एयर मार्शल आर.के.एस भदौरिया है अब नए वायु सेना प्रमुख | Air Marshal Rakesh Kumar Singh Bhadauria named new chief of Indian Air Force

सरकार ने घोषित किया एयर मार्शल आर.के.एस भदौरिया को वायु सेना का नया प्रमुख | Who is Air Marshal Rakesh Kumar Singh Bhadauria | Air Marshal Rakesh Kumar Singh Bhadauria kon hai

एयर मार्शल आर.के.एस भदौरिया (Air Marshal Rakesh Kumar Singh Bhadauria) को भारतीय वायु सेना का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है.इनका पूरा नाम राकेश कुमार सिंह भदौरिया है. वह आगरा के पास एक बहुत छोटे गाँव कोरथ से हैं. यह निर्णय गुरूवार को लिया गया है. जिसमे अब वायुसेना के उपप्रमुख एयर मार्शल आर.के एस भदौरिया वायुसेना के नए प्रमुख होंगे. इनसे पहले वायुसेना के प्रमुख बीएस धनोआ थे. जिनका स्थान भदौरिया जी ने लिया है. वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ 30 सितंबर को रिटायर होने जा रहे हैं और मोदी सरकार ने यह घोषणा की अब नए वायुसेना प्रमुख होंगे भदौरिया.

एयर मार्शल आर.के.एस भदौरिया को भारतीय वायु सेना का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है.इनका पूरा नाम राकेश कुमार सिंह भदौरिया है. वह आगरा के पास एक बहुत छोटे गाँव कोरथ से हैं. यह निर्णय गुरूवार को लिया गया है. जिसमे अब वायुसेना के उपप्रमुख एयर मार्शल आर.के एस भदौरिया वायुसेना के नए प्रमुख होंगे. इनसे पहले वायुसेना के प्रमुख बीएस धनोआ थे. जिनका स्थान भदौरिया जी ने लिया है. वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ 30 सितंबर को रिटायर होने जा रहे हैं और मोदी सरकार ने यह घोषणा की अब नए वायुसेना प्रमुख होंगे भदौरिया.

रक्षा मंत्रालय के मुख्य प्रवक्ता ने ट्विटर पर कहा- “मोदी सरकार ने एयर मार्शल आर.के. को वर्तमान में वायुसेना उप प्रमुख को अगला वायुसेना प्रमुख नियुक्त करने का फैसला लिया है”’ 

भदौरिया जी ने मई में ही वायुसेना का उपप्रमुख का पद ग्रहण किया था. उन्होंने 4250 घंटे से भी अधिक उड़ान भरी है और लगभग 26 प्रकार के लड़ाकू विमानों का अनुभव लिया है. वह सबसे बेहतरीन पायलेटो में से एक है. इसके अलावा वह राफेल विमान टीम के चेयरमैन भी रहे है और 2016 से 2017 तक IAF के उप प्रमुख भी रह चुके है. उन्होंने दो IAF कमांडों का नेतृत्व किया- तिरुवनंतपुरम में दक्षिणी और बैंगलोर में प्रशिक्षण.

इतना ही नहीं आर.के.एस भदौरिया सिर्फ एक पायलेट ही नहीं है बल्कि पायलट अटैक इंस्ट्रक्टर भी हैं. भदौरिया जी ने स्वदेशी तेजस लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) कार्यक्रम में भी प्रमुख भूमिका निभाई है. यह वही विमान है जिसमे हाल ही में राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु में उड़ान भरी थी. भारत देश में ऐसा करने वाले वह पहले रक्षा मंत्री है.

एयर मार्शल राकेश सिंह भदौरिया ने जगुआर स्क्वाड्रन की कमान भी संभाली है इन पदों के अलावा भी एयरक्राफ्ट एंड सिस्टम टेस्टिंग एस्टैब्लिशमेंट में फ्लाइट टेस्ट स्क्वाड्रन के कमांडिंग ऑफिसर थे.

पुरूस्कार-

एयर मार्शल आर.के.एस भदौरिया जी को वायु सेना पदक (वीएसएम), परम विशिष्ट सेवा पदक (पीवीएसएम) और अति विशिष्ट सेवा पद (एवीएसएम) से भी सम्मानित किया जा चुका है.इसके अलावा उन्हें “स्वॉर्ड ऑफ ऑनर” से भी विभूषित किया जा चुका है.

शिक्षा-

एयर मार्शल भदौरिया पीवीएसएम (PVSM), एवीएसएम(AVSM), वीएम(VDM) और एडीसी(ADC) के छात्र रह चुके है. राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के पूर्व छात्र हैं. इसके साथ ही उन्होंने बांग्लादेश के कमान और स्टाफ कॉलेज से रक्षा अध्ययन (Masters in Defence studies) में परास्नातक किया है.

व्यक्तिगत जीवन-

सीमित जानकारियों के अनुसार उनकी शादी आशा भदौरिया से हुई है और उनके दो बच्चे हैं. 

यह लेख आपको कैसा लेगा, सीमित जानकारियों का संकलन कर यह लेख तैयार किया गया है यदि आप आर.के.एस भदौरिया के बारे में और अधिक जानते है तो हमें कमेंट बॉक्स में बताएं या हमें [email protected] ईमेल पर संपर्क करें. 

इसे भी पढ़े:

Loading...

Leave a Comment