जाता है. आशा है ये पत्र आपकी सहायता ज़रुर करेगा. आप स्कूल में अपने प्रधानाध्यापक से अपनी फीस माफ़ी के लिए आवेदन कैसे कर सकते है, जिससे स्कूल आपका सहयोग कर सके, आइए देखते है.

आर्थिक सहयोग हेतु आवेदन पत्र (Financial Help Letter)

प्रति,
श्रीमान प्रधानाध्यापक महोदय,
अपने स्कूल का नाम
स्कूल का पता

विषय- आर्थिक सहयोग हेतु आवेदन पत्र

महोदय,

विनम्र निवेदन है की मेरा नाम दर्शन अग्रवाल है, मैं आपके विद्यालय का कक्षा 9 वीं का छात्र हूँ. मैं एक बहुत ही गरीब परिवार से हूँ, मेरी परिस्थिति अभी बिल्कुल भी ठीक नहीं है. मेरे पिताजी एक मज़दूर है, वह हमारे परिवार में सिर्फ एक है, जो धन कमाते है, पर अभी मेरे पिताजी बहुत कम धन जुटा पा रहे है और मेरी माताजी का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है.  हमारे घर का गुजारा बड़ी ही कठिनाई से चल रहा है ऐसी परिस्थिति में मेरा स्कूल की फीस भर पाना बहुत ही मुश्किल है. मैंने पिछले साल इसी विद्यालय में कक्षा 8वी में सबसे अच्छे अंक प्राप्त किये थे. मेरी पढ़ाई में सबसे ज्यादा रूचि है. अतः मेरी आपसे यही विनती है कि आप मेरी इस साल की फ़ीस माफ़ करने की कृपा करे. जिससे मैं अपनी आगे की पढ़ाई बिना किसी रुकावट के पूर्ण कर सकूँ. मैं इस सहयोग के लिए आपका सदैव आभारी रहूँगा.

धन्यवाद

आपका आज्ञाकारी छात्र
दर्शन अग्रवाल
कक्षा- 9वीं
दिनांक- 3/09/2019

धन्यवाद आपको यह पत्र कैसा लगा? हमें कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं. और यदि आप किसी अन्य विषय पर भी पत्र चाहते है तो हमें इसकी जानकारी कमेंट बॉक्स में दे अथवा आप हमें [email protected] पर भी भेज सकते है.

इसे भी पढ़े:

2 thoughts on “आर्थिक सहायता हेतु आवेदन पत्र | letter for Financial Help in Hindi”

  1. Sir good night
    Manniya cm g ko mera pranam
    Sir me ardhik tangi se grst ho karj hai mere sath kai ghatana ho gaye lekin madad nahi mili
    Mere ghar me aag lag gaye
    Wife jalkar dono ankhein ho gaye vekar hatho se bhi nahi hota kary
    Ghar se bhi ho gaye chori
    5Bachche bhi mar gaye
    Ab nabalig vachcho ko khana banakar majduri karne jata hu
    Me aarthik Roop se paresan hu
    Ho sake to aarthik madad dene ki kripa kare
    Aapka sevak
    Khemchand Agrawal
    Shergarh mathura up
    281404 mob,9897861883

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!